इस लड़के से मौत भी रहती है कोसो दूर, हैरान कर दिया सबको किन्नर भी करेंगे शादी इस जगह ... जाने जरा इस लड़की के शरीर में नही एक भी पसली, इसलिए हुआ ऐसा चल गया पता ! पहले मुर्गी आयी या अंडा ... आप भी जाने कौन आया पहले हाथियों के डर से इस गांव के लोग घर बनाकर रहते हैं पेड़ों पर Room No. 502 ! आज भी दिखती है वो मरी हुई लड़की इस रूम में नाराज पिता व भाई ने युवती को धारदार हथियार से काटा मज़बूरी में 7 करोड़ में बेचनी पड़ी वर्जिनिटी इस लड़की को इस नवजात बच्ची की जीभ थी सामान्य से बड़ी फिर किया ये ... 5 सितारा होटल में अमेरिकी पर्यटक से सामूहिक दुष्कर्म ट्राले-बाइक में टक्कर, महिला की मौत नहीं रहे पूर्व अंतरराष्ट्रीय हॉकी अंपायर फुलेल सिंह सुजलाना आज का राशिफल (3 दिसम्बर 2016) जल्द बॉलीवुड में इंट्री करेगे सुनील शेट्टी के बेटे अहान नोटबंदी से कालाधन आएगा, यह परियों की कहानी जैसा: महेश भट्ट ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री कैमरन ने आज मोदी से की मुलाकात 'जॉली LLB 2' का पोस्टर जारी, अक्षय का नजर आया सीधा साधा लुक..! कन्हैया कुमार ने मोदी को बताया ट्रंप से बेहतर टीवी एक्ट्रेस श्वेता तिवारी के घर गुंजी नन्ही किलकारी..! अमेरिकी रक्षा मंत्री कार्टर अपनी आखिरी विश्व यात्रा पर अगले हफ्ते आएंगे भारत
नई ब्रह्मोस मिसाइल की रेंज में पूरा पाकिस्तान
sanjeevnitoday.com | Wednesday, October 19, 2016 | 08:53:09 AM
1 of 1

नई दिल्ली। भारत रूस के साथ मिलकर नई जेनरेशन की ब्रह्मोस मिसाइल बनाने की तैयारी कर रहा है जिसकी रेंज 600 किलोमीटर से कुछ अधिक होगी। इसके साथ ही इस मिसाइल की खास बात यह होगी कि इसकी जद में पूरा पाकिस्तान आ जाएगा। इस मिसाइल से पाकिस्तान के खिलाफ भारत की मारक क्षमता बढ़ जाएगी और पड़ोसी मुल्क की मुश्किलें इससे बढ़ जाएगी। दुश्मन के ठिकानों पर मिसाइल से अचूक निशाना भारत लगा पाएगा। इस साल भारत ने जून में मिसाइल टेक्नॉलजी कंट्रोल रिजीम (एमटीसीआर) की सदस्यता ली थी। रूस इससे काफी खुश है, इसलिए वह भारत के साथ मिलकर नई जेनरेशन की ब्रह्मोस मिसाइल बनाने का इच्छुक है।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166


इस बात का उल्लेख एमटीसीआर की गाइडलाइंस में है कि सदस्य देश 300 किलोमीटर से अधिक रेंज की मिसाइल ग्रुप से बाहर के देशों को ना ही बेच सकते हैं और ना ही उनके साथ मिलकर इन्हें बनाने की सोच सकते हैं। ब्रह्मोस की रेंज अभी 300 किलोमीटर है, जिससे पाकिस्तान में हर जगह निशाना भारत नहीं लगा सकता है। भारत के पास नई जेनरेशन की ब्रह्मोस मिसाइल से अधिक रेंज की बलिस्टिक मिसाइल हैं, लेकिन ब्रह्मोस की खासियत यह है कि इससे खास टारगेट को निशाना बनाया जा सकता है और उसे तबाह किया जा सकता है। जानकारों की माने तो पाकिस्तान के साथ यदि किसी प्रकार का टकराव होता है तो यह गेम चेंजर साबित सकता है हो। बलिस्टिक मिसाइल को आधी दूरी ही गाइड किया जाता है। इसके बाद की दूरी वे ग्रैविटी की मदद से तय करती हैं। 


उल्लेखनीय है कि क्रूज मिसाइल की पूरी रेंज गाइडेड प्रणाली पर है। ब्रह्मोस क्रूज मिसाइल है जो बिना पायलट वाले लड़ाकू विमान की तरह होगी, जिसे बीच रास्ते में भी कंट्रोल करने की क्षमता से लैस किया जाएगा। इसे किसी भी ऐंगल से अटैक के लिए प्रोग्राम किया जा सकता है। गोवा में हुए द्विपक्षीय समझौते में दोनों देशों के बीच नई मिसाइल बनाने पर सहमति बन चुकी है जिससे पाकिस्तान परेशान है। भारत और रूस के बीच हुए समझौते के तहत ऐसी कम रेंज की मिसाइल भी बनाई जाएगी, जिसे सबमरीन और हवाई जहाज से लॉन्च किया जा सकता है।

यह भी पढ़े: कोड़ी के भाव बेच दिए रिश्ते ! दोनों बेटी को कई बार बेचा, कई बार हुआ रेप लेकिन इसके बावजूद

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप
यह भी पढ़े: जवान होने से पहले ही लड़कियों की जबरन शादी, और फिर..
यह भी पढ़े: अजीब परम्परा! यहां लड़कियों के रेप में लड़को का साथ देते है घरवालें..!



0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.