जन्मदिन पर बेटे के साथ ताल से ताल मिलती नजर आई संजय दत्त की पत्नी मान्यता धोखाधड़ी कर 73 लाख रुपये हड़पे महिला विश्वकप 2017 : क्या मिताली राज की शेरनियां ला पायेगी विश्व कप? फिल्मों की दुनिया में आने के लिए करीना की 'जब वी मेट' ने किया आकर्षित: अनुष्‍का 30 किलो गांजे के साथ दो तस्करो को किया गिरफ्तार राशिफल : 23 जुलाई : कैसा रहेगा आपके लिए रविवार का दिन, जानने के लिए क्लिक करें देश और दुनिया के इतिहास के 23 जुलाई की महत्वपूर्ण घटनाएं युवक ने की महिला से छेड़छाड़, मामला दर्ज छेड़छाड़ की रिपोर्ट न लिखने पर इंस्पेक्टर के विरुद्ध मुकदमा दर्ज सफेद हाथी साबित हो रहा है औद्योगिक सुरक्षा एवं स्वास्थ्य निदेशालय स्वास्थ्य विभाग की देखरेख में हो बच्चों का टीकाकरण रामचंद्र चंद्रवंशी ने कहा- झारखंड राज्य को स्वास्थ्य के क्षेत्र में नंबर वन बनाएंगे समाज में संकुचित सोच ही नारी की सबसे बड़ी दुश्मन: गीता सहारण नागरिकों को खुद को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होने की जरूरत स्वास्थ्य विभाग ने तीन निजी अस्पतालों पर छापा मारा शांति मानवता का मुख्य धर्म व युवा देश की रीढ़ की हड्डी हैं स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर के खिलाफ लगाए मुर्दाबाद के नारे स्वास्थ्य विभाग ने फूड प्वाइज¨नग की आशंका जताई पाक ने सीमा पर फिर किया सीजफायर का उल्लंघन, 2 जवान शहीद वीडियो: योग टीचर पर कहर बनकर टुटा नारियल का पेड़, हुई मौत
बड़ी खबर : अमेरिकी सरकार ने कहा भारत के साथ संबंध होंगे मजबूत
sanjeevnitoday.com | Monday, October 17, 2016 | 10:40:53 PM
1 of 1

वाशिंगटन। सूत्रों के अनुसार  पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकवादी संगठनों के खिलाफ ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ के भारत के कदम का समर्थन करते हुए अमेरिका के प्रभावशाली नीति निर्माताओं के एक समूह और पूर्व रक्षा अधिकारियों ने आज कहा कि इस्लामी चरमपंथ का मुकाबला करने के लिए भारत के साथ संबंध मजबूत करना मौजूदा और अगले प्रशासन के लिए शीर्ष प्राथमिकता होनी चाहिए।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

समूह ने ट्रम्प, हिलेरी प्रचार अभियान और ओबामा प्रशासन को लिखे एक खुले पत्र में कहा है कि अमेरिका हिंद प्रशांत क्षेत्र को फिर से संतुलित करने का काम जारी रखे हुए हैं ऐसे में वाशिंगटन और नयी दिल्ली के बीच रणनीतिक, आर्थिक और सैन्य साझेदारी बढ़ाना सबसे अधिक अहमियत रखता है। पत्र में कहा गया है कि दुनिया के दो सबसे बड़े दो लोकतंत्रों में रक्षा सहयोग बढ़ाना चीन की बढ़ती सक्रियता से पैदा होने वाली चुनौतियों के खिलाफ एकजुट होकर खड़े होना अमेरिका के अगले राष्ट्रपति के लिए एजेंडा में शीर्ष पर होना चाहिए। 

एशिया..प्रशांत मुद्दों पर ट्रम्प के प्रचार अभियान के सलाहकार पुनीत आहलूवालिया और कांग्रेस में पूर्व वरिष्ठ सलाहकार एलेक्जेंडर ग्रे द्वारा यह पहल की गई। इस पत्र के जरिए ओबामा प्रशासन, राष्ट्रपति चुनाव के दोनों उम्मीदवारों को क्षेत्र को दी जाने वाली पूरी विदेशी सहायता की समीक्षा करने की अपील की गई है। इसका यह मकसद है कि अमेरिकी कर दाताओं के डॉलर का इस्तेमाल अमेरिकी नागरिकों पर हमले और क्षेत्र में लोकतांत्रिक साझेदारों पर नहीं हो सके।

इसने कहा है कि कांग्रेस में व्यापक अनुभव होने के नाते हम भारत के लोगों के साथ अपनी एकजुटता जाहिर करते हैं क्योंकि वे अपने देश और मूल्यों को हिंसक इस्लामवाद से बचाना चाहते हैं। पत्र में कहा गया है कि भारत सरकार और नागरिकों को निशाना बना कर किए गए हमलों में हाल में तेजी आने पर नयी दिल्ली अपनी संप्रभुता और लोगों को बचाने के लिए सक्रिय कदम उठा रहा है। इसमें कहा गया है, ‘‘हम सभी अमेरिकी लोगों से भारत में अपने दोस्तों के साथ खड़े होने का अनुरोध करते हैं क्योंकि वे लोग आतंकवाद के खिलाफ खुद की रक्षा कर रहे हैं। साथ ही वे एक अधिक शांतिपूर्ण और समृद्ध हिंद प्रशांत क्षेत्र बनाने के लिए अमेरिका के साथ काम कर सकें।’’

यह भी पढ़े : भागदौड़ भरी जिंदगी मे यूं लगाएं सेक्स लाइफ में तड़का...!

यह भी पढ़े : मजेदार! जानकर होगी हैरानी.. गर्लफ्रेंड के दूर जाते ही लड़के जरूर करते है यह हरकत

यह भी पढ़े : जब महिला ने एक साथ दिया 4 बच्चों को जन्म

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

 



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.