संजीवनी टुडे

श्नाइडर इलेक्ट्रिक की तेल, गैस और पेट्रो रसायन के लिए माइक्रोसाफ्ट से साझेदारी

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 11-09-2019 16:50:48

श्नाइडर इलेक्ट्रिक तेल, गैस और पेट्रो रसायन उद्योग को अधिक सक्षम, लाभप्रद तथा टिकाऊ बनाने में मदद के लिए माइक्रोसाफ्ट के साथ साझेदारी


नई दिल्ली। श्नाइडर इलेक्ट्रिक तेल, गैस और पेट्रो रसायन उद्योग को अधिक सक्षम, लाभप्रद तथा टिकाऊ बनाने में मदद के लिए माइक्रोसाफ्ट के साथ साझेदारी और विशेषकर इस क्षेत्र के लिए इंकोस्ट्रक्चर पावर ऐंड प्रोसेस लांच करने की घोषणा की है।

कंपनी के इंडिया जोन के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक अनिल चौधरी ने बुधवार को बताया कि सरकार के इस क्षेत्र को आत्मनिर्भर बनाने के लिए किए जा रहे प्रयास में इकोस्ट्रकचर बहुत प्रभावी साबित होगा।

यह खबर भी पढ़ें: सहपाठी का फोन चोरी करते पकड़े जाने पर छात्रा ने उठाया ऐसा कदम...

चौधरी ने बताया कि ऊर्जा प्रबंधन और स्वचालन के क्षेत्रों में वाणिज्यिक इंटरनेट आफ थिंग्स (आईओटी) समाधानों को तैयार करने के लिए माइक्रोसाफ्ट के साथ समझाैता किया गया है जिससे विद्युत और प्रक्रिया प्रणालियों को एक साथ लाया जा सकेगा। उन्होंने बताया कि माइक्रोसाफ्ट के साथ साझेदारी कैपेक्स और ओपेक्स में 20-20 प्रतिशत की कमी लाकर तेल और गैस क्षेत्र में बाजार तरलता की चुनौतियों से निपटना है।

उन्होंने कहा, “बाजार.स्थल परिवर्तन और तकनीकी प्रगतियां विद्युत तथा प्रक्रिया प्रणालियों को हासिल करने योग्य, वाजिब लागत वाले लक्ष्य को पाने सक्षम साबित हो रही है जो कि एक समय में मुश्किल काम हुआ करता था। देश का हाइड्रोकार्बन क्षेत्र महत्वपूर्ण परिवर्तन के मुहाने पर खड़ा है, क्योंकि मूल्य ऋंखला में शामिल कंपनियां तेल और गैस क्षेत्र में देश को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में प्रयास कर रही हैं। परिशोधन क्षमताओं का विस्तार और देश भर में आपूर्ति के लिए पाइपलाइन ढांचा तैयार कर रही हैं।”

चौधरी ने कहा,“ माइक्रोसाफ्ट के साथ श्नाइडर की साझेदारी में हमारा लक्ष्य तेल और गैस कंपिनयों के लिए वास्तविक, ठोस समाधान तथा स्पष्ट व्यावसायिक परिणाम प्रदान, क्षमता में वृद्धि , परिचालन की लागत को कम करना और लाभदेयता में बढ़ोतरी करना है।”

यह खबर भी पढ़ें: तिहाड़ में बंद चिदंबरम को अर्थव्यवस्था की चिंता, मोदी सरकार से पूछा- कहां है योजना?

माइक्रोसाफ्ट इंडिया के मुख्य परिचालन अधिकारी मीतुल पटेल ने दोनों कंपिनयों के बीच साझेदारी पर कहा,“ तेल और गैस क्षेत्र में परिचालन काफी इधर-उधर फैला हुआ है जिसकी वजह से परिसंपत्तियों का कुशलतापूर्वक प्रबंधन अत्यंत चुनौतीपूर्ण कार्य है। कंपनी का एज्योर प्लेटफार्म, श्नाइडर इलेक्ट्रिक को उन्नत क्लाउड और उत्कृष्ट कंप्यूटिंग तकनीक उपलब्ध करायेगा जिससे ऐसे आईओटी उपकरणों का इंटेलिजेंट नेटवर्क स्थापित किया जा सकेगा जिससे अंतदृष्ट्रियां बढ़ेंगी नये समाधानों को ढूंढने और निवेश से होने वाली आय बढ़ाने में मददगार साबित होगा।”

श्नाइडर इलेक्ट्रानिक आवास, भवन, डेंटा केन्द्र, बुनियादी ढांचा और उद्योगों के लिए ऊर्जा प्रबंधन और स्वचालन के डिजिटल परिवर्तन की अग्रणी कंपनी है। कंपनी ऊर्जा, स्वचालन और साफ्टवेयर के संयोजन से एकीकृत दक्षता समाधान उपलब्ध कराती है।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From business

Trending Now
Recommended