संजीवनी टुडे

जेट एयरवेज फिर से एसबीआई की शरण में, कर्ज का हो सकता है पुनर्गठन

संजीवनी टुडे 06-12-2018 18:46:37


डेस्क। आर्थिक परेशानी से जूझ रही कंपनी जेट एयरवेज अब फंड के लिए फिर से अपने पुराने ऋणदाता एसबीआई (स्टेट बैंक अॉफ इंडिया) से बातचीत कर रही है। इस क्रम में एसबीआई कंपनी के कर्ज को इक्विटी में बदलने पर विचार कर रहा है। यह बैंक की ओर से कंपनी के कर्ज के पुनर्गठन करने का प्रयास भर है जबकि देश में बैंकों के एनपीए के जितने भी मामले हैं, उनमें यही काम किया गया था। 

उल्लेखनीय है कि जेट एयरवेज पर 8,200 करोड़ का कर्ज बाकी है। इतना ही नहीं कंपनी के पास इतने पैसे नहीं हैं कि वह अपने कर्मियों का भुगतान कर सके। पिछले दो महीने से कंपनी ने अपने पायलटों का भी भुगतान किया है। कंपनी में इसके प्रमोटर नरेश गोयल की 51 फीसदी की हिस्सेदारी है। कंपनी को उबारने के लिए गोयल ने टाटा संस से भी बात की थी। हालांकि टाटा ने गोयल के साथ काम करने से मना कर दिया। इसके चलते कंपनी अब एसबीआई से भी बात कर रही है। बैंक सूत्रों के अनुसार इस पर अभी विचार चल रहा है। अभी अंतिम फैसला लिया जाना बाकी है। 

हालांकि जेट एयरवेज पायलट यूनियन नेशनल एविएटर्स गिल्ड के प्रवक्ता सैम थॉमस ने कहा है कि गिल्ड कंपनी की गतिविधियों से खुश नहीं है। कर्मचारी आर्थिक संकट में हैं।

जयपुर में प्लॉट/ फार्म हाउस: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में, मात्र 2.30 लाख Call:09314166166
MUST WATCH & SUBSCRIBE

 प्रबंधन हर दिन नए बहाने बना रहा है। कुछ महीने पूर्व एक शेयर होल्डर ने कंपनी में कुप्रबंधन की शिकायत प्रधानमंत्री कार्यालय में भी की थी।

sanjeevni app

More From business

Loading...
Trending Now