जापान ओपन: सिंधु-साइना हारी, श्रीकांत और प्रणय क्वार्टर फ़ाइनल में UNICEF के प्रोग्राम में 2,89,780 रुपये का व्हाइट गाउन पहनकर पहुंची PC बनारस बना अपराध का ठिकाना भारत ने AUS से 14 साल पहले का किया हिसाब चुकता, कुलदीप ने ली हैट्रिक सुकमा में पुलिस मुठभेड़ में नक्सल कमांडर भीमा को किया ढेर साउथ अफ्रीका दौरे पर भारतीय टीम 4 नहीं बल्कि 3 टेस्ट खेलेगी क्राइम मनोविज्ञान विधि से जांच करना चाहती है पुलिस , सुनंदा पुष्कर मामला LIVE: भारत ने दूसरा वनडे में ऑस्ट्रेलिया को चटाई धूल, सीरीज में 2-0 की बढ़त मोदी सरकार केश लेश की और भ्रष्टाचार गुजरे जमाने की बात: अरुण जेटली LIVE: ऑस्ट्रेलिया के नौ विकेट गिरे, भारत जीत की और अग्रसर सात साल की मासूम बच्ची के साथ युवक ने किया दुष्कर्म अपेक्स बैंक को मोदी ने किया उत्कृष्ट सहकारी बैंक सेवा के लिए सम्मानित किया यूपी का ATM ठग दौसा में हुआ गिरफ्तार LIVE: भारत के कुलदीप ने मारी हैट्रिक, score 148 रन 8 विकेट इन बॉलीवुड सितारों ने ऐसे दी फैंस को नवरात्रि की शुभकामना परमाणु प्रतिबंध संधि पर 50 देशो ने किये हस्ताक्षर, कई देशो ने नकारा उत्तर प्रदेश व लखनऊ में भारी बारिश की संभावना,मौसम विभाग LIVE: दोनों मैचों में मैक्सवेल को चहल ने भेजा पेवेलियन, स्कोर 100 के पार उधमपुर में नाबालिक लड़की के साथ किया दुष्कर्म आरोपी गिरफ्तार LIVE: भारत को मिली तीसरी सफलता, ट्रेविस हेड लौटे score 85/3
बैडमिंटन: सिंधु ने ओकुहारा से लिया बदला, कोरिया ओपन में बनी चैंपियन
sanjeevnitoday.com | Sunday, September 17, 2017 | 05:02:39 PM
1 of 1

नई दिल्ली। ओलंपिक रजत पदक विजेता भारतीय शटलर पी वी सिंधू ने रविवार को विश्व चैंपियन नोजोमी ओकुहारा को रोमांचक फाइनल मुकाबले में हराकर कोरिया ओपन सुपर सीरीज बैडमिंटन टूर्नामेंट का महिला एकल का खिताब जीतने के साथ ही विश्व चैंपियनशिप की हार का बदला भी चुकता किया। 

यह भी पढ़े : भूल से मां के प्रेमी के बगल में जाकर सो गई बेटी फिर क्या हुआ जानिए...

भारत की बैडमिंटन स्टार वर्ल्ड नंबर-4 पीवी सिंधु ने कोरिया ओपन सुपर सीरीज पर कब्जा जमा लिया है। ओलंपिक की सिल्वर मेडलिस्ट सिंधु ने 17 सितंबर को फाइनल में वर्ल्ड नंबर-9 जापान की नोजोमी ओकुहारा को एक घंटे 24 मिनट तक चले मुकाबले में 22-20, 21-11, 21-18 से मात दी। 

    

इसके साथ ही 22 साल की हैदराबादी बाला सिंधु ने न सिर्फ इतिहास रच डाला, बल्कि हम उम्र ओकुहारा से बदला भी ले लिया। इसी जापानी शटलर ने अगस्त में पिछले महीने वर्ल्ड चैंपियनशिप के फाइनल में सिंधु को हराया था। सिंधु कोरिया ओपन पर कब्जा करने वाले पहली भारतीय खिलाड़ी बन गई हैं। 

रियो ओलंपिक में सिल्वर मेडल, चाइना ओपन और अब कोरिया ओपन सुपर सीरीज जीतने वाली पीवी सिंधु बहुत साधारण हैं। वे जितनी सिंपल दिखती हैं उनकी सोच भी उसी तरह की है। सिंधू का पूरा नाम है पुसरला वेंकट सिंधु. उनका जन्‍म 5 जुलाई 1995 को हैदराबाद में हुआ था।

यह भी पढ़े : बेटे की खातिर मां ने "निगला" सांप का जहर... फिर भी नहीं बचा उसकी सकी मौत!

सिंधू के पिता अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित खिलाड़ी हैं और वे वॉलीबाल में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। इसके अलावा उनकी मां भी वॉलीबाल की खिलाड़ी रही हैं, जाहिर है कि सिंधू के लिए खेल भावना के अलावा खून का भी मामला है।

सिंधू के घर और बैडमिंटन अकादमी में 56 किलोमीटर की दूरी है लेकिन वह हर रोज अपने निर्धारित समय पर अकादमी पहुंच जाती हैं। उनके भीतर अपने खेल को लेकर एक अजीब दीवानगी है, पुलेला गोपीचंद उनके कोच हैं।

सिंधू को पद्मश्री और बेहतरीन बैडमिंटन के लिए अर्जुन पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है। रियो ओलंपिक के महिला सिंगल्स बैडमिंटन मुकाबले में पीवी सिंधू सिल्वर मेडल जीतने वाली भारत की पहली महिला बैडमिंटन खिलाड़ी बनीं।  

 Korea Super Series, PV Sindhu will lead the Indian Challenge, Prannoy, Sai Praneeth, कोरिया सुपर सीरीज, पीवी सिंधू करेंगी भारतीय चुनौती की अगुआई, प्रणय, साई प्रणीत

इससे पहले भारत का कोई भी बैडमिंटन खिलाड़ी इस मुकाम तक नहीं पहुंच सका था।10 अगस्त 2013 में सिंधू ऐसी पहली भारतीय महिला बनीं, जिसने वर्ल्ड चैंपियनशिप्स में मैडल जीता था। पी सिंधू ने आठ साल की उम्र से बैडमिंटन खेलना शुरू कर दिया था। 

 

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.