संजीवनी टुडे

ओपेक और रूस के बीच कच्चे तेल के उत्पादन में एक करोड़ बैरल प्रतिदिन की कटौती पर सहमति

संजीवनी टुडे 10-04-2020 13:21:43

ओपेक देशों और रूस के बीच गुरुवार को एक समझौते के अनुसार कच्चे तेल के उत्पादन में एक करोड़ बैरल प्रतिदिन की कटौती की जाएगी।


लॉस एंजेल्स। ओपेक देशों और रूस के बीच गुरुवार को एक समझौते के अनुसार कच्चे तेल के उत्पादन में एक करोड़ बैरल प्रतिदिन की कटौती की जाएगी। यह कटौती कोरोनावायरस के फलस्वरूप  तेल की माँग में कमी के कारण की जा रही है। यह कटौती मई माह से की जाएगी। इस कटौती के बावजूद ऊर्जा क्षेत्र में निवेशक ख़ुश नहीं हैं। इस कटौती के बावजूद डब्ल्यू टी आई तेल में सात प्रतिशत की कमी हुई और तेल 23.28 डालर प्रति बैरल पर आ गया। भारत, चीन और अमेरिका कच्चे तेल के बड़े उपभोक्ता देश हैं।  

ओपेक देशों और उनके सहयोगी देशों की रूस के साथ वीडियो काँफ़्रेंस के ज़रिए हुई बातचीत के आधार पर ये देश ग्लोबल उत्पादन में दस प्रतिशत की कटौती करने पर तैयार हो गए हैं। इस समझौते के अनुरूप ओपेक देश और रूस एक करोड़ बैरल प्रतिदिन कटौती करेंगे, जबकि सहयोगी देश पच्चास लाख बैरल प्रतिदिन कटौती करेंगे। इस कटौती का कार्यक्रम अप्रैल 2020 तक जारी रहने का अनुमान है। 

विदित हो, सऊदी अरब और रूस के बीच गत मार्च में कच्चे तेल के उत्पादन में कटौती पर समझौता नहीं हो सका था।  कोरोनावायरस और आधी दुनिया के लाक डाउन के कारण कच्चे तेल की माँग इस क़द्र गिर गई कि माँग और आपूर्ति के आधार पर तेल की क़ीमतें पिछले दो दशक में निम्न स्तर तक आ चुकी थीं। 

यह खबर भी पढ़े: CAA विरोध के चलते कोरोना का हॉट स्पॉट बना दिल्ली का जहांगीरपुरी, जरूरी चीजों को तरस रहे लोग

यह खबर भी पढ़े: कमलनाथ ने CM शिवराज को पत्र लिखकर की RT-PCR टेस्ट कराने की मांग

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From business

Trending Now
Recommended