loading...
Pics: पति के साथ देखें सनी का बोल्ड अवतार Live INDvsAUS: ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी 285 रनों पर ऑल आउट, भारत को मिला 440 रनों का लक्ष्य प्रियंका ने संजय लीला भंसाली को दी जन्मदिन की शुभकामनाएं MCD चुनाव 2017: आम ने जारी की 109 उम्मीदवारों की सूची मैं ‘फर्जी खबरों’ के खिलाफ हूँ, प्रेस की आजादी के खिलाफ नहीं: Trump Snapdeal में शुरू हुआ छटनी का दौर,मची हलचल मिसबाह ने अभी तक नहीं किया कप्तानी छोड़ने फैसला, यूनिस खान ने की दावेदारी पेश Pics: इस टीवी एक्ट्रेस की बेटी ने करवाया बोल्ड फोटोशूट बंदूक की गोलियों से कुछ हासिल नहीं होगा: फारूक अब्दुल्ला केंद्र सरकार मार्च में लागू करेगी ईपीएफओ आवास योजना 7वां वेतन आयोग : राजस्थान के सरकारी कर्मचारियों के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी किम जोंग नम की हत्या जिस जहर से की वह संयुक्त राष्ट्र सामूहिक विनाश के हथियार की श्रेणी में जाता है गिना! बॉलीवुड के इस शानदार कपल की शादी को हुए 18 साल पूरे सुप्रीम कोर्ट ने राज्य क्रिकेट संघों से एक मार्च तक मांगी अनुपालन की रिपोर्ट क्रैश टेस्ट में पास हुई मारुति सुजुकी की ये नई कार BMC चुनाव 2017: BJP को चित करने के लिए शिवसेना ने अंदरखाने शुरू की कांग्रेस से सौदेबाजी नायक मोहिउद्दीन राठेर को हजारों नम आंखों ने दी विदाई! शांता रंगास्वामी ने महिला क्रिकेट को लेकर सीओए को लिखा पत्र भारत-इजरायल मिलकर बनाएंगे मिसाइल, 17000 करोड़ के सौदे को मिली हरी झंडी Video: देखिए ‘बद्रीनाथ की दुल्हनिया’ का गाना ‘आशिक सरेंडर हुआ’
BRICS 2016: भारत-नेपाल ने किया रिश्तों को नए स्तर पर ले जाने का वादा
sanjeevnitoday.com | Monday, October 17, 2016 | 05:53:40 PM
1 of 1

पणजी। 8वें ब्रिक्स सम्मेलन के आधिकारिक समापन के बाद भारत-नेपाल के बीच गोवा में ही द्विपक्षीय वार्ता हुई जिसमें भारत के प्रधानमंंत्री नरेंद्र मोदी और नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल प्रचंड ने दोनों के देशों के बीच रिश्तों को नए स्तर पर ले जाने की बात की। नेपाल ने भारत के आतंकवाद के मुद्दे पर साथ खड़े होने का वादा किया और दोनों ही देशों ने मंत्री, सचिव, बिजनेस सहित अलग-अलग स्तर की बातचीत के दौर लगातार जारी रखने की आवश्यकता को समझा। 

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

 
 नेपाल-भारत द्विपक्षीय वार्ता के दौरान नरेंद्र मोदी ने कहा कि नेपाल के प्रधानमंत्री से वे दूसरी बार मिल रहे है और वे चाहते हैं कि भारत-नेपाल के बीच मुलाकातों, बैठकों का दौर जारी रहे, क्योंकि भारत-नेपाल के बीच संबंधों का एक गौरवशाली इतिहास रहा है। नरेंद्र मोदी ने नेपाल के प्रधानमंत्री के संविधान सुधारों को लेकर किए जा रहे प्रयासों की सराहना की और कहा कि नेपाल का लोकतंत्र में आस्था रखना और देश के सभी समूहों को समान अधिकार देने के प्रयास करना एक अच्छा कदम है। वहीं नेपाल के प्रधानमंत्री ने आतंकवाद से भारत की लड़ाई में साथ देने की अपनी बात दोहराई। नेपाल के प्रधानमंत्री ने हाल ही में होने वाली मंत्रिस्तरीय बैठक को लेकर भारत का आभार माना। प्रचंड ने भारत से जूट डंपिंग सहित कुछ आर्थिक मुददों पर ध्यान देने की गुजारिश की जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जल्द से जल्द  पूरा करने का वादा किया। 
 
नेपाल भारत के उत्तरी भूभाग की एक लंबी सीमा बनाता है और भारत -चीन के बीच स्थित हिमालय राज्य है। भारत की तरह ही नेपाल की अधिसंख्य जनसंख्या हिंदू है। नरेंद्र मोदी के भारत का प्रधानमंत्री बनने के बाद भारत-नेपाल के बीच जलविद्युत को लेकर समझौते हुए हैं। भारत नेपाल में जलविद्युत उत्पादन के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर, तकनीकी और आर्थिक सहयोग दे रहा है। साथ ही भारत,  नेपाल से अतरिक्त जलविद्युत भी खरीदेगा। हाल के दिनों में नेपाल में आई राजनैतिक अस्थिरता के दौर में भारत- नेपाल के संबंध प्रभावित हुए थे। इसी तरह भारत, नेपाल को लेकर चीन के बढ़ते रुझान पर भी लगातार नजर बनाए हुए है। ऐसे हालात में ब्रिक्स-बिमस्टेक आउटरिच समिट के दौरान भारत-नेपाल के बीच द्विपक्षीय समझौता अहम माना जा रहा है। भारत- नेपाल बिमस्टेक, सार्क सहित कई अंतरराष्ट्रीय समूहों में साथ है। 

यह भी पढ़े : बिस्तर में अपने साथी से कुछ ऐसा चाहती हैं लड़कियां...!!

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...

यह भी पढ़े : क्या आप जानते है छोटे स्तन होने के ये 10 फायदे...?

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

 



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.