संजीवनी टुडे

भारतीय मॉड्यूलर किचन बाजार 862 मिलियन डालर पहुंचने की सम्भावना

संजीवनी टुडे 15-06-2019 21:17:45

भारतीय परिवारों में व्यावहारिक बदलाव आए है, जहां कमाई करने वाले सदस्य दोगुने हो गए हैं और एकल परिवार को प्राथमिकता दी जा रही है।


जयपुर। भारतीय परिवारों में व्यावहारिक बदलाव आए है, जहां कमाई करने वाले सदस्य दोगुने हो गए हैं और एकल परिवार को प्राथमिकता दी जा रही है। ऐसे में मॉड्यूलर किचन एक आवश्यकता बन गई है। अब यह प्रत्येक वर्ग के कुछ लोगों के लिए ही सीमित नहीं रह गया है। मॉड्यूलर किचन उद्योग के आने और एक संगठित क्षेत्र में इसके परिवर्तन से भारत में मॉड्यूलर किचन उद्योग के विकास में तेजी आई है। पीआरजी एंड कंपनी के निदेशक राज सुरोलिया ने बताया कि टेसी द्वारा हाल ही में किए गए अध्ययन के अनुसार भारत में मॉड्यूलर किचन का 2018 में 206 मिलियन डालर का व्यापार हुआ और अनुमानित है कि 2019 से 2024 तक इसमें 27 प्रतिशत से अधिक की ग्रोथ देखी जाएगी, जो कि 2024 तक 862 मिलियन डालर तक पहुंचने की सम्भावना है।

राज सुरोलिया ने बताया कि मॉड्यूलर किचन के क्षेत्र में एक वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में गोपालपुरा रोड न्यू आतिश मार्केट पर स्थित पीआरजी एंड कंपनी स्टोर में 5 मॉड्यूलर किचन की श्रेणी प्रदर्शित की गई है। जिसमें कस्टमर्स के लिए लाइव कुकिंग डिस्प्ले भी रखी गई। कार्यक्रम में जयपुर के 100 नामी आर्किटेक्टस ने स्टोर विजिट किया और इंटरैक्टिव लाइव कुकिंग डिस्प्ले का आनंद लिया। ग्राहकों को किचन इंटीरियर समाधान की एक विस्तृत श्रृंखला देते हुए रसोई को नया रूप देने के लिए पांच डिजाइन की किचन रेंज डिस्प्ले कराई गई है। जिसमें दराज और अलमारियों के लिए बेहद उन्नत सामग्री शामिल है। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From business

Trending Now
Recommended