संजीवनी टुडे

सभी शहरों व बाजारों में बनाएंगे बाइपास :नीतीश

संजीवनी टुडे 25-10-2020 19:29:22

सभी शहरों व बाजारों में बनाएंगे बाइपास


पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को दरभंगा व मधुबनी में एनडीए के प्रत्याशियों के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित किया। सभा को संबोधित करते हुए  मुख्यमंत्री  ने कहा है कि हम काम में विश्वास करते हैं। हमने हर घर तक बिजली पहुंचा दी। गांव-गांव तक सड़क बन गई। लड़कियां पढ़ने लगीं। अस्सी फीसद घरों तक नल का जल पहुंच गया। इस बार हमारी सरकार बनी तो गांव की गलियों में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाएंगे।  उन्होंने कहा कि गांव के लोग अपने घरों के बल्ब बुझा भी देंगे तब भी गांव में रोशनी रहेगी। हर खेत तक सिंचाई की सुविधा उपलब्ध कराएंगे। हर बाजार, हर शहर में बाइपास बनाएंगे ताकि लोगों को जाम व अन्य तरह की समस्याओं से नहीं जूझना पड़े। नीतीश ने कहा ,जहां जमीन नहीं मिलेगी, वहां फ्लाई ओवर बनाएंगे लेकिन, जाम से लोगों को मुक्ति दिलाकर ही दम लेंगे।

नीतीश रविवार को दरभंगा जिले के बेनीपुर स्थित जननायक कर्पूरी ठाकुर बाबा नागार्जुन स्टेडियम में बेनीपुर से एनडीए (जदयू) के प्रत्याशी विनय कुमार चौधरी उर्फ अजय चौधरी और अलीनगर के एनडीए प्रत्याशी वीआइपी के मिश्रीलाल यादव के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। नीतीश ने मंच से विपक्ष पर भी जमकर निशाना साधा। कहा- कुछ लोग मेरे खिलाफ बोलते हैं। बोलते हैं तो मेरा प्रचार होता है। 

खूब छपते हैं। हम न्याय के साथ विकास करने में विश्वास करते हैं। हमने काम किया है। उन्हें मौका मिला पंद्रह साल। कुछ नहीं किया। यदि कुछ होगा तो एनडीए के लोग ही करेंगे। केंद्र की मदद से राज्य में काम होगा। कुछ लोग अपने परिवार की चिंता करते हैं। हमारे लिए तो पूरा बिहार हमारा परिवार है। मुख्यमंत्री ने कहा , कुछ लोगों का काम है झूठ बोलकर भ्रम फैलाकर समाज में झगड़ा लगाना। हम तो मानके चलते हैं जनता मालिक है। काम करने का मौका देंगे तो सेवा करेंगे।

सीएम ने अपने सरकार के कार्यकाल में हुए कार्यों को भी गिनाया। बोले- हमने सड़क बना दी। अब राजधानी से लोगों को जिला मुख्यालय आने-जाने में परेशानी नहीं होती। हमने प्रण किया है कि पांच घंटे में राज्य के दुरुह क्षेत्र से भी लोग राजधानी पहुंचेंं। ससमय अपने घर वापस हो जाएं। हमने हर इलाके की सेवा की है। हम कहते रहे हैं जब मिथिला का विकास होगा तभी बिहार का विकास होगा। 

हमने शुरू से इसी उद्देश्य के साथ काम किया। जब केंद्र में काम करने का मौका मिला तब भी मिथिला के लिए काम किया। बिहार में जब दूसरे एम्स की बात  चली तभी से मेरे मन में यह बात थी कि दरभंगा में एम्स की स्थापना हो। आज वह पूरा हुआ। दरभंगा एयरपोर्ट के लिए कोशिश की। लगातार कोशिश की और यहां से उड़ान सेवा शुरू होने जा रही है। इसमें कोई कमी नहीं रह जाए, इसके लिए लगातार कोशिश की। आज यह भी पूरा होने जा रहा है।

यह खबर भी पढ़े: राजस्थान में स्‍कूल खोलने पर एक-दो दिन में हो सकता है फैसला

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From bihar

Trending Now
Recommended