संजीवनी टुडे

LIVE Budget 2019/वित्त मंत्री ने किया ऐलान- छोटे दुकानदारों को दी जाएगी पेंशन, 2022 तक हर घर में बिजली

संजीवनी टुडे 05-07-2019 11:55:50

वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण आम बजट (Budget 2019) संसद भवन में पेश कर रही हैं।


नई दिल्‍ली। वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण आम बजट (Budget 2019) संसद भवन में पेश कर रही हैं। इस बार Budget को 'बहीखाता' का नाम दिया गया है। इस बजट में संभावित रूप से किसानों, कारोबारियों, बुजुर्गों और युवाओं का खास ख्‍याल रखा जा सकता है। इससे पहले गुरुवार को संसद में आर्थिक सर्वेक्षण पेश किया गया था। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आर्थिक सर्वे को ऊपरी सदन राज्यसभा में पेश किया था। 

Update Live...

 

-स्फूर्ति के जरिए देश में 100 नए क्लस्टर बनाए जाएंगे। 20 प्रोद्योगिकी बिजनेस इंक्यूबेटर स्थापित किए जाएंगे, जिसके जरिए 20 हजार लोगों को स्किल दिया जाएगा। कृषि अवसंरचना में अब निवेश को बढ़ावा दिया जाएगा। 10 हजार नए किसान उत्पादक संघ बनेंगे, दालों के मामले में देश आत्मनिर्भर बना है। हमारा लक्ष्य आयात पर कम खर्च करना है। इसके साथ ही डेयरी के कामों को भी बढ़ावा दिया जाएगा। अन्नदाता अब ऊर्जादाता भी हो सकता है। किसान को उसकी फसल का सही दाम देना हमारा लक्ष्य है: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 

-महात्मा गांधी का विचार था कि भारत की आत्मा गांवों में बसती है, हमारी सरकार अपनी हर योजना में अंतोदय को बढ़ावा देने जा रही है। हमारी सरकार का केंद्र बिंदु गांव, किसान और गरीब है। हमारा लक्ष्य है कि 2022 तक हर गांव में बिजली पहुंचेगी। उज्ज्वला योजना और सौभाग्य योजना के जरिए देश में काफी बदलाव आया है: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 

-मीडिया में भी विदेशी निवेश की सीमा बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है। मीडिया के साथ-साथ एविऐशन और एनिमेशन के सेक्टर में भी FDI पर विचार किया जाएगा।  बीमा सेक्टर में 100 फीसदी FDI पर भी विचार किया जा रहा है।  भारत अंतरिक्ष के क्षेत्र में एक बड़ी ताकत के रूप में उभरा है। हमारी सरकार इस ताकत को और भी बढ़ाना चाहती है और सैटेलाइट लॉन्च करने की क्षमता को बढ़ाया जाएगा: वित्त मंत्री

-छोटे दुकानदारों को पेंशन दी जाएगी, साथ ही मात्र 59 मिनट में सभी दुकानदारों को लोन देने की भी योजना है।  इसका लाभ 3 करोड़ से अधिक छोटे दुकानदारों को मिल सकेगा।  हमारी सरकार इसके साथ ही हर किसी को घर देने की योजना पर भी आगे बढ़ रही है: वित्त मंत्री

-सरकार की तरफ से नेशनल ट्रांसपोर्ट कार्ड का ऐलान किया गया है। जिसका इस्तेमाल रेलवे और बसों में किया जाएगा। इसे रूपे कार्ड की मदद से चलाया जा सकेगा, जिसमें बस का टिकट, पार्किंग का खर्चा, रेल का टिकट सभी एक साथ किया जा सकेगा।  इसके साथ ही सरकार ने MRO का फॉर्मूला अपनाने की बात कही है।  जिसमें मैन्यूफैक्चरिंग, रिपेयर और ऑपरेट का फॉर्मूला लागू किया जाएगा: वित्त मंत्री

 

-हम मेक इन इंडिया के जरिए स्वदेशी की तरफ बढ़ रहे हैं। हमारी सरकार देश को आधुनिक भी बना रही है। जिसमें 657 किमी. मेट्रो को चालू किया गया है, जबकि 300 किमी. नए मेट्रो प्रोजेक्ट को मंजूरी मिली है। हमारा लक्ष्य रिफॉर्म, परफॉर्म और ट्रांसफॉर्म का है। हमारी सरकार का अगला बड़ा लक्ष्य जल रास्ते को बढ़ावा देना है। साथ ही वन नेशन, वन ग्रिड के लिए हम आगे बढ़ रहे हैं, जिसका ब्लूप्रिंट तैयार किया जा रहा है। हमारा लक्ष्य इलेक्ट्रॉनिक वाहनों को बढ़ाना देना है: वित्त मंत्री 

'यक़ीन हो तो कोई रास्ता निकलता है, हवा की ओट भी ले कर चराग़ जलता है।' ये शेर मशहूर शायर मंजूर हाशमी का है: निर्मला 

- भारत आज रोजगार देने वाला देश बना है। हमारा जोर अब इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ाने पर है। भारतमाला के जरिए हम देश में सड़क हर गांव तक पहुंचा रहे हैं और नेशनल हाइवे का निर्माण कर रहे हैं। इस दौरान उन्होंने अपनी कई योजनाओं का जिक्र किया, जिसमें मुद्रा योजना, सागरमाला, मेक इन इंडिया आदि शामिल रहे: निर्मला सीतारमण 

