संजीवनी टुडे

Tarun Gogoi: पीएम मोदी ने दी तरुण गोगोई को श्रद्धांजलि, राहुल गांधी ने भी लिखा भावुक पोस्ट

संजीवनी टुडे 23-11-2020 19:47:32

असम के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तरुण गोगोई (Former Assam CM Tarun Gogoi) का सोमवार को निधन हो गया है।


गुवाहाटी। असम के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तरुण गोगोई (Former Assam CM Tarun Gogoi) का सोमवार को निधन हो गया है। असम के स्वास्थ्य मंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने ये जानकारी दी। 86 साल के गोगोई पिछले कुछ समय से बीमार चल रहे थे। डॉक्टरों ने सोमवार सुबह जानकारी दी थी कि गोगोई की हालत बेहद बेहद नाजुक है। गोगोई की बिगड़ती हालत को देखते हुए कुछ देर पहले ही असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल अपना डिब्रूगढ़ दौरा रद्द कर बीच रास्ते से ही गुवाहटी लौट गए थे। तरुण गोगोई तीन बार असम के मुख्यमंत्री रह चुके थे। इसके अलावा वह 6 बार लोकसभा सांसद भी रहे थे। तरुण गोगोई के बेटे गौरव गोगोई वर्तमान में कांग्रेस सांसद हैं। 

गोगोई के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने भी ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी है। पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि- श्री तरुण गोगोई जी लोकप्रिय नेता और वरिष्ठ प्रशासक थे, जिनका असम के साथ-साथ केंद्र में भी सालों का राजनीतिक अनुभव था। उनके निधन से दुखी हूं. इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और समर्थकों के साथ हैं. ओम शांति.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने तरुण गोगोई को श्रद्धांजलि देते हुए कहा है कि गोगोई के निधन की खबर सुनकर बहुत दुख हुआ। राष्ट्रपति ने ट्वीट कर कहा कि- असम के पूर्व मुख्यमंत्री श्री तरुण गोगोई के निधन की खबर सुनकर बहुत दुख हुआ। देश ने समर्द्ध राजनीतिक और प्रशासनिक अनुभव वाले एक अनुभवी नेता को खो दिया है। कार्यालय में उनका लंबा कार्यकाल असम में युगांतरकारी परिवर्तन का काल था। 

राष्ट्रपति ने एक अन्य ट्वीट में लिखा- उन्हें हमेशा असम के विकास के लिए और विशेष रूप से राज्य में कानून और व्यवस्था में सुधार और उग्रवाद से लड़ने के अपने प्रयासों के लिए याद किया जाएगा। उनका निधन एक युग के अंत का प्रतीक है। दुख की इस घड़ी में उनके परिवार, दोस्तों और समर्थकों के प्रति संवेदना। 

वहीं पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया है कि- "तरुण गोगोई सच्चे कांग्रेसी नेता थे। उन्होंने असम में सभी लोगों और समुदायों को एक साथ लाने के लिए अपना पूरा जीवन न्योछावर कर दिया। मेरे लिए वह एक महान और कुशल शिक्षक थे। मैं उन्हें तहे दिल से प्यार और उनका सम्मान करता था। मैं उन्हें याद करूंगा। गौरव और परिवार को मेरा प्यार और संवेदनाएं.

गोगोई को दो नवंबर को जीएमसीएच में भर्ती कराया गया था। शनिवार को तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें शनिवार को वेंटिलेटर पर रखा गया था। गोगोई 25 अगस्त को कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गये थे और इसके अगले दिन उन्हें जीएमसीएच में भर्ती कराया गया था। इसके बाद 25 अक्टूबर को उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी थी। 

यह खबर भी पढ़े: पाकिस्तानी अखबारों में विपक्ष की रैली को प्रमुख स्थान, निशाने पर इमरान खान

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From assam

Trending Now
Recommended