चैनल हेड पर लगाया अभिनेत्री ने सनसनीखेज का आरोप... वरुण धवन हुए निराश, नही मिला वोटर लिस्ट में नाम लौटना पड़ा बिना मतदान एक्ट्रैस श्रद्धा कपूर पहुंची वोट डालने, फोटो क्लिक करते फोटोग्राफर के साथ हुआ कुछ ऐसा... बन गए अल्ट्रामैन, 3 दिन में 517km दौड़ लगाकर रच डाला इतिहास मिलिंद सोमन ने ये खट्टी-मीठी बातें दिलाती है बड़ी बहन की याद..! यहां लुक नही है मायने, है एक-दूसरे से बिल्कुल अलग फिर भी है साथ, ऐसे है यह कपल..! 7वां वेतन आयोग: बढ़ेगा कर्मचारियों का महंगाई भत्ता और एचआरए..! यूपी चुनाव में सबसे खूबसूरत उम्मीदवार, जो है काफी चर्चा में, तस्वीरें वायरल यहां बीमारी से पीड़ित लोगों को किडनैप कर, उनकी बॉडी पार्ट्स से बनाई जाती हैं दवाइयां..! संभल मे दस वर्षीय मासूम के साथ दुष्कर्म, पुलिस मामला दबाने मे जुटी मुख्यमंत्री को जब स्कूली बच्चों ने ’शिक्षक’ बनकर पढ़ाया... ट्रेन से कटकर वृद्ध की मौत गोमती नदी में डूबा छात्र, हंगामा नोटबंदी राष्ट्रहित में एक बड़ा फैसला : मनोज सिन्हा संदिग्ध परिस्थितियों में विवाहिता की मौत, दहेज हत्या का आरोप शेयर बाजार में आई तेजी, सेंसेक्स में 100 अंकों का उछाल सपा-बसपा ने राजनीति में फैलाया कीचड़, अब खिलेगा कमल: राजनाथ मुख्यमंत्री के साथ दिव्यांग बच्चों ने साझा किए अपने बड़े सपने एक साल में 82000 धनाढ्यों ने छोड़ा देश पुलिस व सीआरपीएफ ने डकैत को दबोचा
अलेप्पो में नागरिकों सुरक्षित रास्ता देने के लिए रूस तैयार
sanjeevnitoday.com | Wednesday, October 19, 2016 | 09:18:37 AM
1 of 1

नई दिल्ली। अलेप्पो के पूर्वी जिलों से नागरिकों और विद्रोहियों को सुरक्षित रास्ता देने के लिए रूस और सीरिया की सेना तैयार हो गई है। इसके लिए आठ घंटे के संघर्षविराम का एलान किया गया है। यह घोषणा विद्रोहियों के प्रभाव वाले इलाकों में हवाई हमलों में सात बच्चों समेत 36 लोगों की मौत के बाद की गई है। रूस के जनरल स्टाफ लेफ्टिनेंट जनरल सर्गेई रुदोस्की ने मॉस्को में बताया कि गुरुवार को सुबह आठ बजे से शाम चार बजे तक सेना मानवीय अल्पविराम का पालन करेगी। 

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

 

इस दौरान असैन्य नागरिक और विद्रोही शहर से सुरक्षित बाहर निकल सकते हैं। लड़ाकों, घायलों और बीमारों को विद्रोहियों के कब्जे वाले इदलिब प्रांत में जाने की अनुमति होगी। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार एजेंसी ने कहा है कि जब तक सभी पक्ष सुरक्षा की पूरी गारंटी नहीं देते वह मानवीय मदद लेकर अलेप्पो में दाखिल नहीं होगा। वैश्विक संगठन के मानवाधिकारियों ने मानवीय मदद पहुंचाने के लिए पूर्वी अलेप्पो में साप्ताहिक 48 घंटे के संघर्षविराम की अपील की थी। संयुक्त राष्ट्र में रूस के राजदूत विटली चुरकिन ने बताया कि आठ घंटे का संघर्षविराम एकतरफा है।

 

48 या 72 घंटे के संघर्षविराम के लिए सभी पक्षों के बीच आपसी सहमति जरूरी है। गौरतलब है कि 22 सितंबर को संघर्षविराम टूटने के बाद से रूस और सीरिया की सेना ने पूर्वी अलेप्पो में हवाई हमले तेज कर रखे हैं। सीरियन ऑब्जरवेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स के अनुसार इन हमलों में सौ बच्चों समेत पांच सौ से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। सीरिया में पांच साल से ज्यादा समय से चल रही हिंसा की अब तीन लाख से ज्यादा लोग भेंट चढ़ चुके हैं।

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...

यह भी पढ़े: दिलचस्प..! लड़कियां न्यूड होकर करती हैं तेज गाड़ियों की स्पीड को कंट्रोल…

यह भी पढ़े : खुशियां बाँट रही फीमेल डॉक्टर.. न्यूड होकर करती है इलाज, मरीजों की लगी रहती हैं लंबी कतार !

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.