loading...
आज सीएम हाउस में गृह प्रवेश करेंगे योगी, शाम को होगी फलाहार पार्टी VIDEO: "ऐरो" शो में फिर से नजर आएगी केटी कासिडी! आखिर क्यों राजीव से अक्षय बनें बॉलीवुड के 'खिलाड़ी' कुमार, जानिए... लोकसभा में आज पास हो सकते हैं GST से जुड़े 4 बिल भारत-पाकिस्तान सीरीज को लेकर BCCI ने गृह मंत्रालय से मांगी अनुमति SBI कार्ड में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाकर 74% करेगा एसबीआई OMG: फिर दिखा मलाइका अरोड़ा का बिंदास अंदाज़, देखें तस्वीरें रामचंद्र गुहा ने कहा- BJP और मोदी की आलोचना पर मुझे मिल रही हैं धमकियां धर्म गुरु दलाई लामा को उल्फा (आई) की धमकी, चीन के खिलाफ कुछ भी न बोले VIDEO: देखिये पॉल वॉकर और उनकी बेटी के खूबसूरत पल! हिन्दी और बांग्ला फ़िल्मों में अपनी छाप छोड़ने वाले प्रसिद्ध अभिनेता थे उत्पल दत्त! टाटा सन्स ग्रुप कंपनियों में 10,000 करोड़ रुपये का करेगी इनवेस्ट UP में अवैध बूचड़खानों के बैन होने के बाद 5 और राज्‍यों में अवैध मीट की दुकानों पर कसा शिकंजा राहुल बोस की 'पूर्णा' देख रो पड़े राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी VIDEO: देखिये क्रिकेट के यादगार ऐतिहासिक पल! इतिहास: हिन्दी के प्रसिद्ध कवि तथा गांधीवादी विचारक थे भवानी प्रसाद मिश्र! डाओ में हुई 150 अंक की तेजी एंटी रोमियो अभियान के तहत चचेरे भाई बहन को किया गिरफ्तार, फिर... अगर किसी के साथ अन्याय हुआ है तो उसे खुलकर सामने आना चाहिए: एहसान कुरैशी ऑस्ट्रलिया में चक्रवाती तूफान 'डेबी' का कहर, क्वींसलैंड में भूस्खलन
BRICS 2016: भारत-नेपाल ने किया रिश्तों को नए स्तर पर ले जाने का वादा
sanjeevnitoday.com | Monday, October 17, 2016 | 05:53:40 PM
1 of 1

पणजी। 8वें ब्रिक्स सम्मेलन के आधिकारिक समापन के बाद भारत-नेपाल के बीच गोवा में ही द्विपक्षीय वार्ता हुई जिसमें भारत के प्रधानमंंत्री नरेंद्र मोदी और नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल प्रचंड ने दोनों के देशों के बीच रिश्तों को नए स्तर पर ले जाने की बात की। नेपाल ने भारत के आतंकवाद के मुद्दे पर साथ खड़े होने का वादा किया और दोनों ही देशों ने मंत्री, सचिव, बिजनेस सहित अलग-अलग स्तर की बातचीत के दौर लगातार जारी रखने की आवश्यकता को समझा। 

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

 
 नेपाल-भारत द्विपक्षीय वार्ता के दौरान नरेंद्र मोदी ने कहा कि नेपाल के प्रधानमंत्री से वे दूसरी बार मिल रहे है और वे चाहते हैं कि भारत-नेपाल के बीच मुलाकातों, बैठकों का दौर जारी रहे, क्योंकि भारत-नेपाल के बीच संबंधों का एक गौरवशाली इतिहास रहा है। नरेंद्र मोदी ने नेपाल के प्रधानमंत्री के संविधान सुधारों को लेकर किए जा रहे प्रयासों की सराहना की और कहा कि नेपाल का लोकतंत्र में आस्था रखना और देश के सभी समूहों को समान अधिकार देने के प्रयास करना एक अच्छा कदम है। वहीं नेपाल के प्रधानमंत्री ने आतंकवाद से भारत की लड़ाई में साथ देने की अपनी बात दोहराई। नेपाल के प्रधानमंत्री ने हाल ही में होने वाली मंत्रिस्तरीय बैठक को लेकर भारत का आभार माना। प्रचंड ने भारत से जूट डंपिंग सहित कुछ आर्थिक मुददों पर ध्यान देने की गुजारिश की जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जल्द से जल्द  पूरा करने का वादा किया। 
 
नेपाल भारत के उत्तरी भूभाग की एक लंबी सीमा बनाता है और भारत -चीन के बीच स्थित हिमालय राज्य है। भारत की तरह ही नेपाल की अधिसंख्य जनसंख्या हिंदू है। नरेंद्र मोदी के भारत का प्रधानमंत्री बनने के बाद भारत-नेपाल के बीच जलविद्युत को लेकर समझौते हुए हैं। भारत नेपाल में जलविद्युत उत्पादन के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर, तकनीकी और आर्थिक सहयोग दे रहा है। साथ ही भारत,  नेपाल से अतरिक्त जलविद्युत भी खरीदेगा। हाल के दिनों में नेपाल में आई राजनैतिक अस्थिरता के दौर में भारत- नेपाल के संबंध प्रभावित हुए थे। इसी तरह भारत, नेपाल को लेकर चीन के बढ़ते रुझान पर भी लगातार नजर बनाए हुए है। ऐसे हालात में ब्रिक्स-बिमस्टेक आउटरिच समिट के दौरान भारत-नेपाल के बीच द्विपक्षीय समझौता अहम माना जा रहा है। भारत- नेपाल बिमस्टेक, सार्क सहित कई अंतरराष्ट्रीय समूहों में साथ है। 

यह भी पढ़े : बिस्तर में अपने साथी से कुछ ऐसा चाहती हैं लड़कियां...!!

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...

यह भी पढ़े : क्या आप जानते है छोटे स्तन होने के ये 10 फायदे...?

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

 



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.