लोकसभा उपचुनावः अजमेर से पायलट और अलवर से जितेंद्र सिंह को कांग्रेस दे सकती है मौका J&K: रामबन में SSB कैंप पर हमले में शामिल 2 हमलावर गिरफ्तार पेटीएम मॉल `मेरा कैशबैक सेल' में खरीद पर आकर्षक इनाम आज सिनेमाघरों में 'हसीना पारकर' सहित दस्तक देंगी ये चार फिल्मे नेपाल चीन के साथ 13 और एंट्री प्वाइंट्स खोलेगा पेट्रोल-डीज़ल पर लगने वाला वैट बिलकुल भी कम नहीं होगा: जयंत मलैया Video: ढिंचैक पूजा का नया गाना 'बापू दे दे थोड़ा कैश' हुआ रिलीज साइबर अपराध रोकने के लिए यह कदम उठाएगी सरकार: गृह मंत्री पाकिस्तान की गोलाबारी का भारतीय जवानो ने दिया मुंहतोड़ जवाब इकबाल कासकर का बड़ा खुलासा- फिलहाल पाकिस्तान में है दाऊद इब्राहिम! पीएम मोदी आज वाराणसी दौरे पर, कई विकास परियोजनाओं की करेंगे शुरूआत राम रहीम के बाद अब फलाहारी बाबा पर दुष्कर्म का अपराध दर्ज कीकू शारदा: पहले से भी ज्यादा दमदार तरीके से होगी 'द कपिल शर्मा' की वापसी विद्रोह और आतंकवाद के अभियान का पाकिस्तान लगातार हो रहा है शिकार: खकान अब्बासी ...तो हैटट्रिक से पहले कुलदीप ने इस खिलाडी से पूछा था 'कैसी गेंद डालूं' सोना 250 रुपये और चांदी 600 रुपये फिसली अपराधों को जड़ से समाप्त करने के लिए एक्शन प्लान तैयार करें अधिकारी: आराधना शुक्ला बनर्जी सरकार को जोर का झटका, मोहर्रम के दिन भी होगा दुर्गा विसर्जन डीपीसी: विद्यार्थियों की सुरक्षा के लिए शिक्षकों को दिलाएंगे शपथ हम पर दर्ज नहीं है अपराध यस बैंक ने की 2500 कर्मचारियों की छंटनी, डिजिटलीकरण बना कारण
सांसद की वजह से अमरीका में रह पाएगी भारतीय महिला सुनयना दुमाला
sanjeevnitoday.com | Thursday, September 14, 2017 | 04:44:16 PM
1 of 1

अमरीका। वाशिंगटन में अपराध व घृणा के एक मामले में भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचिभोतला की मौत के बाद अमरीका में रहने का अधिकार खो चुकी उनकी पत्नी को एक प्रभावशाली सांसद की मदद की वजह से अमरीका में रहने का अधिकार वापस मिल गया है। उन्हें कांग्रेस पार्टी के सांसद केविन योडर की मदद से उन्हें अमरीका में रहने के लिए अस्थायी कार्य वीजा मिल गया है।

ये भी पढ़े : वकील की गलती से लिएंडर पेस की हो गई बल्ले- बल्ले, बचे 90 ला

पत्रकारों ने योडर के हवाले से बताया की 32 वर्षीय भारतीय महिला सुनयना दुमाला के पति श्रीनिवास कुचिभोतला की फरवरी में कंसास के एक बार में हत्या कर दी गई थी। पति की मौत के बाद उन्होंने यहां रहने का अधिकार खो दिया था क्योंकि अमरीका में रहने की उन्हें मिली अनुमति का आधार कुचिभोतला के साथ विवाह ही था। योडर ने ट्विटर पर कहा है की हम सुनयना के साथ ऐसा नहीं होने देंगे। सुनयना दुमाला को उनका रेजिडेंसी स्टेटस वापस मिल गया है।जीपीएस निर्माता एक कंपनी में एविएशन सिस्ट्म्स इंजीनियर और प्रोग्राम्स मैनेजर कुचिभोतला अमरीका में अस्थायी गैर प्रवासी एच1बी वीजा पर रह रहे थे। यह वीजा उच्च कुशल कर्मियों को ही दिया जाता है।

ये भी पढ़े : व्हाट्सएप्प से पहले गूगल कर सकता हैं 'TEZ' एप्प का लॉन्

योडर ने पत्रकारों को बताया‘की जब सुनयना ने अपना रेजिडेंट स्टेटस खो दिया था। तो वास्तव में यह मेरे लिए एक घोर अपमान जैसा था। और  उन्होंने अस्थायी कार्य वीजा हासिल करने में उनकी मदद की।‘द न्यूयार्क टाइम्स’ ने योडर केहवाले से कहा है की सुनयना शुरूआत में जो त्रासदी झेली उसके बाद यह वास्तव में एक बड़ी त्रासदी होती कि वह अपने पति के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए भारत जाएं और बाद में उन्हें अमरीका आने से रोक दिया जाए।

योडर ने बताया‘ग्रीनकार्ड की अनुचित रूप से लंबित पड़े मामलों’ के कारण ऐसी आशंका थी कि सुनयना को उनकी वीजा स्थिति के कारण भारत में अपने घर लौटना पड़ सकता है।योडर ने कहा है की अच्छा हुआ की हम फिलहाल मे उनकी यहां रहने में मदद करने में हम सफल रहे है और हम उनकी यहां स्थायी रहने के लिए हम पूरा प्रयास रहे हैं। यदि हमारे विधेयक को पहले ही कानून में बदला गया होता तो उन्हें यहा स्थायी रहने का अधिकार मिल जाता और उन्हें अपने पति की मौत के बाद निर्वासन का खतरा नहीं झेलना पड़ता।

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 0931418818



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.