loading...
loading...
loading...
भारत में क्रिकेट खेल साथ साथ धर्म भी प्रशासन की सख्ती के बावजूद फिर अवैध रूप से गर्भपात संकल्प कैंप में बच्चों को गुरुबाणी, गुरु इतिहास और रहित मर्यादा बारे जानकारी दी पेय पदार्थ के नाम पर दुकानदार परोस रहे है जहर भारत और विश्व के इतिहास में 27 जून की प्रमुख घटनाएं रेशा देवी ने कहा- युवाओं को नशे से दूर करने के लिए धर्म के साथ जोड़े दार्जिलिंग: भारी बारिश और बंद के माहौल में मुस्लिमो ने मनाया ईद-उल-फितर रमन शर्मा ने कहा- अापातकाल देश के इतिहास में काला दिन खाना खजाना प्रतियोगिता में महिलाओं ने दिखाया उत्साह कंडबाड़ी में NGO परिवर्तन द्वारा स्वास्थ्य शिविर का आयोजन बालड़ी रक्षक योजना ने तोडा दम स्वास्थ्य को लेकर महिलाओं का उदासीन रवैया इफ्तार पार्टी है नौटंकी, इसकी हमे क्या जरूरत: गिरिराज सिंह 2018 से बदल सकता है वित्त वर्ष, इस साल नवंबर में पेश हो सकता है बजट WWC 2017: ऑस्ट्रेलिया का विजयी आगाज, इंडीज को दी 8 विकेट से शिकस्त दिल्ली के नामी ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी के वेयर हाउस में 37 लाख रुपये की लूट 3 जुलाई को भोपाल में होगा ग्लोबल स्किल पार्क का शिलान्यास: चौहान मोदी के सपोर्ट में न्यूड होने वाली हॉट एक्ट्रेस ने थामा एनसीपी का दामन बैंक मैनेजर पिता 6 माह से कर रहा था अपनी बेटी के साथ ऐसा शर्मनाक काम ... भोपाल में पंचायती राज मंत्रियों का सम्मेलन 27 जून को होगा आयोजित
ऑस्ट्रेलिया में खूंखार आतंकियों को लेकर महत्वपूर्ण विधेयक पारित
sanjeevnitoday.com | Friday, December 2, 2016 | 09:11:13 AM
1 of 1

सिडनी। ऑस्ट्रेलिया में अब खूंखार अपराधियों को उनकी सजा पूरी करने के बाद भी जेल में रखा जा सकेगा है। कट्टरपंथियों के खतरे से निपटने के लिए कानूनों को और मजबूत करने के लक्ष्य के साथ पारित किए गए नए महत्वपूर्ण विधेयक में इस बात का प्रावधान किया गया है। 

दुनिया भर में आतंकी हमलों की संख्या में वृद्धि को देखते हुए ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल ने जुलाई में इस कदम को मंजूरी दी थी। इस नए प्रावधान के बाद अटॉर्नी जनरल जॉर्ज ब्रैंडिस किसी आतंकवादी की सजा पूरी होने से 12 माह पहले सजा बढ़ाने के लिए आवेदन कर सकेंगे। इसके लिए सुप्रीम कोर्ट को इस बात का यकीन दिलाने की आवश्यकता होगी कि अपराधी छोड़े जाने के बाद बड़ा आतंकी घटना को अंजाम दे सकता है।  

यह भी पढ़े : 3 तलाक के विरोध में जज को लिख डाला खून से खत

यह भी पढ़े : पर्दा प्रथा ! भारत में इस तरह शुरुआत हुई पर्दा प्रथा की, बड़ी दिलचस्प है वजह

यह भी पढ़े: इस गांव में सुनसान पड़े है सभी बैंक और ATM, जानिए वजह

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.