संजीवनी टुडे

PNB घोटाला: नीरव मोदी के 44 करोड़ के बैंक डिपॉजिट-शेयर किए जब्त

संजीवनी टुडे 23-02-2018 13:25:44

Source: Google

नई दिल्ली। 114 अरब का महाघोटाला करने के बाद पीएनबी ने आरोपी डायमंड कारोबारी नीरव मोदी से लोन की रकम चुकाने के लिए कंक्रीट प्लान पूछा है। नीरव के जरिए पहले लिखे गए पत्र का जवाब देते हुए बैंक ने कहा कि उसकी तरफ से कभी भी लेटर ऑफ अंडरटेकिंग जारी नहीं किए गए हैं। 

ये भी देंखें वीडियो : बीजेपी के इस सांसद ने स्कूल में शौचालय की अपने हाथो से की सफाई 

gfg

अधिकारियों ने बताया कि पीएमएलए के तहत उन्होंने बैंक खातों और शेयरों के लेन-देन पर रोक लगा दी है। बैंक खातों में 30 करोड़ हैं, जबकि शेयरों की कीमत 13.86 करोड़ है।

नीरव ने लिखा था कि बैंक ने खराब की इमेज
नीरव ने इससे पहले बैंक को पत्र लिखकर कहा था कि घोटाले को उजागर करके उसकी इमेज खराब कर दी है। ऐसी हालत में लोन का पैसा वापस नहीं कर सकेगा। 15/16 फरवरी को लिखी अपनी चिट्ठी के बाद नीरव ने फिर एक ऐसी बात कह दी है जिससे घोटाले का पेंच और उलझ गया है। 11,400 करोड़ के देश के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले को अंजाम देने वाला अरबपति ज्वेलरी डिजाइनर नीरव अब सीना जोरी पर उतर आया है।

यह भी पढ़े: VIDEO : ओमान में पीएम मोदी, यूएई में बनेगा 55 हजार वर्गमीटर भूमि पर हिंदू मंदिर

gfg

ईडी और अन्य एजेंसियां मोदी, उसके मामा एवं गीतांजलि जेम्स के प्रोमोटर मेहुल चोकसी के खिलाफ जांच कर रही हैं। दरअसल, पीएनबी की शिकायत के बाद मामला सामने आया था कि उन्होंने बैंक के कुछ कर्मियों के साथ मिलकर कथित रूप से राष्ट्रीयकृत बैंक से 11,400 करोड़ की धोखाधड़ी की थी।

MUST WATCH

नीरव का कहना है कि उसकी कंपनियों पर 5000 करोड़ से भी कम की राशि बकाया है। आगे उन्होंने लिखा कि मीडिया में उसके बकाये के बढ़ा चढ़ाकर कर पेश करने का परिणाम तलाशी और जब्ती की कार्रवाई के रूप में सामने आई है। इससे फायरस्टार इंटरनेशनल और फायरस्टार डायमंड इंटरनेशनल की साख पर गहरा असर पड़ा।

Rochak News Web

More From business

Trending Now
Recommended