एशियाई शीतकालीन खेलों के लिए तैयार भारतीय दल नाबलिग ने फांसी लगाकर की आत्‍महत्‍या पीसीए की धारा को हटाने के विरोध में पार्टी के खिलाफ जाएंगे सुब्रमण्यम स्वामी खेती की बिजली दरें कम करने से खुश किसानों ने किया मुख्यमंत्री का अभिनन्दन सलमान, सोनम के बाद अब सूरज करेगें अपना एप लांच पुरुष टीम की पहली महिला कोच बनीं चान यूएन टिंग छात्रा पर एसिड हमला, आरोपी गिरफ्तार VIDEO: 'मिर्ची म्यूजिक अवॉर्ड्स में अभिनेत्रियों ने बिखेरा जलवा कमान्डेन्ट चेतन चीता के लिए विश्वविद्यालय परिसर में स्वास्थ्य यज्ञ श्लोक-अर्जुन की जोड़ी ने जीता एपेक्स एलीट टेनिस का खिताब 'जश्न ए रेख्ता' कार्यक्रम में तारिक फतेह का विरोध दस साल की बालिका से दुष्कर्म का प्रयास रामू का कंफ्यूजन- शशिकला या जयाललिता? बिना परमिट के ई-रिक्शों के खिलाफ चलाया जायेगा अभियान ‘आंखें 2' में महानायक अमिताभ बच्चन के साथ नजर आयेंगी ईशा गुप्ता दुनिया के नंबर एक गोल्फर बने डस्टिन जॉनसन शिमला में चौकीदार को बंधक बनाकर लाखों की डकैती मोदी के 'कब्रिस्तान-श्मशान' बयान पर कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की सख्त कार्रवाई की मांग सपा प्रत्याशी रिबू श्रीवास्तव ने लिया नाम वापस, गठबंधन को राहत इस फेमस सिंगर के साथ हुआ धोखा, जबरदस्ती करवाई परफॉर्मेंस
शहरयार खान: भारत के खिलाफ खेलने की 'भीख' नहीं मांग रहे, ये हमारा अधिकार है!
sanjeevnitoday.com | Thursday, December 1, 2016 | 09:55:37 PM
1 of 1

नई दिल्ली। पाकिस्तान किसी भी तरह से भारत के साथ क्रिकेट संबंध बहाल करने की पूरी कोशिश लगा हुआ हैं। अब इस मामले में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के चेयरमैन शहरयार खान ने कहा है कि वह भारत के खिलाफ खेलने की 'भीख' नहीं मांग रहा है। पीसीबी चेयरमैन का कहना है कि ये हमारा अधिकार है क्योंकि बीसीसीआइ ने दोनों देशों के बीच क्रिकेट सीरीज खेलने को लेकर सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किया था। शहरयार खान ने  कहा कि 'हम उनसे खेलने के लिए भीख नहीं मांग रहे हैं। कृप्या ऐसा मत समझिए, बीसीसीआइ ने हमसे 2015 से 2023 के बीच छह द्विपक्षीय सीरीज खेलने के लिए सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं लेकिन वो अपने वादे पर खरे नहीं उतरे। 

शहरयार ने कहा, ‘क्रिकेट का देश होने के नाते यह हमारा अधिकार है कि हम उन्हें सहमति पत्र का सम्मान करने के लिए जोर दें। उन्हें हमसे तुंरत दो घरेलू सीरीज खेलनी चाहिए, क्योंकि अंतिम पूर्ण द्विपक्षीय सीरीज भारत में 2007 में खेली गई थी। सहमति पत्र में पाकिस्तान को 2015 से 2023 के बीच चार पूर्ण सीरीज की मेजबानी करनी थी। यह सहमति पत्र 2014 में आईसीसी बैठक के दौरान रखा गया था और शहरयार ने कहा कि सहमति पत्र के मुताबिक दोनों देशों को द्विपक्षीय क्रिकेट खेलना होगा। उन्होंने कहा, ‘हम समझौते पत्र के मुद्दे पर अपने वकीलों से सलाह कर रहे हैं और इस महीने होने वाली एशियाई क्रिकेट परिषद की बैठक में हम द्विपक्षीय सीरीज का यह मामला उठाएंगे।शहरयार को हाल में एसीसी का चेयरमैन चुना गया था और वह 17 दिसंबर को कोलंबो में अगली बैठक की अध्यक्षता करेंगे।

यह भी पढ़े: जुर्म के बदले सजा नही शराब मिलती है, पीछे है एक अजीब वजह

यह भी पढ़े: खूबसूरत फिगर की चाह में तोड़ दीं सारी हदें, कमजोर दिलवाले नही देखे यह तस्वीरें...

यह भी पढ़े....रेलवे का नया फैसला, अब बिना आधार के नहीं मिलेगा ट्रेन में रिजर्वेशन

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

 


FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.