'संयोग और वियोग' दोनों ही प्रकृति के धर्म रक्तदान के बराबर काेई दान नहीं है रघुवर दास के काल में चरमरा गई है स्वास्थ्य सुविधा निशुल्क चिकित्सा शिविर में स्कूली बच्चो का स्वास्थ्य जांचा सांसद राजेश रंजन ने कहा- शिक्षा और स्वास्थ्य का राष्ट्रीयकरण होना जरूरी खंडहर घोषित हो चुकी आवासीय बिल्डिंग से मोह नहीं त्याग कर पा रहे हैं स्वास्थ्य कर्मी अनुसूचितजाति कल्याण परिषद तहसील ठियोग ने मधान क्षेत्र की उपेक्षा पर जताई नाराजगी 12 घंटे के दौरान अस्पताल में मचा दो बार बवाल, स्वास्थ्य कर्मियों में गहराया रोष 3rd ODI: इंदौर में कंगारुओं के सामने विराट सेना की निगाहे सीरीज जीत के चौके पर अपने एक्स BF रणवीर से इस अंदाज में मिली अनुष्का, देखे फोटो हर साल 1000 खिलाडिय़ों को 5-5 लाख रुपए देने की घोषणा: खेल मंत्री प्रो कबड्डी लीग 2017: बंगाल ने बेंगलुरु बुल्स को हराया ऑस्ट्रेलिया हॉकी लीग: भारत की पुरुष और महिला 'ए' टीम हुई रवाना कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला का दाऊद को लेकर बड़ा बयान इस नए प्रोजेक्ट के लिए पत्नी संग जयपुर पहुंचे संजय दत्त, देखे फोटो शहंशापुरः पीएम ने स्वच्छता अभियान में लिया हिस्सा तीसरे वनडे के लिए वार्नर ने AUS के बल्लेबाजों को दिया मूल मंत्र Box office: दो दिन के भीतर ही फिल्म 'जय लव कुश' हुई हिट, कमाए 60 करोड़ पूर्व सेवादार गुरूदास का बडा खुलासा, गुरमीत को ब्लू फिल्म देखने का था शौक टीम में बल्लेबाजी क्रम को लेकर नहीं हूं चिंतित: रहाणे
पनामागेट मामले में नवाज शरीफ के खिलाफ फिर शुरू हुई सुनवाई
sanjeevnitoday.com | Monday, July 17, 2017 | 01:32:43 PM
1 of 1

इस्लामाबाद। आज सुप्रीम कोर्ट ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ भ्रष्टाचार के हाई प्रोफाइल पनामागेट मामले में सुनवाई फिर शुरू कर दी है। हफ्तेभर पहले ही जांच पैनल ने अपनी आखरी रिपोर्ट में शरीफ और उनके बच्चों के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दर्ज करने की सिफारिश की थी। 

 

सुप्रीम कोर्ट के इर्दगिर्द सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। सुनवाई के मद्देनजर करीब 700 पुलिसकर्मी, रेंजर्स और स्थानीय प्रशसान के कर्मचारी तथा अधिकारियों को तैनात किया गया। शीर्ष अदालत ने 67 वर्षीय शरीफ के खिलाफ धन शोधन के आरोपों की जांच के लिए 6 सदस्यीय संयुक्त जांच दल (जेआईटी) का गठन किया था, 10 जुलाई को जिसने 60 दिन की पड़ताल के बाद रिपोर्ट अदालत को सौंप दी थी।

 

JIT ने बीते 10 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट को सौंपी अपनी रिपोर्ट में सुझाव दिया कि शरीफ, उनके बेटों हसन एवं हुसैन नवाज तथा उनकी बेटी मरियम पर राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) अध्यादेश 1999 के दौरान भ्रष्टाचार का मामला दर्ज किया जाए। अदालत ने रिपोर्ट मिलने के बाद आदेश दिया कि इसकी प्रतियां सभी पक्षों को तैयार करवाई जाए।

 

रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ के मुताबिक, सरकार JIT की रिपोर्ट को अदालत में चुनौती देगी। शरीफ की बेटी मरियम ने भी रिपोर्ट को खारिज करते हुए कहा कि JIT रिपोर्ट मंजूर नहीं किया। हर विरोधाभास का ना केवल जवाब दिया जाएगा बल्कि यह सुप्रीम कोर्ट में खत्म भी हो जाएगा। मुख्य विपक्षी दलों ने शरीफ से कहा था कि जब तक वे इस मामले से पाक साफ बाहर नहीं आ जाते तब तक वे सत्ता से दूर ही रहें, लेकिन शरीफ ने JIT के निष्कर्षों को ना मंजूर करते हुए इस्तीफा देने से मना कर दिया था।

Watch Video

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188 



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.