'संयोग और वियोग' दोनों ही प्रकृति के धर्म रक्तदान के बराबर काेई दान नहीं है रघुवर दास के काल में चरमरा गई है स्वास्थ्य सुविधा निशुल्क चिकित्सा शिविर में स्कूली बच्चो का स्वास्थ्य जांचा सांसद राजेश रंजन ने कहा- शिक्षा और स्वास्थ्य का राष्ट्रीयकरण होना जरूरी खंडहर घोषित हो चुकी आवासीय बिल्डिंग से मोह नहीं त्याग कर पा रहे हैं स्वास्थ्य कर्मी अनुसूचितजाति कल्याण परिषद तहसील ठियोग ने मधान क्षेत्र की उपेक्षा पर जताई नाराजगी 12 घंटे के दौरान अस्पताल में मचा दो बार बवाल, स्वास्थ्य कर्मियों में गहराया रोष 3rd ODI: इंदौर में कंगारुओं के सामने विराट सेना की निगाहे सीरीज जीत के चौके पर अपने एक्स BF रणवीर से इस अंदाज में मिली अनुष्का, देखे फोटो हर साल 1000 खिलाडिय़ों को 5-5 लाख रुपए देने की घोषणा: खेल मंत्री प्रो कबड्डी लीग 2017: बंगाल ने बेंगलुरु बुल्स को हराया ऑस्ट्रेलिया हॉकी लीग: भारत की पुरुष और महिला 'ए' टीम हुई रवाना कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला का दाऊद को लेकर बड़ा बयान इस नए प्रोजेक्ट के लिए पत्नी संग जयपुर पहुंचे संजय दत्त, देखे फोटो शहंशापुरः पीएम ने स्वच्छता अभियान में लिया हिस्सा तीसरे वनडे के लिए वार्नर ने AUS के बल्लेबाजों को दिया मूल मंत्र Box office: दो दिन के भीतर ही फिल्म 'जय लव कुश' हुई हिट, कमाए 60 करोड़ पूर्व सेवादार गुरूदास का बडा खुलासा, गुरमीत को ब्लू फिल्म देखने का था शौक टीम में बल्लेबाजी क्रम को लेकर नहीं हूं चिंतित: रहाणे
सोलर सड़क ! अब सोलर सड़क देगी आपके घर बिजली कुछ इस तरह, तकनीक का नया अविष्कार
sanjeevnitoday.com | Monday, November 28, 2016 | 03:34:25 PM
1 of 1

नई दिल्ली। तकनीक ने एक और आविष्कार किया जो आपके लिए उपयोगी है। अगर सबकुछ ठीक रहा तो जल्द ही सोलर सड़कें सूर्य की रोशनी का इस्तेमाल कर आपके शहर को जगमग कर सकती हैं। फ्रांस की एक कंपनी बिजली पैदा करने के लिए जल्द ही ऐसे सोलर पैनल वाली सड़कें बनाने की दिशा में काम कर रही है, जो सूर्य की रोशनी का प्रयोग कर बिजली पैदा करेगी।

 18 पहिये वाले ट्रक का वजन उठा सकती हैं

सूरज की रोशनी को बिजली में बदलने वाली इलेक्ट्रॉनिक एवेन्यू जल्द ही शहरों में हकीकत बन सकती हैं। फ्रांस की बूइख इंजिनियरिंग ग्रुप की सब्सिडियरी कोलास एसए ने एक ऐसा सोलर पैनल डिजाइन किया है जो 18 पहिये वाले ट्रक का वजन उठा सकती हैं। फिलहाल पैनल को सड़क के ऊपर इस्तेमाल के योग्य बनाया जा रहा है और इसके लिए जल्द ही परीक्षण की शुरुआत होगी। कोलास एसए के मुख्य तकनीकी अधिकारी फिलिप हर्ले ने कहा, ' सोलर फर्में अभी ऐसी जमीन का इस्तेमाल करती हैं जिनका इस्तेमाल खेती के लिए भी हो सकती हैं। वहीं सड़क का इस्तेमाल आसान है।' 5 साल की रिसर्च और टेस्ट के बाद कंपनी 100 आउटडोर टेस्ट साइट बना रही है जहां इसका टेस्ट होगा। कंपनी की योजना इसे 2018 की शुरुआत में व्यवसायिक तौर पर शुरू करना है।

फ्रांच के नोर्वांडी के टूरोवूर गांव में परीक्षण साइट के लिए निर्माण पिछले महीने शुरू हो चुका है। 2,800 स्क्वेयर मीटर के सोलर पैनल से करीब 280 किलो वाट बिजली पैदा होने की उम्मीद है। कंपनी ने बताया कि इस बिजली से 5,000 की आबादी वाले एक शहर की सभी सार्वजनिक जगहों को पूरे साल तक बिजली दी जा सकती है। फिलहाल इसकी लागत ज्यादा होने से इसे केवल कुछ परियोजनाओं तक ही सीमित रखा गया है।

यह भी पढ़े : शर्मनाक ! 30 मिनट तक चली इस बड़े न्यूज़ चैनल पर पोर्न मूवी ... लोगो ने की कड़ी आलोचना

यह भी पढ़े : इतना बेशर्म ! पुतले को भी नही छोड़ा, प्राइवेट पार्ट के साथ छेड़छाड़ ... गौर से पढ़िए

यह भी पढ़े : जो देगा 33 लाख उसको दूंगी पुरे मजे, ग्राहकों की भरमार... जानिए आखिर क्यों नीलाम हुई ये लड़की !

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.