संजीवनी टुडे

खाताधारक को रूपये लौटाये बैंक

संजीवनी टुडे 22-05-2019 14:18:07


झुंझुनू। जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोष मंच झुंझुनू के अध्यक्ष महेन्द्र शर्मा व सदस्य शिवकुमार शर्मा ने खाताधारक को खाते में जमा रुपए देने से इंकार करने पर बैंक पर दस हजार रूपये मानसिक संताप के व 33 सौ रुपए परिवाद व्यय देने के आदेश दिए हैं।

मंच के समक्ष धीरज कुमार ने एक परिवादी पेश कर बताया कि 10 नवम्बर 2016 को बचत खाता बैंक ऑफ राजस्थान झुंझुनू में खुलवाया था,बाद में उसका विलय आइसीआइसीआइ में हो गया। पीडि़त ने बताया कि पढ़ाई के सिलसिले में जयपुर जाने के कारण पांच माह तक अपने खाते में कोई लेन-देन नहीं किया। एक नवम्बर 2016 को खाते से रुपए निकलवाने गया तो बैंक अधिकारियों ने राशि देने से इंकार कर दिया। प्रबंधक से बात करने पर उसने पांच माह तक लेन-देन नहीं करने पर राशि खत्म होने व खाता संचालित नहीं होने पर उल्टा बैंक के राशि मांगने व नोटिस देने के लिए कहा गया। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

बैंक अधिकारी ने बताया कि नए नियमों के मुताबिक खाते में न्यूनतम 10,200 का बैलेस रखने की बात कही गई। दोनों पक्षों के तर्क सुनने के बाद मंच ने परिवाद को स्वीकार करते हुए बैंक को प्रार्थी के खाते में जमा 2931 रुपए, इस राशि पर बैंक नियमानुसार राशि अदायगी तक देय ब्याज दस हजार मानसिक संताप व 33 सौ रुपए परिवाद व्यय देने के आदेश दिये।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From business

Trending Now
Recommended