loading...
एक्सपेरिमेंट करने के चक्कर में, कई बार खराब मेकअप में नजर आईं प्रियंका... खुशखबरी: जनधन खाताधारकों का मुफ्त बीमा पक्का Last Day: अमेजन इंडिया की ग्रेट इंडियन सेल, 15,999 रु में iphone, एप से 15 फीसदी Discount रालोद की 35 प्रत्याशियों की सूची जारी, छह प्रत्याशी जाट तो आठ मुस्लिम, सूची देखें! कर डाला ये अनूठा कारनामा इस फैन ने, अक्षय रह गई सकते में.... जानिए! मोदी के लीड रोल में कौन होंगे भाजपा के स्टार प्रचारक, ये दिग्गज बैठेंगे बाहर BCCI की गद्दी छोड़ने के बाद HPOA का अध्यक्ष पद सम्भालेंगे अनुराग ठाकुर तीन साल की बच्ची को हवश का शिकार बनाया... सिटी बसों में मैनुअल टिकट समाप्त, ईटीएम सिस्टम लागू क्रिकेट जगत में मची सनसनी, ग्लेन मैक्ग्राथ ने सचिन पर लगाया स्लेजिंग का आरोप दो पक्षों में मारपीट ... आपसी विवाद में युवक को गोली मारी... माही का जलवा बरकरार, कोहली की अनुपस्थिति में संभाला जिम्मा, निहारने लगे ईडन गार्डन मानव श्रृंखला के मुख्य समारोह में नन्हे बच्चों ने जीता लोगों का दिल बाप रे! ये शख्स है 800 बच्चो का बाप... नजीब अहमद मामला: रिश्तेदार से मांगी 20 लाख रुपये की फिरौती, आरोपी गिरफ्तार प. बंगाल: भीषण हमलों को अंजाम देने वाले लश्कर के 3 आतंकियों को सजा-ए-मौत सिंधु जल समझौते पर फिर बौखलाया पाक, किशनगंगा-रातले पनबिजली प्रोजेक्ट फौरन बंद करें भारत सड़क हादसे में एक व्यक्ति की मौत... सर्जिकल स्ट्राइक के बाद LOC क्रॉस करने वाले भारतीय जवान चव्हाण पाकिस्तान से रिहा
अलेप्पो में नागरिकों सुरक्षित रास्ता देने के लिए रूस तैयार
sanjeevnitoday.com | Wednesday, October 19, 2016 | 09:18:37 AM
1 of 1

नई दिल्ली। अलेप्पो के पूर्वी जिलों से नागरिकों और विद्रोहियों को सुरक्षित रास्ता देने के लिए रूस और सीरिया की सेना तैयार हो गई है। इसके लिए आठ घंटे के संघर्षविराम का एलान किया गया है। यह घोषणा विद्रोहियों के प्रभाव वाले इलाकों में हवाई हमलों में सात बच्चों समेत 36 लोगों की मौत के बाद की गई है। रूस के जनरल स्टाफ लेफ्टिनेंट जनरल सर्गेई रुदोस्की ने मॉस्को में बताया कि गुरुवार को सुबह आठ बजे से शाम चार बजे तक सेना मानवीय अल्पविराम का पालन करेगी। 

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

 

इस दौरान असैन्य नागरिक और विद्रोही शहर से सुरक्षित बाहर निकल सकते हैं। लड़ाकों, घायलों और बीमारों को विद्रोहियों के कब्जे वाले इदलिब प्रांत में जाने की अनुमति होगी। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार एजेंसी ने कहा है कि जब तक सभी पक्ष सुरक्षा की पूरी गारंटी नहीं देते वह मानवीय मदद लेकर अलेप्पो में दाखिल नहीं होगा। वैश्विक संगठन के मानवाधिकारियों ने मानवीय मदद पहुंचाने के लिए पूर्वी अलेप्पो में साप्ताहिक 48 घंटे के संघर्षविराम की अपील की थी। संयुक्त राष्ट्र में रूस के राजदूत विटली चुरकिन ने बताया कि आठ घंटे का संघर्षविराम एकतरफा है।

 

48 या 72 घंटे के संघर्षविराम के लिए सभी पक्षों के बीच आपसी सहमति जरूरी है। गौरतलब है कि 22 सितंबर को संघर्षविराम टूटने के बाद से रूस और सीरिया की सेना ने पूर्वी अलेप्पो में हवाई हमले तेज कर रखे हैं। सीरियन ऑब्जरवेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स के अनुसार इन हमलों में सौ बच्चों समेत पांच सौ से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। सीरिया में पांच साल से ज्यादा समय से चल रही हिंसा की अब तीन लाख से ज्यादा लोग भेंट चढ़ चुके हैं।

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...

यह भी पढ़े: दिलचस्प..! लड़कियां न्यूड होकर करती हैं तेज गाड़ियों की स्पीड को कंट्रोल…

यह भी पढ़े : खुशियां बाँट रही फीमेल डॉक्टर.. न्यूड होकर करती है इलाज, मरीजों की लगी रहती हैं लंबी कतार !

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.