संजीवनी टुडे

News

जानिए, छीकतें समय आखें बंद होने की वजह...

Sanjeevni Today 05-12-2017 17:44:07

नई दिल्ली। क्या कभी आपने सोचा है कि, छींकने वक्त आंखें क्यूं बंद हो जाती है? हम जाने है कि, छींकना एक स्वाभाविक प्रक्रिया है लेकिन आपने हमेशा महसूस किया होगा कि, छींक के दौरान आपकी आंखें बंद हो जाती हैं। कितनी भी कोशिश कर लें लेकिन आंखें खुली नहीं रख पाते हैं।

यह भी पढ़े: वीडियो: स्कूल निरीक्षण के लिए पहुंचे CM योगी, बच्चों से पूछा- प्रदेश का मुख्यमंत्री कौन है?

जानकारी के मुताबिक, सांस लेने के क्रम में अगर नली में कोई धूलकण या महीन रेशा फंस जाता है, तो उसे बाहर निकालने के लिए छींकने की प्रक्रिया अपनाई जाती है। अगर ये धूलकण भारी या बड़ा हो, तो दिमाग उसे बाहर निकाल फेंकने के लिए फेफड़ों को ज़्यादा हवा भेजने का सन्देश देता है।

यह भी पढ़े: वीडियो: अभिनेत्री जैकलिन फर्नाडीज ने करवाई टॉपलेस फोटोशूट

इस दौरान जो पलकें झपकती हैं, उसके लिए ट्राईजेमिनल नर्व जिम्मेदार होती हैं। ये नर्व चेहरे, आंख, मुंह, नाक और जबड़े को कन्ट्रोल करती है। दिमाग जो अवरोध हटाने का सन्देश भेजता है, वो इसे भी मिल जाता है। उस दौरान आंखें बंद हो जाती है।

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

Watch Video

More From lifestyle