समाजवादी पेंशन योजना के खिलाफ याचिका पर सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट का इनकार छोटे ने की बड़े भाई की हत्या, फरार विश्व जूनियर स्क्वैश चैंपियनशिप 2018 की मेजबानी करेगा भारत मुख्यमंत्री ने चुनाव से पहले शिवसेना के साथ गठबंधन करने का दिया संकेत तापसी पन्नू अपने फैन की शादी में होंगी शामिल राज्य क्रिकेट संघों के बारे में फैसले पर सफाई देने की अर्जी पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट संदिग्ध हालात में अधेड़ ने लगाई फांसी खेलमंत्री ने नेत्रहीन टी-20 विश्व कप जीतने पर भारतीय टीम को किया सम्मानित OMG: इस डांस में बुजुर्ग महिला की एनर्जी देखकर दंग रह जाएंगे आप :Watch video मीट कारोबारी मोईन कुरैशी और पूर्व सीबीआई निदेशक के खिलाफ FIR, छापेमारी ट्रेन की चपेट में आया युवक, मौत पायलट ने भाजपा सरकार पर भ्रष्टाचार का लगाया आरोप Alert: 5 सेकंड में चोरी हो सकता है आपका WhatsApp डाटा सुप्रीम कोर्ट की शरण में गायत्री प्रजापति, एफआईआर वापस लेने की अर्जी एक तरफा प्यार में पागल सैनिक ने प्रेमिका के मंगेतर को मारा जानिए पार्ले-जी के पैकेट पर बनी ये लड़की कौन है 'द कपिल शर्मा' शो पर वरुण ने किया अपनी दुल्हनिया को प्रपोज, देखें तस्वीरें कालिन्दी एक्सप्रेस के चालक सहित 4 कर्मचारी निलंबित अभिभाषण के लिए राज्यपाल विधानसभा जायेंगे विश्व महिला शतरंज के क्वार्टर फाइनल में पहुंची हरिका
बलूच नेता की हत्या पर पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट
sanjeevnitoday.com | Monday, November 28, 2016 | 10:56:59 PM
1 of 1

इस्लामाबाद। समाचार पत्र 'डॉन' के अनुसार, बलूचिस्तान उच्च न्यायालय की एक खंडपीठ ने आतंकवाद रोधी अदालत द्वारा पूर्व राष्ट्रपति को बरी किए जाने को चुनौती देने वाली एक पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई करते हुए यह आदेश पर पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है।  

बलूचिस्तान के कोहलू जिले में तारातानी की दुर्गम पहाड़ियों में एक अभियान के दौरान 26 अगस्त, 2006 को बलूच नेता बुगती की हत्या कर दी गई थी,बुगती ने प्रांतीय स्वायत्तता और बलूचिस्तान के प्राकृतिक संसाधनों से प्राप्त लाभ में एक बड़ी हिस्सेदारी की मांग को लेकर सशस्त्र अभियान का नेतृत्व किया था,  बलूच नेता की मौत के बाद देश के कुछ भागों में विरोध प्रदर्शन हुए थे। 

नवाब अकबर खान बुगती  पाकिस्तान स्थित बलूचिस्तान प्रांत के एक राष्ट्रवादी नेता थे जो बलूचिस्तान को पाकिस्तान से अलग एक देश बनाने के लिए संघर्ष कर रहे थे।cके कोहलू जिले में एक सैन्य कार्रवाई में अकबर बुगती और उनके कई सहयोगियों की हत्या कर दी गई थी।
मुशर्रफ का शासन समाप्त होने के बाद अगली सरकार द्वारा 13 जून 2013 को इस हत्या के सिलसिले में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। हालांकि अक्टूबर 2013 में इस मामले में सबूतों के अभाव में उन्हें जमानत दे दी गई।

न्यायमूर्ति जमाल मोखल और न्यायमूर्ति जहीरुद्दीन कक्कर ने दिवंगत अकबर बुगती के पुत्र नवाबजादा जमील बुगती की पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई की. पूर्व राष्ट्रपति मुशर्रफ की ओर से अदालत में पेश वकील अख्तर शाह ने तर्क दिया कि यद्यपि उनके मुवक्किल अदालत का सम्मान करते हैं, लेकिन सुरक्षा कारणों से वह अदालत में उपस्थित नहीं हो सकते हैं.

हालांकि, बुगती के वकील ने शिकायत की कि लगातार आदेश दिए जाने के बावजूद पूर्व राष्ट्रपति अदालत के समक्ष पेश होने में विफल हुए हैं. अदालत ने आदेश दिया कि पूर्व राष्ट्रपति की अदालती पेशी के दौरान प्रशासन को उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए।

यह भी पढ़े: गर्लफ्रैंड के गालों के रंग से जानिए वो कितनी लकी है आपके लिए..!

यह भी पढ़े: तर्क ! इन कारणों को वजह से बढ़ रहा लड़कियों का बलात्कार ...पढ़िए जरा

यह भी पढ़े: लड़कियों के ये अंग उन्हें बनाते है और भी ज्यादा कामुक, बढ़ती है सेक्स की भावना... ये है वो अंग

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.