संजीवनी टुडे

News

नई ब्रह्मोस मिसाइल की रेंज में पूरा पाकिस्तान

संजीवनी टुडे 19-10-2016 08:53:09

Pakistan complete range of new BrahMos missile

नई दिल्ली। भारत रूस के साथ मिलकर नई जेनरेशन की ब्रह्मोस मिसाइल बनाने की तैयारी कर रहा है जिसकी रेंज 600 किलोमीटर से कुछ अधिक होगी। इसके साथ ही इस मिसाइल की खास बात यह होगी कि इसकी जद में पूरा पाकिस्तान आ जाएगा। इस मिसाइल से पाकिस्तान के खिलाफ भारत की मारक क्षमता बढ़ जाएगी और पड़ोसी मुल्क की मुश्किलें इससे बढ़ जाएगी। दुश्मन के ठिकानों पर मिसाइल से अचूक निशाना भारत लगा पाएगा। इस साल भारत ने जून में मिसाइल टेक्नॉलजी कंट्रोल रिजीम (एमटीसीआर) की सदस्यता ली थी। रूस इससे काफी खुश है, इसलिए वह भारत के साथ मिलकर नई जेनरेशन की ब्रह्मोस मिसाइल बनाने का इच्छुक है।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166


इस बात का उल्लेख एमटीसीआर की गाइडलाइंस में है कि सदस्य देश 300 किलोमीटर से अधिक रेंज की मिसाइल ग्रुप से बाहर के देशों को ना ही बेच सकते हैं और ना ही उनके साथ मिलकर इन्हें बनाने की सोच सकते हैं। ब्रह्मोस की रेंज अभी 300 किलोमीटर है, जिससे पाकिस्तान में हर जगह निशाना भारत नहीं लगा सकता है। भारत के पास नई जेनरेशन की ब्रह्मोस मिसाइल से अधिक रेंज की बलिस्टिक मिसाइल हैं, लेकिन ब्रह्मोस की खासियत यह है कि इससे खास टारगेट को निशाना बनाया जा सकता है और उसे तबाह किया जा सकता है। जानकारों की माने तो पाकिस्तान के साथ यदि किसी प्रकार का टकराव होता है तो यह गेम चेंजर साबित सकता है हो। बलिस्टिक मिसाइल को आधी दूरी ही गाइड किया जाता है। इसके बाद की दूरी वे ग्रैविटी की मदद से तय करती हैं। 


उल्लेखनीय है कि क्रूज मिसाइल की पूरी रेंज गाइडेड प्रणाली पर है। ब्रह्मोस क्रूज मिसाइल है जो बिना पायलट वाले लड़ाकू विमान की तरह होगी, जिसे बीच रास्ते में भी कंट्रोल करने की क्षमता से लैस किया जाएगा। इसे किसी भी ऐंगल से अटैक के लिए प्रोग्राम किया जा सकता है। गोवा में हुए द्विपक्षीय समझौते में दोनों देशों के बीच नई मिसाइल बनाने पर सहमति बन चुकी है जिससे पाकिस्तान परेशान है। भारत और रूस के बीच हुए समझौते के तहत ऐसी कम रेंज की मिसाइल भी बनाई जाएगी, जिसे सबमरीन और हवाई जहाज से लॉन्च किया जा सकता है।

यह भी पढ़े: कोड़ी के भाव बेच दिए रिश्ते ! दोनों बेटी को कई बार बेचा, कई बार हुआ रेप लेकिन इसके बावजूद

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप
यह भी पढ़े: जवान होने से पहले ही लड़कियों की जबरन शादी, और फिर..
यह भी पढ़े: अजीब परम्परा! यहां लड़कियों के रेप में लड़को का साथ देते है घरवालें..!

More From world

loading...
Trending Now
Recommended