फिल्म 'सीता और गीता' के सीक्वल में सोनम कपूर प्रेमिका की ख़ौफनाक हत्या करने वाला आरोपी गिरफ्तार, लाश के कर दिए थे टुकड़े-टुकड़े अानंद एल राय की फिल्म निम्मो का पहला लुक जारी 'सरकार -3' में विवेक ओबेरॉय कर सकते है काम तीन बार तलाक कहना ‘‘क्रूरता’’ है: उच्च न्यायालय नोटबन्दी में साथ देने लिए मोदी ने लोगों को किया सलाम, कहा दीर्घकालिक होंगे फायदे बीएड की छात्रा ने फ्लाईओवर से लगाई छलांग प्रियंका को पछाड़ दीपिका बनी एशिया की सबसे सेक्सी महिला आयकर विभाग: 100 किलो सोने के साथ 90 करोड़ की नकदी जब्त, जिसमे 70 करोड़ के नए नोट भी शामिल अब ये भी ! 3 किलो से ज्यादा गोबर गाय ने किया तो होगी सख्त कार्यवाही सोने में तीन दिनों की गिरावट थमी, चांदी में भी तेजी.. वाह रे न्यायपालिका ! 30 साल पहले की थी चोरी और सजा अब दे रही अजय-इमरान की 'बादशाहो' अगले साल 1 सितंबर को होगी रिलीज नोटबंदी: 15 नही, अब 10 दिसम्बर से ही बन्द हो जायेगा 500 का नोट लूट की योजना बनाते चार डकैत गिरफ्तार, हथियार बरामद Sanjeevni Today: Top Stories of 5pm सुल्ताना डाकू का किरदार निभाएंगे नवाजुद्दीन दिनदहाड़े गोली मारकर प्रापर्टी डीलर की हत्या संसद वीडियो मामले में भगवंत मान दोषी करार,शीतकालीन सत्र से सस्पेंड डांसिंग गुरु को देख ऐश्वर्या हुई इमोशनल
Letst Brekigan News, Lifestyle, News, bones immersion, Nadia is the most suitable,लेटस्ट ब्रेकिगं न्यूज़,लाइफस्टाइल न्यूज़,अस्थियां विसर्जन,नदिया ही सबसे उपयुक्त,जुडी है परम्पराए
अस्थि विसर्जन के लिए नदियां ही क्यों है सबसे उपयुक्त ? ये है इसका कारण

नई दिल्ली। हिंदू शास्त्रों के अनुसार जन्म-मृत्यु एक ऐसा चक्र है जो हमेशा चलता रहता है। जीवन है तो मृत्यु आएगी ही। जन्म से मृत्यु तक हमें कई कार्य करने होते हैं। प्राचीन समय से ही ऋषि-मुनियों और विद्वानों ने कई परंपराएं बनाई गई हैं जिनका पालन करना काफी हद तक अनिवार्य बताया गया है। हमारे जीवन के साथ-साथ मृत्यु के बाद की भी हमसे जुड़ी कुछ परंपराएं होती हैं जिनका पालन हमारे परिवार वालों को करना पड़ता है। 


 Latest Breaking News, Lifestyle News, Hinduism, evening, of a bankruptcy,लेटेस्ट ब्रेकिंग न्यूज़,लाइफस्टाइल न्यूज़,हिन्दू धर्म,शाम के वक्त,दरिद्रता की ओर
शाम के वक्त ना करे ये काम

नई दिल्ली। हिन्दू धर्म में ऐसी मान्यता है कि शाम का वक्त भगवान की अराधना का वक्त है। चूंकि इस दौरान पूजन करने से कई फायदे होते हैं। लेकिन शाम को पूजा करने के साथ-साथ कुछ कामों को करने के नुकसान भी है। पुरानी मान्यताओं के अनुसार, शाम के समय अगर आप इस तरह के काम करते हैं तो आप दरिद्रता की ओर बढ़ने लगते हैं, इसलिए जितना हो सके शाम के दौरान इस तरह के काम भूलकर भी न करें।


© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.