संजीवनी टुडे

बजट सत्र : विधानसभा की कार्यवाही शुक्रवार तक स्थगित

संजीवनी टुडे 27-06-2019 17:11:50

राजस्थान विधानसभा का बजट सत्र गुरुवार से शुरू हुआ। सत्र के पहले दिन दिवंगत सदस्यों, पुलवामा हमले के शहीदों और रामकथा पंडाल हादसे में जान गंवाने वाले लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित की गयी।


जयपुर। राजस्थान विधानसभा का बजट सत्र गुरुवार से शुरू हुआ। सत्र के पहले दिन दिवंगत सदस्यों, पुलवामा हमले के शहीदों और रामकथा पंडाल हादसे में जान गंवाने वाले लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। इसके बाद सदन की कार्यवाही शुक्रवार पूर्वाह्न 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

विधानसभा के पहले दिन की कार्यवाही शुरू होते ही जलदाय मंत्री डॉ. बीडी कल्ला ने लोकायुक्त और उपलोकायुक्त का कार्यकाल घटाने संबंधी संशोधन विधेयक रखा। इसके बाद उद्योग मंत्री परसादी लाल मीणा ने राजस्थान सूक्ष्म लघु और मध्यम उद्यम अध्यादेश सदन के पटल पर रखा। इसके अलावा खींवसर सीट से विधायक हनुमान बेनीवाल और मंडावा के विधायक नरेंद्र कुमार का त्यागपत्र स्वीकार करने की सूचना विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने सदन को दी। 

बेनीवाल भाजपा समर्थित राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के टिकट पर नागौर लोकसभा क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं, जबकि नरेंद्र कुमार झुंझुंनू से सांसद चुने गए हैं। दोनों ने विधायक पद से मंगलवार को इस्तीफा दे दिया था।

इसके बाद विधानसभा में देश-प्रदेश के प्रमुख नेताओं, सदन के सदस्यों के निधन, पुलवामा हमले और जसोल दुखांतिका पर शोक व्यक्त किया गया। गोवा के पूर्व सीएम मनोहर पर्रिकर, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और राज्यसभा सदस्य मदनलाल सैनी, पूर्व सांसद हरिओम सिंह राठौड़, पूर्व सदस्य भंवरलाल बलाई, शिव किशोर सनाढ्य, राजेश, तेजपाल यादव, नवल राय बच्चाणी, सुरेश चंद्र शर्मा को श्रद्धांजलि दी गई। इनके अलावा जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवान और बाड़मेर जिले के जसोल कस्बे में रामकथा के दौरान हुए हादसे के मृतकों को श्रद्धांजलि दी गई।

पत्रकारों ने किया धरना-प्रदर्शन
विधानसभा में इस बार मीडियाकर्मियों पर पाबंदी को लेकर गुरुवार को पहले दिन पत्रकारों ने पत्रकार दीर्घा का बहिष्कार कर विधानसभा अध्यक्ष जोशी के कक्ष के बाहर धरना प्रदर्शन किया। मीडिया पर लगी पाबंदी के अनुसार पहले बजट सत्र के दौरान मीडियाकर्मी विधानसभा परिसर में मंत्रियों के कक्षों से नहीं जा पाएंगे और न ही नेता प्रतिपक्ष सहित अन्य अधिकारियों के कक्षों में जा सकेंगे। 

विधानसभा अध्यक्ष के निर्देश पर मीडियाकर्मियों को सिर्फ पत्रकार दीर्घा तक सीमित कर दिया गया है। ऐसा पहली बार हुआ है कि जब मीडिया पर विधानसभा में इस प्रकार की पाबंदी लगाई गई है। बाद में पत्रकारों के एक प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात में जोशी ने कहा कि वे नियमों के तहत ही सदन को संचालित करेंगे। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

ju

More From budget

Trending Now
Recommended