संजीवनी टुडे

थक गए हैं नीतीश कुमार, सेलेक्टेड और नॉमिनेटेड मुख्यमंत्री से नहीं संभल रहा बिहार : तेजस्वी

संजीवनी टुडे 13-01-2021 21:00:55

प्रदेश में बढ़ते अपराध को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने एनडीए की सरकार पर बुधवार को जमकर निशाना साधा।


पटना। प्रदेश में बढ़ते अपराध को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने एनडीए की सरकार पर बुधवार को जमकर निशाना साधा। कहा, प्रदेश में अपराध का ग्राफ लगातार बढ़ता जा रहा है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अब पूरी तरह से थक गए हैं, उनसे बिहार नहीं संभल रहा है। ये सेलेक्टेड और नॉमिनेटेड मुख्यमंत्री हैं। वे गृह विभाग संभाल नहीं पा रहे हैं। प्रदेश में जब तक सैकड़ों हत्याएं, अपहरण, रेप, गैंगरेप जैसी घटनाएं नहीं होती है, तबतक सीएम नीतीश कुमार और उनके सहयोगियों को चैन की नींद नहीं आती है। डबल इंजन की सरकार से अब बिहार नहीं चल पा रहा है।

भाजपा खुद सरकार में हैं, उसके बाद भी वे लोग नीतीश कुमार से सवाल पूछ रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा था निश्चिंत होकर बैठिए, आपका बेटा दिल्ली में बैठा हुआ है, फिर बिहार में क्या हो रहा है। राजद की सरकार में नाम दिया गया था जंगलराज, अब जंगलराज के राजा कौन हैं। तेजस्वी ने सवालिया लहजे में कहा कि प्रधानमंत्री कहां हैं, किस बात की डबल इंजन की सरकार बिहार में है, मौजूदा सरकार विधानसभा चलने नहीं देना चाह रही है। उन्होंने कहा कि सीएम नीतीश कुमार समीक्षा बैठक नहीं करते हैं, वो भिक्षा बैठक करते हैं। पोस्टिंग-ट्रांसफर के लिए पैसों की वसूली हो रही है। आरसीपी टैक्स वसूला जा रहा है।

तेजस्वी ने कहा कि जिस राज्य में किसी को जबरदस्ती मुख्यमंत्री बना दिया जाएगा तो वहां की सरकार गुंडे ही न चलाएंगे। अब तो गुंडे घर में घुसकर लोगों को मार रहे हैं। रूपेश सिंह का जिक्र करते हुए तेजस्वी ने कहा कि पटना एयरपोर्ट पर अक्सर मुलाकात होती थी। हमारा लंबे समय से संबंध रहा है, वे इतने सज्जन और हंसमुख व्यक्ति थे। लेकिन, अब तो घर में घुसकर लोगों को गोली मारी जा रही है। पॉश इलाके में गोलीबारी होती है, लेकिन पुलिस कुछ नहीं कर पाती है।  

अविलंब इस्तीफ़ा दें नीतीश
इंडिगो के स्टेशन हेड रूपेश सिंह हत्या के बाद विपक्ष ने सीएम से इस्तीफा मांगा है। बुधवार को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर कहा कि अनैतिक और अवैध सरकार के संरक्षण में अपराधों और दुष्कर्मों की प्रतिदिन संख्या बढ़ना एनडीए की सामूहिक विफलता है। नीतीश द्वारा अपराधों को छिपाने की चेष्टा और उसे स्वीकार नहीं करना ही सबसे बड़ा अपराध और अपराधियों के लिए रामबाण है। उनसे बिहार नहीं संभल रहा, वो अविलंब इस्तीफ़ा दें।

यह खबर भी पढ़े: नाबालिग से दुष्कर्म के आरोप में युवक गिरफ्तार

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From bihar

Trending Now
Recommended