संजीवनी टुडे

News

बोल्ट ने किया ट्रेक को अलविदा, करियर की अंतिम रेस में स्वर्णिम विदाई का सपना नाकाम

Sanjeevni Today 13-08-2017 19:05:46

नई दिल्ली। 13 अगस्त उसेन लियो बोल्ट के लिये ट्रैक एवं फील्ड स्पर्धा के इतिहास में अपने दशक भरे दबदबे का अंत अच्छा नहीं रहा क्योंकि वह मांसपेशियों में खिंचाव के कारण यहां चल रही विश्व एथलेटिक्स चैम्पियनशिप की पुरुष चार गुणा 100 मीटर रेस को समाप्त नहीं कर सके। यह उनकी अंतिम विश्व चैम्पियनशिप की आखिरी स्पर्धा थी और उनसे स्वणर्मि विदाई की उम्मीद की जा रही थी लेकिन मांसपेशियों में खिंचाव ने सभी की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। अपने करियर की अंतिम रेस में 30 वर्षीय बोल्ट ने जमैकाई साथी योहान ब्लेक से बेटन ली, लेकिन तभी उनकी मांसपेशियों में खिंचाव आ गया। 

 

यह भी पढ़े: इस अनोखे रेस्टॉरेंट को देख आप भी रह जाएंगे हैरान


स्वर्णिम विदाई का सपना टूटा
रिकॉर्ड 8 बार के ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता उसेन बोल्ट जमैका की 4X100 मीटर रेस में अपनी टीम के साथ आखिरी लैप में रेस के लिए तैयार थे। जमैका के तीन धावकों ने अपना काम 300 मीटर तक पूरा कर दिया था, लेकिन अंतिम दौर में बोल्ट चोटिल होकर मैदान पर गिर पड़े और उनका स्वर्णिम विदाई का सपना चकनाचूर हो गया। बोल्ट अपने करियर के आखिरी रेस को पूरा भी नहीं कर सके। 

  

इससे पहले पिछले रविवार को भी बोल्ट को उस समय निराशा हाथ लगी थी, जब वह करियर की आखिरी 100 मीटर फर्राटा रेस में अमेरिकी एथलीट जस्टिन गैटलिन के हाथों उलटफेर का शिकार हो गए थे। उस दौरान उन्हें कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा था। हर किसी को बोल्ट के 'गोल्डन विदाई' की उम्मीद थी। 


ओलम्पिक खेलों में आठ स्वर्ण और विश्व चैम्पियनशिप में 11 स्वर्ण सहित कुल 14 पदक। 100 मीटर, 200 मीटर और चार गुणा 100 मीटर रिले रेस में विश्व रिकॉर्ड। 2008 से 2016 तक 100 तथा 200 मीटर का ओलम्पिक चैम्पियन। यह परिचय है बोल्ट का, साथ ही यह परिचय है उस खिलाड़ी का, जिसने अपने दम पर एथलेटिक्स की लोकप्रियता को शिखर तक पहुंचा दिया और आठ साल के अंतराल में एकल उपलब्धियों के दम पर विश्व का सर्वकालिक महान एथलीट बन बैठा। 

ब्रिटेन ने जीता स्वर्ण पदक
4 गुणा 100मीटर रिले रेस का गोल्ड मेडल ब्रिटेन के नाम रहा, स्पर्धा का सिल्वर मेडल अमेरिका ने जीता, जबकि कांस्य पदक जापान के हिस्से में आया। ब्रिटेन के खिलाड़ियों ने 37.47 सेकंड में रेस पूरी कर स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया, जबकि अमेरिकन खिलाड़ियों ने रेस पूरी करने में ब्रिटेन से पांच सेकंड का ज्यादा समय लगाया और 37.52 सेकंड के साथ दूसरा स्थान पाने में सफल रहे। कांस्य विजेता जापान की टीम ने 38.04 सेकेंड में रेस पूरी की।

 

 

 

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

Watch Video

More From sports

Recommended