संजीवनी टुडे

गन्‍ना किसानों का चीनी मिलों पर 2400 करोड़ रुपये है बकाया: सरकार

संजीवनी टुडे 25-02-2020 14:46:14

गन्‍ना किसानों का चीनी मिलों पर पिछले दो सत्रों का 2,400 करोड़ रुपये बकाया है।


नई दिल्‍ली। गन्‍ना किसानों का चीनी मिलों पर पिछले दो सत्रों का 2,400 करोड़ रुपये बकाया है। खाद्य एवं उपभोक्ता मंत्रालय के एक सीनियर अधिकारी ने मंगलवार बताया कि लगातार दो चीनी सत्रों 2017-18 और 2018-19 में अधिशेष चीनी उत्पादन की वजह से चीनी की कीमतों में गिरावट का रुख है, जिससे चीनी मिलों की नकदी की स्थिति प्रभावित हुई है। 

अधिकारी ने कहा कि पिछले महीने तक चीनी मिलों ने 2018-19 (अक्टूबर-सितंबर) के चीनी सत्र का 84,700 करोड़ रुपये और 2017-18 का 84,900 करोड़ रुपये चुकाया था। इसके बावजूद चीनी मिलों पर 2018-19 के चीनी सत्र का 2,300 करोड़ रुपये और 2017-18 का 100 करोड़ रुपये का बकाया  है। उन्‍होंने कहा कि गन्ना किसानों का को भुगतान एक सतत प्रक्रिया है। साथ ही अधिकारी ने कहा कि चीनी मिलों को फरवरी, 2020 तक 2018-19 के  लिए 87,000 करोड़ रुपये और 2017-18 सत्र के लिए 85,000 करोड़ रुपये   के बकाये का भुगतान करना है। 

अधिकारी ने कहा कि देश की चीनी मिलों की नकदी की स्थिति को सुधारने और उन्हें गन्ना बकाया चुकाने में मदद करने के लिए सरकार ने 2017-18 और 2018-19 के चीनी सत्र में कई उपाय किए हैं। उन्‍होंने बताया कि अभी तक विभिन्न सहायता योजनाओं के तहत चीनी मिलों को 1,574 करोड़ रुपये प्रदान किए गए हैं। 

उल्‍लेखनीय है क‍ि गन्ना (नियंत्रण) आदेश 1966 के अंतगर्त चीनी मिलों को गन्‍ना किसानों को गन्ने की आपूर्ति के 14 दिन के अंदर गन्ने का मूल्‍य का भुगतान करना होता है। यदि चीनी मिलें ऐसा करने में विफल रहती है तो उन्हें विलंब से भुगतान पर 15 फीसदी की वार्षिक दर पर ब्याज भी देना पड़ता है। 

यह खबर भी पढ़ें:​ बीए तृतीय वर्ष की छात्रा ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा...

यह खबर भी पढ़ें:​ LG W10 ALPHA स्मार्टफोन भारत में हुआ लॉन्च, कीमत जानकर होंगे खुश

जयपुर में प्लॉट मात्र 289/- प्रति sq. Feet में  बुक करें 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From business

Trending Now
Recommended