संजीवनी टुडे

जेट ने कंपनी बचाने को मांगा 400 करोड़ का एमरजेंसी फंड

संजीवनी टुडे 17-04-2019 11:57:14


नई दिल्ली। नकदी संकट से जूझ रही जेट एयरवेज के सिर्फ पांच विमान ही इस समय उड़ान भर रहे हैं। ऐसे में संकट गहरात जा रहा है। प्रबंधन ने कंपनी को बचाने के लिए 400 करोड़ रुपये के आपातकालीन फंड की मांग की है, वहीं कर्जदाता (बैंक) अभी तक कंपनी के आगे के भविष्य पर निर्णय नहीं ले पाए हैं।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

बुधवार को जेट एयरलाइन के सीईओ विनय दुबे ने एसबीआई की अगुवाई वाले बैंकों के समूह से कंपनी को बचाने का हर संभव प्रयास करने की गुहार लगाई है। लेकिन मुंबई में मंगलवार को तीन घंटे से अधिक समय तक चली एयरलाइन के बोर्ड और बैंकों के समूह की बैठक अनिर्णायक रही। 

उधर करीब 25 वर्षों से अपनी सेवाएं दे रही विमानन कंपनी के भविष्य को लेकर जारी अनिश्चितता और कंपनी के परिचालन को अस्थायी रूप से निलंबित करने से संबंधित रिपोट्स के बीच बीते दिन जेट के शेयर्स में 19 फीसदी तक की गिरावट देखने को मिली है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

उल्लेखनीय है कि जेट एयरवेज पर 8,000 करोड़ रुपये से अधिक का कर्ज हो चुका है। नागर विमानन सचिव प्रदीप सिंह खरोला के अनुसार एयरलाइन ने कंपनी को बचाने के लिए बैंकों से लगभग 400 करोड़ रुपये की आपातकालीन धनराशि की मांग की है, लेकिन यह मामला सिर्फ विमानवाहक और बैंकों के बीच का है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From business

Trending Now
Recommended