बीजेपी की कार्यकारिणी बैठक में बोले पीएम मोदी मुकुल रॉय तृणमूल कांग्रेस से निलंबित, BJP में हो सकते हैं शामिल गडकरी 3 अक्टूबर को आंध्र प्रदेश में 4,468 करोड़ रुपये लागत की राजमार्ग परियोजनाओं का करेंगे शिलान्‍यास पीवी सिंधु को पद्म भषूण अवार्ड देने के लिए सिफारिश भेजी CBI कोर्ट के फैसले को राम रहीम ने हाईकोर्ट में दी चुनौती कंगारू टीम पर ढहा कहर, एश्टन एगर वनडे सीरीज से हुए बाहर वीडियो : राहुल गांधी ने गुजरात मे किया रोड शो, मोदी पर फिर साधा निशाना 'न्यूटन' को लेकर नया खुलासा- 'गणशत्रु' से मिलता-जुलता मूवी का पोस्टर रेलवे सुरक्षा बल 47 अतिरिक्‍त रेलवे स्‍टेशनों पर बाल सुरक्षा चलाएगा अभियान रोहिंग्या आतंकियों ने 28 हिन्दुओ को मारा, मिली सामूहिक कब्र: म्यांमार सेना वायुसेना प्रमुख हवाई में प्रशांत क्षेत्र के वायुसेना प्रमुखों की संगोष्‍ठी को संबोधित करेंगे टीम इंडिया ने की बादशाह कायम, ऐसा हुआ तो जल्द छिन सकता है नंबर 1 का ताज गुजरात मिशन पर बोले राहुल - इनके दिल में गरीबों का नहीं अमीरो का वास रेप केस में दिल्ली हाइकोर्ट ने महमूद फारूकी को किया बरी सीरीज हार पर स्मिथ ने कहा, एशेज श्रृंखला से पहले कुछ मैच में चाहता हूं विजय अखिलेश को मुलायम का आशीर्वाद, बोले अखिलेश - नेताजी जिंदाबाद, शिवपाल नदारद औरत ने बछड़े के साथ रचाई शादी, मानती है अपना पति 1.50 लाख रुपये तक की ये स्पोर्ट्स बाइक्स दिशा पाटनी ने करवाया हॉट फोटोशूट, देखें तस्वीरें यहां पर मिली विशालकाय मछली, देखने के लिए उमड़ी लोगों की भीड़
पाकिस्तानरेल मंत्री ने कहा- बुलेट ट्रेन चलाने के लिए नहीं है पैसा
sanjeevnitoday.com | Thursday, December 1, 2016 | 11:34:50 AM
1 of 1

इस्लामाबाद। भारत में जहां बुलेट ट्रेन का सपना जल्द पूरा होने वाला है, वहीं पाकिस्तान इस मामले में पिछड़ता हुआ दिखाई दे रहा है। पाकिस्तान के रेल मंत्री ख्वाजा रफीक ने संसद में कहा है कि पाक के पास इतना पैसा नहीं है कि देश में बुलेट ट्रेन चलाई जा सके। गौरतलब है कि चुनावों के दौरान नवाज शरीफ की पार्टी ने देश में बुलेट ट्रेन दौड़ाने का वाद किया था। हालांकि पैसा नहीं होने पर अब नवाज शरीफ सरकार चीन से मदद की आस लगा रही है। पाक सरकार चाहती है कि 46 बिलियन डॉलर की लागत से बनने वाले पाकिस्तान-चीन आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) के तहत चीन बुलेट ट्रेन बनाने में भी मदद करे।

 

गौरतलब है कि सीपीईसी के जरिए चीन खुद को ग्वादर बंदरगाह से जोड़ेगा। इस प्रोजेक्ट में पाकिस्तान के कई हित जुड़े हुए हैं। इसकी मदद से पाकिस्तान गंभीर ऊर्जा संकट से भी निकलने की कोशिश कर रहा है। पाक संसद में रेल मंत्री रफीक ने कहा कि जब हमने चीन अफसरों से बुलेट ट्रेन के बारे में चर्चा की तो वे हम पर हंस पड़े। हमें सीपीईसी के तहत 160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली ट्रेन को ही बुलेट ट्रेन समझ लेना चाहिए।


ख्वाजा ने साफ कहा कि पाकिस्तान बुलेट ट्रेन का खर्च नहीं उठा सकता है और पाकिस्तान में इसका कोई बाजार भी नहीं है। रेल मंत्री ने कहा कि भले ही इस मुद्दे पर हमारी सरकार की आलोचना हो रही हो, लेकिन देश में अपर व मिडिल क्लास यात्रियों की उतनी संख्या नहीं है, जो बुलेट ट्रेन का टिकट खरीद सके।

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

यह भी पढ़े : इस शख्स को फरारी कलेक्ट करने का है शौक, खरीद रखी हैं 330 करोड़ की कारें!

यह भी पढ़े :पति ने यौन संबंध बनाने से किया इन्कार, तो पत्नी ने किया ये...

यह भी पढ़े :इतने बड़े खतरनाक हादसे के बाद भी बच निकले ये दोनों बाप-बेटे, VIDEO



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.