जिन्दा पति को मृत घोषित कर पत्नी ने किया कुछ ऐसा...! मीरा के बाद अब बेटी मीशा के साथ शाहिद कपूर ने की फोटो शेयर LIVE INDvsSL: श्रीलंका को पहला झटका, दानुष्का ने खेली 35 रन की पारी भारत सरकार के राष्ट्रीय स्ट्रीट लाइटिंग कार्यक्रम ने 50,000 किलोमीटर लंबी भारतीय सड़कों को किया रोशन उत्कल ट्रैन हादसे को लेकर प्रभु सख्त, कहा - शाम तक बताओ गुनहगार कौन सोया रिफाइंड में उछाल, चना, चुनिंदा दालें और गेहूं के दाम में गिरावट इस युवक के कान से निकली ऐसी चीज जिसे देख उड़ गए होश अपराध की योजना बनाने वाले अपराधियों का पुलिस ने किया पर्दा पास ...तो इसलिए एक साथ काम नहीं करना चाहते वरुण-आलिया PM मोदी ने दी अपने मंत्रियों को चेतावनी, कहा- सरकारी आवास में ठहरे न की 5 स्टार होटलों में भारत में लॉन्च हुआ दमदार फीचर्स के साथ LENOVO K8 NOTE इंटरनेशनल प्रोजेक्ट्स के साथ-साथ देश में भी फिल्मों का निर्माण कर रही है देसी गर्ल उत्कल एक्सप्रेस घटना: बाबुओ पर फूटा प्रभु का गुस्सा, कहा-दिन के अंत तक जवाबदेयी तय करें 32 फीट की इस बाइक का गिनीज ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज दक्षिण कोरिया: जहाज कारखाने में विस्फोट से हुई 4 लोगो की मौत 'टेरर फंडिंग' समाप्त करके आतंकवाद का खात्मा किया जा सकता है: राजनाथ इस जगह पर लोगों ने 16 बार मनाया नववर्ष! हुंडई की इलेक्ट्रिक कार सिंगल चार्ज पर 500 किमी चलेगी सुनील ग्रोवर ने कपिल शर्मा के सबसे करीबी दोस्त का ट्विटर पर खुछ ऐसे बनाया मजाक इस शख्स के अजीब शौक के बारें में जानकर आप भी चौंक जाएंगे!
तालिबान ने वीडियो किया जारी, दिखाई दिए ये दो बंधक
sanjeevnitoday.com | Thursday, January 12, 2017 | 02:53:50 PM
1 of 1

काबुल। तालिबान के कब्जे में कैद लोगों के वीडियो में एक अमरीकी केविन किंग और एक ऑस्ट्रेलियाई नागरिक टिमोथी वीक्स दिखाई दिए है। इन लोगों का अपहरण 5 महीने पहले काबुल से किया गया था।

 

पुलिस की वर्दी पहने हुए बंदूकधारियों ने 7 अगस्त को अफगान राजधानी के बीचोंबीच स्थित अमरीकन यूनिवर्सिटी ऑफ अफगानिस्तान से 2 प्रोफेसरों का अपहरण कर लिया था। अपहर्ताओं ने इन प्रोफेसरों के वाहन की खिड़की तोड़ते हुए उन्हें अपने कब्जे में लिया था। कुल13 मिनट और 35 सेकेंड का वीडियो कल तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने प्रसारित किया। यह वीडियो इस बात का प्रत्यक्ष प्रमाण देता है कि ये दोनों जीवित हैं। इस वीडियो के आने से पहले अमरीकी विशेष अभियान दलों ने अगस्त में इन दोनों नागरिकों को बचाने के लिए गोपनीय तरीके से छापेमारी की थी।

हालांकि उनका प्रयास विफल रहा था। पेंटागन ने सितंबर में कहा कि राष्ट्रपति बराक आेबामा ने अफगानिस्तान के एक अज्ञात स्थान पर छापेमारी को मंजूरी दी थी लेकिन बंधक वहां नहीं थे। वर्ष 2006 में खुली अमरीकन यूनिवर्सिटी ऑफ अफगानिस्तान से प्रतिक्रिया के लिए संपर्क नहीं किया जा सका। इन अपहरणों ने अफगानिस्तान में विदेशियों पर बढ़ते खतरों को रेखांकित कर दिया।अफगान राजधानी में संगठित आपराधिक गिरोह फैले हुए हैं। ये गिरोह फिरौती के लिए अकसर अपहरण करते हैं।

यह भी पढ़े: इस शख्स ने बनवाया अपने कुत्ते का आधार कार्ड, पुलिस ने किया गिरफ्तार!

यह भी पढ़े: हाथ नहीं है, लेकिन पियानो बजाने से लेकर हवाई जहाज तक उड़ा लेती हैं ये लड़की!

यह भी पढ़े :इस लडक़ी ने कर दिया कमाल बातों-बातों में बना दी करंट वाली ब्रा

यह भी पढ़े: अद्भुत नजारा: हवा में लटका हुआ है ये नल



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.