संजीवनी टुडे

News

चम्बल की जांच कराएंगी जलदाय मंत्री किरण माहेश्वरी

Sanjeevni Today 18-10-2016 14:47:10

भीलवाड़ा। चम्बल परियोजना के पानी को शहर में लाने के लिए जलदाय मंत्री से उद्घाटन कराकर पाइपलाइन को वापस खोलने का मामला जयपुर पहुंच गया है। जलदाय मंत्री किरण माहेश्वरी ने इसे चम्बल परियोजना व जलदाय विभाग के अधिकारियों की गंभीर लापरवाही माना है। मंत्री माहेश्वरी ने बताया कि इतनी जल्दबाजी क्यों की गई, इसकी उच्चस्तरीय जांच होगी। इसके लिए जयपुर से एक टीम आएगी। 

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -0931416616

गौरतलब है कि 'जलदाय मंत्री से करा दी पुराने पम्पहाउस की पूजा' शीर्षक से समाचार प्रकाशित किया था। इसमें बताया था कि नौ अक्टूबर को स्थानीय अधिकारियों ने कोटा रोड स्थित पुराने पम्पहाउस की मंत्री माहेश्वरी से पूजा करवा दी और फीता कटवा दिया। मंत्री को बताया था कि पुराने पम्पहाउस से चम्बल की लाइन को जोड़ रहे हैं। इस पर मंत्री ने घोषणा कर दी कि दस अक्टूबर को शहर के लोग चम्बल का पानी पिएंगे। खासबात यह कि मंत्री के जयपुर रवाना होते ही अधिकारियों ने लाइन को वापस खोल दिया। इस मामले के लिए मंत्री ने जिला कलक्टर से भी तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है।

मंत्री ने कहा, झूठ बोलने वाले भुगतेंगे
जलदाय मंत्री ने कि चम्बल के अधिकारियों ने उनको बताया कि पाइपलाइन सहित सभी तैयारियां पूरी है। बस पम्प हाउस का कुछ काम अधूरा है जो कुछ दिन में पूरा हो जाएगा। अभी पुराने पम्प हाउस से चम्बल की लाइन जोड़ रहे हैं, लेकिन इस तरह लाइन वापस खोल देना गलत है। उन्होंने बताया कि जब पानी साफ नहीं आ रहा था तो कुछ इंतजार करना चाहिए। अब झूठ बोलने वाले भुगतेंगे।

जिम्मेदारों का तबादला, कौन दे जवाब
चम्बल परियोजना में काम करने वाले जिम्मेदार अधिकारियों के तबादले हो गए हैं। इसमें परियोजना के अधीक्षण अभियंता आईसी कुमार, बीएल जाटोल तथा जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता आरके ओझा का तबादला हो गया। इस कारण अब चम्बल का उद्घाटन हो गया लेकिन पानी कब पिलाएंगे यह जवाब देने वाले कोई नहीं है।

योजना का बना दिया मजाक- कलक्टर 
समाचार प्रकाशित होने के बाद जिला कलक्टर ने चम्बल परियोजना के अधिकारियों को तलब किया। इसमें अधिकारियों से पूछा कि अब तक पानी क्यों नहीं पिलाया और पुराने पम्प हाउस की पूजा क्यों करवाई। इस पर चम्बल के अधिकारियों ने कहा, मंत्री को हमने नहीं, जलदाय विभाग ने बुला लिया। इस पर जिला कलक्टर डॉ. टीनाकुमार नाराज हो गईं। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी योजना का मजाक बना दिया। जिस योजना पर पूरी सरकार गंभीर है, उसमें इस तरह की लापरवाही पर उन्होंने लताड़ लगाई।

यह भी पढ़े: कई मुलाकातों के बाद होता है सच्चा प्यार..!!

यह भी पढ़े: यहां पर चूहा मारने पर दिया जाएगा 25 रूपए का इनाम

यह भी पढ़े: ओह! तो महिलाएं इस वजह से भी करती हैं ऑर्गैजम का नाटक...!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

Watch Video

More From national

Recommended