आज का राशिफल (18 जनवरी 2017) सुल्तान कुतबुद्दीन ऐबक का इतिहास ये है ऐसा देश जहां मर्द करते है महिलाओ की गुलामी.. जानिये बंदर को भी टीवी देखने में आता है मजा... भारत के महान शहीदों और वीरो से संबंधित जानकारी और तथ्य ...तो जियो यूजर्स को 31 मार्च 2017 के बाद भी मिल सकती है फ्री सेवा इसलिए लिया भगवान श्री गणेश ने विकट अवतार बाप रे! इतनी ठंड की बर्फ में लोमड़ी तक जम गई... OMG यह है अजीबोगरीब परम्परा : यहाँ हजारों लोगों के बीच भस्म हुआ मंदिर... रिकार्ड बनाकर भी न्यूजीलैंड से हारा बांग्लादेश डि'विलियर्स ने अटकलों पर लगाया विराम, नहीं लेंगे किसी भी फॉर्मेट से सन्यास भूमि अधिग्रहण के खिलाफ हिंसक आंदोलन, फायरिंग में एक की मौत 9 बाइक चोर आठ बाइक के साथ रंगे हाथ पकडे गए... हार्दिक ने सरकार को ललकारा, कहा- आरक्षण नहीं देंगे तो छीन कर लेंगे ट्रेलर रिलीज : बोल्डनेस का सबूत देती है 'माया' रिश्वत लेते महिला कर्मी रंगेहाथ गिरफ्तार भारत अकेले शांति के रास्ते पर नहीं चल सकता: मोदी नहीं रहे चांद पर जाने वाले आखिरी व्यक्ति एक वीडियो ने रातों-रात बना दिया स्टार पाक सिंगर को... साईकिल को मिला हाथ का साथ, यूपी में महागठबंधन का फार्मूला तय: कांग्रेस 80, सपा 280 व आरएलडी को 20 सीटें
संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने की उत्तर कोरिया के असफल मिसाइल प्रक्षेपण की निंदा
sanjeevnitoday.com | Tuesday, October 18, 2016 | 09:06:31 AM
1 of 1


संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने उत्तर कोरिया के एक असफल मिसाइल प्रक्षेपण के बाद उसकी निंदा की तथा उसके खिलाफ और कड़े कदम उठाने की धमकी दी। उत्तर कोरिया ने संयुक्त राष्ट्र प्रस्तावों का एक बार फिर उल्लंघन करते हुए शनिवार को मुसुदन मिसाइल का परीक्षण किया था। रॉकेट में प्रक्षेपण के कुछ ही देर बाद विस्फोट हो गया था। उत्तर कोरिया के सहयोगी चीन द्वारा समर्थित एवं सर्वसम्मति से कल दिए गए बयान में परिषद ने ‘सबसे ताजा असफल बैलिस्टिक मिसाइल प्रक्षेपण की कड़ी निंदा की’ और इसे उत्तर कोरिया की अंतरराष्ट्रीय प्रतिबद्धताओं का ‘कड़ा उल्लंघन’ बताया।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166


बयान में कहा गया है कि परिषद के सदस्यों ने ‘हालात पर गहरी नजर रखने और अन्य महत्वपूर्ण कदम उठाने’ पर सहमति जताई। अमेरिका और चीन नए प्रतिबंध प्रस्ताव का मसौदा तैयार कर रहे हैं। सुरक्षा परिषद ने उत्तर कोरिया द्वारा अपना पांचवां और अब तक का सबसे शक्तिशाली परमाणु परीक्षण करने के बाद यह कदम उठाने की पिछले महीने ही मंजूरी दी थी। 


उत्तर कोरिया ने वर्ष 2006 में पहली बार परमाणु परीक्षण किया था जिसके बाद से उस पर संयुक्त राष्ट्र प्रतिबंधों के पांच सेट लगाए गए हैं। प्योंगयांग द्वारा चौथा परमाणु परीक्षण करने के बाद परिषद ने उस पर अब तक के सर्वाधिक कठोर प्रतिबंध के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। इस प्रस्ताव में उत्तर कोरिया के खनिज कारोबार को निशाना बनाया गया और बैंकों को कड़े प्रतिबंध के दायरे में लाया गया था। इस प्रस्ताव के लागू होने के बाद से उत्तर कोरिया ने 20 से अधिक मिसाइल परीक्षण किए हैं।

यह भी पढ़े: ओह! तो महिलाएं इस वजह से भी करती हैं ऑर्गैजम का नाटक...!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.