संजीवनी टुडे

शपथ ले रहे ओवैसी के विधायक ने हिंदुस्तान बोलने से किया इनकार, BJP ने कहा- ऐसा करने वाले चले जाओ पाकिस्तान

संजीवनी टुडे 23-11-2020 20:20:00

17वीं बिहार विधानसभा के नव निर्वाचित 101 सदस्यों ने सोमवार को सदन की सदस्यता की शपथ ली।


बिहार। 17वीं बिहार विधानसभा के नव निर्वाचित 101 सदस्यों ने सोमवार को सदन की सदस्यता की शपथ ली। इस बीच सदन में उस समय माहौल तनावपूर्ण हो गया जब एआईएमआईएम के विधायक अख्तरुल इमान ने शपथ लेने के दौरान हिंदुस्तान शब्द बोलने पर अपनी आपत्ति जताई। उन्होंने कहा कि संविधान में बोला जाता है कि हम भारत के लोग... यहां भारत की जगह उर्दू में हिंदुस्तान लिखा हुआ है। उन्होंने शपथ के दौरान भारत बोलने की बात कही। 

वहीं, भाजपा नेता और सुपौल के छातापुर विधायक नीरज कुमार बबलू ने कहा कि जो लोग हिंदुस्तान शब्द नहीं बोल सकते हैं ऐसे लोगों को पाकिस्तान चले जाना चाहिए। वहीं जद यू विधायक ने भी कहा कि हिंदुस्तान बोलने में किसी को आपत्ति नहीं होनी चाहिए। 

वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के टिकट पर कदवा से जीतकर आए शकील अहमद खान ने संस्कृत भाषा में शपथ ली तो बिहार विधानमंडल का पूरा सेंट्रल हॉल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। क्या पक्ष, क्या विपक्ष, हर ओर से उनकी सराहना हुई। सदस्यों ने हिन्दी, मैथिली, उर्दू, संस्कृत और अंग्रेजी भाषाओं में शपथ ली। 

विधानसभा की देहरी पर पहली बार अपना कदम रख रहे नए विधायकों का उत्साह देखते ही बन रहा था। अपने-अपने क्षेत्र के परंपरागत परिधान, पार्टियों के निशान से लेकर बिहार की सांस्कृतिक परिधान मसलन पाग, डोपटा भी दमक रहे थे। अर्से बाद धोती पहने भी काफी विधायक नजर आए। 

बिहार विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर जीतन राम मांझी ने ठीक ग्यारह बजे सेंट्रल हॉल में अपना आसन ग्रहण किया। उसके बाद सभा सचिव ने राज्यपाल द्वारा जीतन राम मांझी की प्रोटेम स्पीकर के रूप में नियुक्ति की अधिसूचना पढ़ी गयी। फिर स्पीकर की अनुमति से सदस्यों ने बारी-बारी से शपथ लेना आरंभ किया। दोनों पालियों को मिलाकर कुल 190 विधायकों ने विधायक के रूप में अपने कर्तव्यों के निर्वहन की शपथ ली। मैथिली में 15, उर्दू में 7, संस्कृत में 5 और अंग्रेजी में चार जबकि हिन्दी में 159 विधायकों ने शपथ ली। 

यह खबर भी पढ़े: पाकिस्तानी अखबारों में विपक्ष की रैली को प्रमुख स्थान, निशाने पर इमरान खान

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From bihar

Trending Now
Recommended