संजीवनी टुडे

मार्च से स्मार्ट राशनकार्ड से मिलेगा राशन

संजीवनी टुडे 29-11-2016 09:57:55

नई दिल्ली। हिमाचल के राशनकार्ड धारकों को मार्च महीने से राशन स्मार्ट कार्ड पर ही मिलेगा। राज्य सरकार ने स्मार्ट राशनकार्ड बनाने का काम आरम्भ कर दिया है और इसका काम निजी कंपनी को सौंपा है। इन राशन कार्डो को चलाने के लिए हर राशन की दुकान में पॉस मशीन स्थापित की जानी है। इस काम को राज्य सरकार या खाद्य आपूर्ति निगम खुद नहीं करेगा, निजी कंपनी को मशीनें स्थापित करने का काम दिया जाना है।

इन मशीनें के रखरखाव से लेकर अन्य सभी काम कंपनी कोे ही करने होंगे। राशन की 4400 दुकानों में यह मशीनें स्थापित हो जाएंगी। खाद्यआपूर्ति विभाग ने प्रदेश के राशन कार्डों की छंटनी का काम शुरू किया है। इसमें जो भी राशनकार्ड एक ही एड्रेस के पाए जाएंगे, उन सभी को खत्म किया जाएगा। विभाग को उम्मीद है कि इसके बाद राशनकार्ड का फर्जीवाड़ा पूरी तरह से खत्म हो जाएगा। इसके साथ ही राज्य में कितने राशनकार्ड सही है, उसका सही आंकड़ा भी सामने आएगा। वर्तमानमें जो राशनकार्ड बने हैं, वे पुराने तरीके के हैं।

विभाग ने आधारकार्ड नंबर डाल कर इसे लिंक तो कर दिया है, लेकिन अभी तक कोई भी राशन ले सकता है। भविष्य में स्मार्ट कार्ड बनने के बाद परिवार के किसी सदस्य को ही राशनकार्ड मिल सकेगा। इसके अलावा कोई व्यक्ति राशनकार्ड के लिए जाता है तो उसे यह सुविधा नहीं मिलेगा। इसलिए स्मार्ट कार्ड को आधार से लिंक किया जा रहा है, ताकि फिंगर प्रिंट के आधार पर राशन जारी किया जा सके।  स्मार्ट कार्ड बनाने की प्रक्रिया को शुरू कर दिया है। निजी कंपनी जनवरी महीने के लास्ट तक इस काम को पूरा कर देगी। राशन की दुकानों में पॉस मशीनें लगाने का काम भी चल रहा है। निजी कंपनी को हर दुकान में स्थापित करने के लिए कह दिया है। कंपनी ही इसका रखरखाव करेगी। फर्जी राशनकार्डों का आंकड़ा भी छंटनी के बाद दिसंबर के लास्ट तक सामने जाएगा। 

यह भी पढ़े :बड़े भाई को हुआ छोटी बहन से प्यार, पिता ने करा दी सगाई!

यह भी पढ़े :शादी में दूल्हा-दुल्हन को क्यों लगाई जाती है मेहंदी? जाने वजह

यह भी पढ़े :जाने, दांतों की सेहत आपकी SEX LIFE को कर सकती है खराब! 

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

sanjeevni app

More From business

Trending Now