-निर्मला सीतारमण ने कहा- हमने 5 साल में अर्थव्यवस्था में एक ट्रिलियन डॉलर जोड़े हैं। हमने 10 लक्ष्य निर्धारित किए हैं। पहला लक्ष्य भौतिक संरचना का विकास। दूसरा- डिजिटल इंडिया को अर्थव्यवस्था के हर क्षेत्र तक पहुंचाना। तीसरा- हरित मातृभूमि और प्रदूषण मुक्त भारत। चौथा- एमएसएमई, स्टार्टअप, डिफेंस, ऑटो और हेल्थ सेक्टर पर जोर। पांचवां- जल प्रबंधन और स्वच्छ नदियां। छठा- ब्लू इकोनॉमी। सातवां- गगनयान और चंद्रयान मिशन। आठवां- खाद्यान्न। नौवां- स्वस्थ समाज, आयुष्मान भारत और सुपोषित महिलाएं-बच्चे। 10वां- जनभागीदारी, न्यूनतम सरकार और अधिकतम शासन।’’

-निर्मला सीतारमण ने कहा-  मार्च 2019 में देश में ट्रांसपोर्ट के लिए नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड लॉन्च किया गया। यह देश का पहला स्वदेशी पेमेंट सिस्टम है। इसके जरिए लोग कई तरह के ट्रांसपोर्ट चार्ज का पेमेंट कर सकते हैं।’

-निर्मला सीतारमण ने कहा- 2018 से 2030 के बीच रेलवे इन्फ्रास्ट्रक्चर में 50 लाख करोड़ निवेश की जरूरत है। पीपीपी मॉडल का इस्तेमाल त्वरित विकास और यात्री भाड़े से जुड़ी सेवाओं के विकास में किया जाएगा।

बजट पेश करने की शुरुआत में निर्मला सीतारमण ने कहा कि देश का हर व्‍यक्ति बदलाव महसूस कर रहा है। सरकारी प्रक्रिया को और सरल बनाएंगे। इस बार बजट में न्‍यू इंडिया पर जोर दिया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में हर लक्ष्‍य पूरा किया गया है। खाद्य सुरक्षा को पर दोगुना खर्च किया जाएगा। भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था दुनिया की छठी बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था है। हमारी अर्थव्यवस्था 5 साल में 2.7 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंची है। हमारा मकसद है- मिनिमम गवर्नमेंट, मैक्सिमम गवर्नेंस। 5 ट्रिलियन इकोनॉमी हासिल करने के लिए हमारे कुछ उद्देश्य हैं। इस वित्त वर्ष में हमने 3 ट्रिलियन डॉलर का लक्ष्य रखा है। हमने कई ढांचागत सुधार किए हैं और अभी कई और सुधार करने हैं: निर्मला सीतारमण

बजट की शुरुआत में निर्मला सीतारमण ने कहा कि इस बार देश की जनता ने पूर्ण बहुमत के साथ हमें सरकार में बैठाया है। इस चुनाव में लोगों ने भरपूर वोट दिया। पहली बार महिला, युवा, बुजुर्गों ने अच्छा काम करने वाली सरकार पर भरोसा जताया। पीएम मोदी की अगुवाई में हमारी सरकार तेजी से काम कर रही है और अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति की मदद कर रही है। वित्त मंत्री ने अपने बजट में आने वाले दशक का लक्ष्य देश के सामने रखा। अगले कुछ वर्षों में हमारी अर्थव्यवस्था 5 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंच जाएगी। इस दौरान उन्होंने गिनाया कि प्रदूषण मुक्त भारत, चिकित्सा उपकरणों पर जोर, जल प्रबंधन, अंतरिक्ष कार्यक्रम, चंद्रयान, गगनयान जैसे प्वाइंट्स को गिनाया। 

बजट की कॉपियां संसद भवन लाई गईं

संसद भवन पहुंचीं निर्मला सीतारमण, कैबिनेट बैठक में लेंगी हिस्सावित्त मंत्री निर्मला सीतारमण संसद भवन पहुंच गई हैं। यहां पर अब से कुछ देर में कैबिनेट की बैठक होगी. कैबिनेट बैठक में ही बजट को मंजूरी दी जाएगी। जिसके बाद बजट लोकसभा में पेश किया जाएगा। 11 बजे बजट पेश करने की कार्यवाही शुरू होगी। 

सूत्रों के हवाले से आई खबर की माने तो बजट में मोदी सरकार मिडिल क्लास को बड़ा तोहफा दे सकती है और इनकम टैक्स छूट की सीमा को 2.5 लाख रुपये से बढ़ाकर 3 लाख रुपये करने की उम्मीद है और इसके अलावा 5 लाख से लेकर 8 लाख रुपये की आय पर 10% का टैक्स स्लैब बनाया जा सकता है। निवेश पर टैक्स छूट की सीमा को 1.50 लाख रुपये से बढ़ाकर 2 लाख रुपये का ऐलान संभव है।  

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 4300/- गज, अजमेर रोड (NH-8) जयपुर में 7230012256

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From budget

Trending Now
Recommended