संजीवनी टुडे

अंतरराष्ट्रीय सीमा के नजदीक दिखा पाकिस्तान का ड्रोन, गिराने के लिए BSF ने चलाई गोलियां

इनपुट-यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 14-01-2020 18:32:20

बीएसएफ की 116 बटालियन के जवानों द्वारा इसे गिराने के लिए लगभग 50 से 55 गोलियां चलाई गई, लेकिन ड्रोन बच निकलने में कामयाव रहा।


नई । पंजाब के फिरोजपुर में भारत-पाकिस्तान बॉर्डर के नजदीक सोमवार की रात को एक पाकिस्तान का ड्रोन उड़ता हुए देखा गया।बीएसएफ के एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि लगभग रात आठ बजकर 40 मिनट पर खेमकरण सेक्टर की अग्रिम सीमा चौकी घाजल के नजदीक एक गांव के ऊपर भारत की सीमा में एक ड्रोन को उड़ते हुए देखा गया। यह ड्रोन लगभग 4-5 मिनट तक हवा में दिखा। बीएसएफ की 116 बटालियन के जवानों द्वारा इसे गिराने के लिए लगभग 50 से 55 गोलियां चलाई गई, लेकिन ड्रोन बच निकलने में कामयाव रहा। क्षेत्र की तलाशी लेने पर सुरक्षा बलों को घटनास्थल से कुछ भी बरामद नहीं हुआ है। इस घटना के बाद इलाके में सभी सुरक्षा एजेंसी को अलर्ट कर दिया गया है।

यह खबर भी पढ़ें: ​ईरान मेें हुए यूक्रेन विमान हादसे के संबंध में कई लोग गिरफ्तार, 176 यात्रियों की हुई थी मौत

इससे पूर्व इसी क्षेत्र से गत वर्ष अक्टूबर माह में भी पाकिस्तानी ड्रोन देखा गया था। पंजाब पुलिस ने दो ड्रोन बरामद कर पाकिस्तान से हथियार और मादक पदार्थों की तसकरी में लिप्त एक भारतीय सैनिक और दो तस्करों को गिरफ्तार किया था। यह तस्कर सीमा के दोनों तरफ दो से तीन किलोमीटर तक उड़ने में सक्षम ड्रोनों को तस्करी के लिए भारतीय सीमा के भीतर से ही उडा रहे थे।

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान की शह पर आंतकवादियों द्वारा कश्मीर में सुरक्षा बलों पर बड़े हमले की साजिश रची जा रही है। खुफिया एजेंसियों के अलर्ट में कहा गया है कि आतंकी गुट सुरक्षा बलों पर बड़े हमले की योजना बना रहे हैं। नए आतंकी गुटों की चुनौती भी खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट में सामने आई है। मार्च-अप्रैल तक आतंकियों की हरकत अचानक बढ़ने की आशंका जताई गई है। आतंकवादी गुटों की रणनीति के मद्देनजर सुरक्षा बलों ने अपने आतंकरोधी ऑपरेशन की व्यूह रचना तैयार की है।

सूत्रों ने कहा कि सीमापार से आतंक का खतरा कम नहीं हुआ है। घाटी में भी आतंकवादियों की मौजूदगी बनी हुई है। खुफिया सूचनाओं के मुताबिक आतंकवादी गुट मौसम बदलने का इंतजार कर रहे हैं। सुरक्षा बल उनके लिए पहला निशाना होंगे। कश्मीर में अनुच्छेद 370 के प्रावधान समाप्त होने के बाद से सुरक्षा बलों की चौकसी की वजह से आतंकवादी गुटों का कोई मंसूबा अब तक कामयाब नहीं हुआ है। सुरक्षा बलों को आगाह किया गया है क्योंकि पाकिस्तान आतंकवादी हमलों को लेकर रणनीति बना रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended