संजीवनी टुडे

बहाई धर्म के अग्रदूत 'दिव्यात्मा बाब' का 200वां जन्म दिवस समारोह बड़ी धूमधाम से मनाया, दिया ये सन्देश

संजीवनी टुडे 26-11-2019 20:12:30

वाटिका स्थित संजीवनी डिवाइन एकेडमी में रविवार को बहाई धर्म के अग्रदूत दिव्यात्मा बाब का 200वां जन्म दिवस समारोह बड़ी धूमधाम के साथ मनाया गया। संस्था के निदेशक दोनेश अनवरी ने बताया कि दिव्यात्मा बाब का जन्म सन् 1819 में ईरान देश के शिराज नामक शहर में हुआ।


जयपुर। वाटिका स्थित संजीवनी डिवाइन एकेडमी में रविवार को बहाई धर्म के अग्रदूत 'दिव्यात्मा बाब' का 200वां जन्म दिवस समारोह बड़ी धूमधाम के साथ मनाया गया। संस्था के निदेशक दोनेश अनवरी ने बताया कि 'दिव्यात्मा बाब 'का जन्म सन् 1819 में ईरान देश के शिराज नामक शहर में हुआ। इनके आने का उद्देश्य एक नए धर्म के आगमन की घोषणा से था और वह नया धर्म है बहाई धर्म जिसका उद्देश्य विश्व शांति व मानव जाति की एकता है। 

BAHAAI DHARM

बहाई मान्यताओं के अनुसार ईश्वर एक है, सभी धर्म एक है व समस्त मानव जाति एक है। इसी विचारधारा को साथ लेकर बहाई समुदाय मूल गतिविधियों के साथ इस व्यवस्था को कायम करने हेतु प्रयासरत है। इस अवसर पर विद्यालय के छात्र - छात्राओं ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए। छात्र-छात्राओं द्वारा विभिन्न धर्मों की एकता को लेकर एक नाटक प्रस्तुत किया गया। 

BAHAAI DHARM

विद्यालय के छात्र विकास शर्मा ने बताया कि किस प्रकार से ' किशोरों के लिए सशक्तिकरण कार्यक्रम ' के तहत उसने स्वयं में कई बदलाव देखे और मुझे एक नई दिशा मिली, कार्यक्रम में अतिथि के तौर पर यूएस से पधारी नोगोल ने बताया कि हमें भारत व अमेरिका के बीच की शिक्षा की नीतियों को समझना होगा व आध्यात्मिक व भौतिक शिक्षा में एक तालमेल बनाते हुए जीवन को आगे बढ़ाना है। 

BAHAAI DHARM

कार्यक्रम का संचालन विद्यालय के छात्र सचिन गुर्जर व दीपिका नामदेव ने किया। अंत में विद्यालय निदेशक डा० नेजात हगीगत ने आगन्तुक सभी मेहमानों का स्वागत किया व अतिथियों द्वारा समस्त छात्र -छात्राओं को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया |

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From bahaifaith

Trending Now
Recommended