loading...
एलेन बॉर्डर मेडल: लगातार दूसरी बार सर्वश्रेष्ठ ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर बने डेविड वॉर्नर टीम इंडिया में चयन बहुत बड़ी ख़ुशी बात, फिर भी निराश हैं परवेज रसूल, जानिए क्यों? भाजपा ने किया 'डिजी युवा' अभियान का शुभारंभ कश्मीर में आतंकी ठिकानों का भंडाफोड़ दिल्ली के लिए शुरू हुआ शाहरुख खान का रेल सफर भतीजे की गला रेत कर हत्या राष्ट्रपति ने किया करौली के सोनू का सम्मान मेरी एक बेहद यादगार गजल नक्श लायलपुरी ने लिखी थी: लता मंगेशकर गेंहू उपार्जन में गड़बड़ी करने वालों पर करें कड़ी कार्रवाई : शिवराज मिश्रित मार्शल आर्ट्स लीग से जुड़े टाइगर श्रॉफ सोशल मीडिया पर छा गए अमिताभ बच्चन प्रधानमंत्री ने 25 बच्चों को वीरता पुरस्कार से सम्मानित किया किंग्स इलेवन पंजाब के रणनीतिकार होंगे सहवाग गोरखपुर: रेलवे स्टेशन उड़ाने की धमकी से मचा हड़कंप भाजपा को उत्तर प्रदेश में मिलेगा दो-तिहाई बहुमत : अमित शाह सलमान के बरी होने पर डेजी ने जताई ख़ुशी देश और समाज के लिए कार्य करें स्वयंसेवक : मोहन भागवत यूपी चुनाव: अखिलेश-राहुल मिलकर करेंगे 14 रैलियां दहेज के लिए विवाहिता की गला दबा कर हत्या टीम इंडिया के खिलाफ आक्रामक अंदाज में खेलना होगा: स्मिथ
लोकसभा की कार्यवाही आज भी नोटबंदी पर हंगामे की भेंट चढ़ी..
sanjeevnitoday.com | Friday, December 2, 2016 | 03:20:58 PM
1 of 1

नई दिल्ली। नोटबंदी के मुद्दे पर विपक्षी दलों के शोर शराबे और नारेबाजी के कारण लोकसभा की कार्यवाही आज भी बाधित रही और सदन की बैठक एक बार के स्थगन के बाद 12 बजकर 35 मिनट पर दिनभर के लिए स्थगित कर दी गई। इस सप्ताह लोकसभा में कराधान दूसरा संशोधन विधेयक 2016 पारित होने के अलावा कोई अन्य अहम कार्य नहीं हो सका। यह विधेयक भी हंगामे के बीच बिना चर्चा के पारित हुआ। 

कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और वाम दल समेत कुछ विपक्षी दल नोटबंदी पर मतविभाजन के प्रावधान वाले नियम के तहत चर्चा की मांग पर अड़े हंै। वहीं सरकार तुरंत चर्चा शुरू कराने पर तो राजी है लेकिन चर्चा के बाद मतविभाजन पर तैयार नहीं है। अध्यक्ष ने आज भी प्रश्नकाल और शून्यकाल चलाने का प्रयास किया लेकिन कांग्रेस, तृणमूल, वामदल के सदस्य आसन के समीप आकर नारेबाजी करते रहे। विपक्षी सदस्यों के हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही पहली बार 11 बजकर 50 मिनट पर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

आज सुबह कार्यवाही शुरू होने पर सदन ने 3 दिसंबर 1984 को हुई भोपाल गैस त्रासदी की 32वीं बरसी पर इस घटना में मारे गए लोगों को कुछ पल का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी। अध्यक्ष ने कहा कि 1984 में भोपाल में यूनियन कार्बाइड संयंत्र में जहरीली गैस के रिसाव के कारण सैकड़ों लोगों की मौत हो गई थी और काफी संख्या में लोग अपंग हो गए थे। सदन पीड़ित परिवारों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट करता है। सदन में कांग्रेस के नेता मल्लिकाजरुन खड़गे ने नोटबंदी के बाद बैंकों एवं एटीएम की कतारों में कई लोगों के मारे जाने का जिक्र किया और इन लोगों को भी श्रद्धांजलि दिये जाने की मांग की। अध्यक्ष ने इस मांग को अस्वीकार कर दिया।

तृणमूल कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल के विभिन्न हिस्सों में टोल प्लाजाओं पर सैनिकों की मौजूदगी को लेकर गंभीर आपत्ति व्यक्त करते हुए लोकसभा में आज इसे साजिश करार देने के साथ राज्य प्रशासन को विश्वास में नहीं लिये जाने का आरोप लगाया। वहीं सरकार ने सेना के इस नियमित अ5यास पर विवाद खड़ा करने को गलत बताते हुए कहा कि इसे तूल देना राजनीतिक हताशा का परिचायक है तथा इस संबंध में स्थानीय प्रशासन को पूरी जानकारी थी।

यह भी पढ़े: सरकार और पैसा दोनों की हुकूमत नही इस शहर पर

यह भी पढ़े: आज भी आती है रोशनी इस कुंए से, 4 मंजिल गहरा है

यह भी पढ़े: जवाब नहीं ! चोरी के डर से घर को बना डाला लोहे का पिंजरा

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

 



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.