संजीवनी टुडे

सरकार के 100 दिन में निवेशकों को 12.5 लाख करोड़ रुपए का हुआ नुकसान

संजीवनी टुडे 10-09-2019 17:50:04

30 मई, 2019 को भारत के पीएम नरेंद्र मोदी की सरकार का दूसरा कार्यकाल प्रारम्भ होने के पश्चात पहले 100 दिन के अंदर निवेशक 12.5 लाख करोड़ गंवा चुके हैं।


नई दिल्ली। 30 मई, 2019 को भारत के पीएम नरेंद्र मोदी की सरकार का दूसरा कार्यकाल प्रारम्भ होने के पश्चात पहले 100 दिन के अंदर निवेशक 12.5 लाख करोड़ गंवा चुके हैं। बीते सोमवार को बाजार बंद होने के समय बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड कंपनियों की बाजार पूंजी या फिर उनका बाजार मूल्य 1,41,15,316.39 करोड़ था, जबकि मोदी सरकार के सत्ता संभालने से एक दिन पूर्व ये बाजार मूल्य 1,53,62,936.40 करोड़ था। 

यह खबर भी पढ़े:शॉपिंग के अनुभव को बेहतर बनाने के लिए 'फ्लिपकार्ट ऑथराइज्ड बायज़ोन' कार्यक्रम

बता दें कि 30 मई से अब तक BSE का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 5.96%, या फिर 2,357 अंक लुढ़क चुका है, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के संवेदी सूचकांक निफ्टी 50 में 30 मई से अब तक 7.23%, या फिर 858 अंक की गिरावट दर्ज की गई है। 

भारतीय बाजारों में विदेशी निवेशक बिकवाल हो गए हैं।  बिकवाली का दबाव उस वक्त बढ़ा, जब वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने जुलाई में पेश किए गए NDA सरकार के दूसरे कार्यकाल के पूर्व बजट में विदेशी निवेशकों पर भी सुपर-रिच टैक्स लागू कर दिया, हालांकि इस टैक्स को करीबन एक माह के पश्चात वापस ले लिया गया था। 
 
नेशनल सिक्योरिटीज़ डिपॉज़िटरी लिमिटेड के जरिए जुटाए गए आंकड़ों से मालुम होता है कि विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक  सरकार गठन के पश्चात से अब तक 28,260.50 करोड़ के शेयर बेच चुके हैं। 
 
ए.के. प्रभाकर की माने तो, "बेहद -सी मिड एवं स्मॉल-कैप कंपनियों में बहुत सुधार हुआ और अब वे बढ़िया मूल्यांकन पर हैं। IL&FS संकट का बाजारों पर बहुत काफी देर तक प्रभाव करीम रहा, किन्तु अब हालात में सुधार की आस है।"
 
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के जरिए जमा किए जाने वाले सभी सेक्टरों के सूचकांकों में, इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी इंडेक्स को छोड़कर, बीते 100 दिनों में नकारात्मक रिटर्न ही देखने को प्राप्त हुई है एवं निफ्टी का PSU बैंक इंडेक्स तो 26% गिरा है। 
 
अमेरिका एवं चीन के मध्य कारोबार गतिरोधों के बढ़ने से धातु इंडेक्स में 20% की गिरावट आई है। विश्लेषकों के मुताबिक, एन्टी-डंपिंग ड्यूटी के बावजूद चीन सस्ता स्टील बेच रहा है, जिससे घरेलू धातु कंपनियों को काफी नुकसान हो रहा है। 
 
निफ्टी के ऑटो इंडेक्स में 13.48% की गिरावट दर्ज की गई है, क्योंकि ऑटो उद्योग बीते 2 दशक की सबसे भयावह मंदी से गुजर रहा है। निफ्टी के बैंक, प्राइवेट बैंक, मीडिया तथा रियल्टी सेक्टरों के इंडेक्सों में भी 10 से 14% की गिरावट दर्ज की गई है। 
 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From business

Trending Now
Recommended