loading...
2017 का सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर बने: रविचंद्रन अश्विन मकान पर कब्ज़ा करने की कोशिस में परिवार के दो पक्षो में हुई लड़ाई पीसीबी ने बीसीसीआई को भेजा नोटिस, दोनों बोर्ड के बीच मुद्दों को निपटाने का करेंगे प्रयास फिल्म ‘‘सचिन : अ बिलियन ड्रीम्स ’’ की खास स्क्रीनिंग के मौके पर पहुंची अनुष्का शर्मा का दिखा हॉट लुक ट्रेडिशनल वेयर्स में मिरर वर्क से सजी साड़ियां बनी आकर्षण का केंद्र, देखें लेटेस्ट.... VIDEO: यूपी पुलिस की गुंडागर्दी, सपा नेता की थाने में की पिटाई आयकर विभाग ने 40 से अधिक मामलों में अचल संपत्तियों को किया कुर्क,लगभग 600 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त डिस्ट्रिक्ट चैस चैंपियनशिप में चैंपियन बनी: अनुष्का माउंट एवरेस्ट पर एक शिविर में मिले चार पर्वतारोहियों के शव राजस्थान में अब वरिष्ठ नागरिकों एवं पेंशनरों के लिए अस्पतालों में होंगे अलग से काउंटर, लम्बी कतारों से मिलेगा निजात चैम्पियंस ट्रॉफी में पहली बार नहीं आयेगी नजर: वेस्टइंडीज टीम यूपी पुलिस की गुंडागर्दी, सपा नेता की थाने में की पिटाई सोनम कपूर की इन अदाओं पर फिदा हुआ हॉलीवुड, देखें तस्वीरें चिकारा ने खेली ऐसी चमत्कारी पारी, 40 ओवर के मैच में 70 बार गेंद बाउंड्री के पार शीना बोरा हत्याकांड की जांच कर रहे इंस्पेक्टर गनोरे के घर में पत्नी की हत्या PICS: भारतीय क्रिकेट टीम ने एक साथ देखी 'सचिन: ए बिलियन ड्रीम्स' सानिया - श्वेडोवा की जोड़ी को न्यूरेमबर्ग कप के पहले दौर में मिली करारी शिकस्त दिव्यांगों की पेंशन में बढ़ोतरी, कैबिनेट ने दी मंजूरी दामाद की हत्या कराने वाले सास-ससुर को पुलिस ने किया गिरफ्तार,लेकिन शूटर गिरफ्त से दूर तलाक के बाद फिर से विवाह के बंधन में बंधेंगे अरबाज!
नेपाल में संविधान संशोधन विधेयक को लेकर दूसरे दिन भी प्रदर्शन..
sanjeevnitoday.com | Thursday, December 1, 2016 | 04:03:10 PM
1 of 1

काठमांडो। नेपाल में संविधान संशोधन विधेयक के विरोध में आज लगातार दूसरे दिन भी सरकार-विरोधी प्रदर्शन हुए। इस विधेयक का लक्ष्य आंदोलनरत मधेशियों और अन्य जातीय समूहों की मांगों को पूरा करने के लिए प्रांतीय सीमाओं में परिवर्तन करना है।

नेपाल की राष्ट्रीय समाचार एजेंसी आरएसएस के मुताबिक संसद में पेश किये गये संविधान संशोधन विधेयक के तहत राज्य की सीमाओं में परिवर्तन के विरोध में अर्घाखांची जिले में जिला स्तरीय अनिश्चितकालीन हड़ताल का आह्वान किया गया है।

संबंधित जिलों के लोगों ने विधेयक को ‘‘अव्यवहारिक ’’ बताया है क्योंकि इसमें पर्वतीय क्षेत्र को प्रोविंस नंबर पांच से अलग करके तराई के अंतर्गत रखने का प्रस्ताव है। प्यूथान-रोल्पा संघर्ष समिति के समन्वयक मुक्ति प्रसाद शर्मा ने बताया कि प्रदर्शन तब तक जारी रहेगा, जब तक सरकार विधेयक वापस नहीं ले लेती है।

संविधान संशोधन विधेयक के प्रावधान के तहत अर्घाखांची, पाल्पा, गुल्मी, रोल्पा और प्यूथान को प्रोविंस नंबर पांच से अलग कर प्रोविंस नंबर चार के अंतर्गत रखा जाना है। बुटवाल और प्यूथान में प्रदर्शन शुरू हुआ, जिससे यातायात पूरी तरह बाधित हो गया और दुकान एवं शिक्षण प्रतिष्ठान बंद रहे।

इसी बीच इस मुद्दे को लेकर गुल्मी जिले में अनिश्चितकालीन हड़ताल का आह्वान किया गया है जबकि पाल्पा में भी विरोध प्रदर्शन जारी है।

यह भी पढ़े: जेब में रखे चीनी करेगा मोबाइल चार्ज ये है तरीका

यह भी पढ़े: नोटबंदी से नोटवाली हुई एप्पल, इस तरह हुआ फायदा

यह भी पढ़े: इस गांव में सुनसान पड़े है सभी बैंक और ATM, जानिए वजह

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.