loading...
ममता कुलकर्णी के खिलाफ जारी हुआ गैर जमानती वारंट दुनिया में 'मेड इन चाइना' से बड़ा ब्रांड है 'मेक इन इंडिया' हरियाणा: स्थानीय लोगों को पहले दी जाएगी नौकरी में प्राथमिकता राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कर रहे हैं PM मोदी की अमेरिका यात्रा का इंतजार जानिए, इतिहास के पन्नों में 29 मार्च का दिन क्यों है खास रईस के प्रमोशन के दौरान एक शख्स की मौत ने बढ़ाई शाहरुख खान की मुश्किले भाजपा सांसदों को जेटली ने दी GST विधेयकों की जानकारी अमेरिका: संदिग्ध पैकेट मिलने के बाद व्हाइट हाउस सील, अंदर ही मौजूद थे राष्ट्रपति और उप राष्ट्रपति भारतीय टीम विदेश में भी जीतने की रखती है हिम्मत: अनिल कुंबले अफ्रीकियों पर हमला: 1200 लोगों पर केस दर्ज, 5 लोगों किया अरेस्ट ICC ने 10 लाख डॉलर और गदा भेंट कर भारतीय टीम को दिया जीत का तोहफा मुख्यमंत्री रमन सिंह ने चैत्र नवरात्रि पर किसानों को दी बड़ी सौगात युवती के साथ दुष्कर्म की कोशिश में दो गिरफ्तार BSNL ने पेश किया शानदार ऑफर, लीजिये तीन महीने तक अनलिमिटेड इंटरनेट का मजा ये हैं भोजपुरी फिल्मों की सनी लियोनी, देखकर खा जाएंगे धोखा ऐसा चिकित्सा केन्द्र बनाएं, जो देश-दुनिया में सबसे अलग हो : डॉ. रमन सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के साथ बैठक के बाद ट्रांसपोर्ट संघ की हड़ताल स्थगित हवाई मार्ग से ड्रग्स की तस्करी, अफगानी नागरिक हिरासत में प्रीती सोनी …बॉलीवुड में नयी खूबसूरत मॉडल किसानों के ऋण तिथि बढ़ाने पर किया जायगा विचार: सहकारिता मंत्री
अलेप्पो में नागरिकों सुरक्षित रास्ता देने के लिए रूस तैयार
sanjeevnitoday.com | Wednesday, October 19, 2016 | 09:18:37 AM
1 of 1

नई दिल्ली। अलेप्पो के पूर्वी जिलों से नागरिकों और विद्रोहियों को सुरक्षित रास्ता देने के लिए रूस और सीरिया की सेना तैयार हो गई है। इसके लिए आठ घंटे के संघर्षविराम का एलान किया गया है। यह घोषणा विद्रोहियों के प्रभाव वाले इलाकों में हवाई हमलों में सात बच्चों समेत 36 लोगों की मौत के बाद की गई है। रूस के जनरल स्टाफ लेफ्टिनेंट जनरल सर्गेई रुदोस्की ने मॉस्को में बताया कि गुरुवार को सुबह आठ बजे से शाम चार बजे तक सेना मानवीय अल्पविराम का पालन करेगी। 

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

 

इस दौरान असैन्य नागरिक और विद्रोही शहर से सुरक्षित बाहर निकल सकते हैं। लड़ाकों, घायलों और बीमारों को विद्रोहियों के कब्जे वाले इदलिब प्रांत में जाने की अनुमति होगी। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार एजेंसी ने कहा है कि जब तक सभी पक्ष सुरक्षा की पूरी गारंटी नहीं देते वह मानवीय मदद लेकर अलेप्पो में दाखिल नहीं होगा। वैश्विक संगठन के मानवाधिकारियों ने मानवीय मदद पहुंचाने के लिए पूर्वी अलेप्पो में साप्ताहिक 48 घंटे के संघर्षविराम की अपील की थी। संयुक्त राष्ट्र में रूस के राजदूत विटली चुरकिन ने बताया कि आठ घंटे का संघर्षविराम एकतरफा है।

 

48 या 72 घंटे के संघर्षविराम के लिए सभी पक्षों के बीच आपसी सहमति जरूरी है। गौरतलब है कि 22 सितंबर को संघर्षविराम टूटने के बाद से रूस और सीरिया की सेना ने पूर्वी अलेप्पो में हवाई हमले तेज कर रखे हैं। सीरियन ऑब्जरवेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स के अनुसार इन हमलों में सौ बच्चों समेत पांच सौ से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। सीरिया में पांच साल से ज्यादा समय से चल रही हिंसा की अब तीन लाख से ज्यादा लोग भेंट चढ़ चुके हैं।

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...

यह भी पढ़े: दिलचस्प..! लड़कियां न्यूड होकर करती हैं तेज गाड़ियों की स्पीड को कंट्रोल…

यह भी पढ़े : खुशियां बाँट रही फीमेल डॉक्टर.. न्यूड होकर करती है इलाज, मरीजों की लगी रहती हैं लंबी कतार !

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.