बिना आधार के शराब लेना अब हुआ मुश्किल, जानिए क्या है नए बदलाव युवराज की वापसी पर मां शबनम ने किया ये खुलासा राहुल गाॅधी ने अमेरिका से मोदी सरकार पर साधा निशाना पाक कोर्ट ने वित्त मंत्री इशाक डार का किया गिरफ्तारी वारंट जारी वीडियो : मेक्सिकों मे 7.1 तीव्रता के भूकंप से तबाही, मरने वाले की संख्या 234 के पार वीडियो: अगर बिहार पुलिस से करी बहस तो चमड़ी उतारकर जूते बनवा देगी नवादा शहर के डीएम ने की संयुक्त बैठक, दिया अलर्ट रहने का आदेश हाईकोर्ट ने ममता को लगाई फटकार, कहा - हिन्दू-मुस्लिमों में दरार पैदा ना करे विपासना के जवाब से संतुष्ट नही है एसआईटी... यूपी में 12 साल की लड़की से दो युवकों ने किया दुष्कर्म प्रद्युम्न मर्डर केस : पिंटो परिवार की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज कहलगांव में टूटा करोड़ो रुपए से बना बांध, आज होना था उद्घाटन यहां पर बन्दर की शक्ल लिए सूअर के बच्चे ने लिया जन्म पाक क्रिकेटर खालिद पर 5 साल का बैन और 10 लाख रुपये का जुर्माना पाकिस्तान वित्तमंत्री के खिलाफ जारी हुआ अरेस्ट वारंट यहां हर साल प्रेमी युगल की याद में आयोजित होता है गोटमार मेला श्रीलंका टीम को वेस्टइंडीज ने दिया 2019 वर्ल्ड कप में सीधी एंट्री का मौका केंद्र सरकार का रेलवे कर्मचारियों को तोहफा, मिलेगा 78 दिन का बोनस यूएन में गूंजा मोदी का नाम, कहा - असीमित संभावनाओं को देखते है मोदी मिसाल: मालिक को लौटा दिए 45 लाख रुपए के हीरे
प्रद्युमन मर्डर केस की सुलझी गुत्थी, दो बच्चों ने देखा अशोक को टॉयलेट में जाते
sanjeevnitoday.com | Thursday, September 14, 2017 | 03:29:00 PM
1 of 1

 

नई दिल्ली। रेयान इंटरनेशनल स्कूल के प्रद्युम्न की हत्या की गुत्थी सुलझाने में पुलिस के एक SI की अहम भूमिका रही है। सीनियर अधिकारी ने को बताया है कि स्कूल के टॉयलेट रूम में जाने के लिए दो रास्ते है। टॉयलेट रूम के दोनों रास्तों पर सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। बच्चा शुक्रवार को एक अन्य स्टूडेंट के साथ स्कूल के अंदर दाखिल होते हुए कैमरे में दिखाई दे रहा था। कैमरा पीछे होने से दोनों स्टूडेंट्स के बैग दिखाई दे रहे हैं। बाद में प्रद्युम्न अंदर टॉयलेट की ओर चला गया। 

इससे ठीक करीब 10 मिनट पहले टॉयलेट में दो स्टूडेंट ड्रेस बदलने गए थे। दोनों बच्चो ने बाहर आते वक्त कंडक्टर अशोक को टॉयलेट में अंदर आते देखा था। इसी दौरान बच्चा टॉयलेट में दाखिल हुआ। पुलिस को शक है कि आरोपी ने 9 नंबर टॉयलेट यूज किया था। बाहर आने पर बच्चे को काबू किया और सबसे आखिर के टॉयलेट रूम में ले जाकर उसके साथ गलत काम करने की कोशिश की। जब बच्चे ने विरोध किया तो आरोपी ने चाकू से वार किया। 

इसके बाद चाकू को टॉयलेट में ही छोड़कर बाहर भाग गया। टॉयलेट रूम में हाथ धोने के साथ ही पानी पीने का इंतजाम है। आरोपी आकर हाथ धोकर पानी पीने लगा। इसी बीच घायल बच्चा टॉयलेट से निकलकर गेट पर गिरा। तभी माली टॉयलेट रूम की तरफ आया और बच्चे को खून से लथपथ देखकर शोर मचाया। शोर को सुनकर टीचर और अन्य लोग आए गए। टीचर्स ने माली से बच्चे को उठाने को कहा, इस पर पानी के मशीन के पास खड़ा अशोक आया और बच्चे को गोद में लेकर बाहर वैन तक पहुंचाया। 

यह भी पढ़े: अपनी जान दांव पर लगाकर इस शख्स ने किया कुछ ऐसा...

जांच के दौरान स्कूल का एक और कर्मचारी टॉयलेट के पास पानी पीने आता है लेकिन सीसीटीवी फुटेज के अनुसार वह अंदर गया और साथ ही बाहर निकल गया। ऐसे में अब पुलिस को इस वारदात में कुल पांच लोग मिले, जो घटना से मुख्य तौर से जुड़े हैं। पुलिस ने कंडक्टर अशोक, माली और एक फिजिकल एजुकेशन के टीचर से पूछताछ की। दो बच्चों से जानकारी ली। जब अशोक से पूछताछ हुई तो आरोपी ने पहले गुमराह करने की कोशिश की, लेकिन बाद में आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। 

आरोपी अशोक के पिता बोले- मेरे बेटे ने कभी किसी से ऊंची आवाज में बात नहीं की, उसे फंसाया जा रहा है। बच्चे के मर्डर केस में गिरफ्तार आरोपी अशोक के घर पहुंची। घामड़ोज गांव में दो कमरों में रहने वाले अशोक के बूढ़े माता-पिता के साथ उसकी पत्नी मिली। अशोक के गिरफ्तारी की सूचना के बाद उसकी दो बहनें भी ससुराल से मायके आई हुई हैं। उसका पूरा परिवार कहना है कि अशोक को स्कूल मैनेजमेंट ने फंसाया है। 

अशोक की पत्नी ममता ने बताया कि उसके पति का पैर बिल्कुल ठीक ठाक था, लेकिन पुलिस की पिटाई के कारण उसके पैर में गंभीर चोट है। कि वह दिव्यांग है, लेकिन सही है। वह कहती है जिन मां-बाप ने बच्चा खोया है, उसका हमें भी बहुत दुख है। अब सरकार CBI जांच कराती है तो हम भी इससे संतुष्ट हैं। आरोपी अशोक को पुलिस ने मंगलवार को सोहना कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने आरोपी को सात दिन के लिए ज्यूडिशियल पर भेजा है। आरोपी अशोक को 18 सितंबर को गुड़गांव कोर्ट में पेशी होगी। 

 

आरोपी की पैरवी के लिए कोई वकील नहीं आया। एसीपी बिरम सिंह ने बताया कि आरोपी अशोक से रिमांड के दौरान वो चाकू बस के टूल बॉक्स से लाया था। पुलिस ने स्कूल ड्राइवर-कंडक्टर और टीचर्स को बुलाकर दोपहर में पूछताछ शुरू कर दी। इस दौरान पुलिस टीम में शामिल SI ने देखा कि अशोक परेशान है और उसकी हार्टबीट तेज थी। दूसरी ओर अन्य कर्मचारी तनाव में थे लेकिन सामान्य व्यवहार था। इसके बाद पुलिस ने अशोक पर ध्यान रखना शुरू कर दिया।

 

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.