भारतीय पहलवान का पहला दिन खराब, पहले ही दौर में हारे एफआईआर की प्रति अब मिलेगी ऑनलाईन, जानिए कैसे बूढादीत में स्थित प्राचीन सूर्य मंदिर को बनाया निशाना, आरोपियों को पकड़ा कैसे रूक पायेंगे रेल हादसे ? कपिल शर्मा ने सिद्धू के साथ मनमुटाव पर अपनी तोड़ी चुप्पी संदेश ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें बड़ी लीग में खेलना चाहिए: कांस्टेनटाइन काश कि रेल बजट तकनीक केन्द्रित होता राजस्थान ने लॉन्च की 'हैलो इंग्लिश प्रिमियम' एप, अंग्रेजी ज्ञान को बनाएगी बेहतर अतिक्रमण हटाने गए नगर परिषद के कर्मचारियों पर चले लात घूसे एटीपी रैंकिंग में एंडी मरे को पछाड़ नडाल टॉप पर "फिल्मों का बदलता ट्रेंड " सरकार ने बढ़ाई भीम कैशबैक योजना की अवधि, मार्च तक मिलेगा कैशबैक तीन तलाक मुद्दे पर कल सुप्रीम कोर्ट लेगा अहम फैसला मिताली राज का करारा जवाब, कहा- मैंने मैदान पर पसीना बहाया एक्सकेवेटर मशीन की चपेट में आने से गई मासूम की जान राष्ट्रपति ने किया लेह का दौरा, दिल्‍ली से बाहर उनकी प्रथम यात्रा इंडीज क्रिकेट बोर्ड ने दी पाक दौरे को मंजूरी, खेलेंगे T20 इंटरनेशनल मैच विपक्ष की एकता में मायावती ने डाली फुट, लालू की रैली में नहीं होगी शामिल बाइक सवार दो बदमाशों ने महज 57 सैकंड में उड़ाए 57 लाख गर्ल्स टॉयलेट में रिकॉर्डिंग के लिए छिपाया मोबाइल, कोई और नहीं बल्कि स्कूल का ही चौकीदार
छत्तीसगढ़ के गांवों में बनेंगे पौने छह लाख से अधिक मकान: डॉ. रमन सिंह
sanjeevnitoday.com | Wednesday, October 19, 2016 | 12:43:40 PM
1 of 1

रायपुर। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत छत्तीसगढ़ के ग्रामीण क्षेत्रों में तीन साल के भीतर पौने छह लाख से ज्यादा गरीब परिवारों को मकान बनवाकर दिए जाएंगे। इन मकानों के निर्माण में सात हजार 219 करोड़ रूपए की लागत आएगी। यह जानकारी मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की अध्यक्षता में  मंत्रालय में आयोजित प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) की समीक्षा बैठक में दी गई।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि ये मकान भूमिहीन और बेघर परिवारों सहित निःशक्तजनों और महिला मुखिया वाले परिवारों को प्राथमिकता के साथ दिए जाएंगे। डॉ. सिंह ने अधिकारियेां को इसके लिए आवश्यक कार्रवाई जल्द शुरू करने के निर्देश दिए। बैठक में पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री अजय चन्द्राकर और मुख्य सचिव विवेक ढांड सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। अधिकारियों ने बैठक में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गांवों में बनने वाले मकानों के मॉडल का पॉवर पाइंट प्रस्तुतिकरण भी दिया।


बैठक में बताया गया कि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में आगामी तीन साल में पौने छह लाख से ज्यादा परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ मिलेगा। उनके लिए 7219 करोड़ रूपए की लागत से पांच लाख 76 हजार मकान बनाने का लक्ष्य है। इसमें वित्तीय वर्ष 2016-17 में लगभग  22 सौ करोड़ रूपए की लागत से एक लाख 74 हजार मकान बनाए जाएंगे। इसी प्रकार वर्ष 2017-18 में  2390 करोड़ रूपए की लागत से एक लाख 91 हजार 530 मकानों का निर्माण और वर्ष 2018-19 में 2629 करोड़ की लागत से दो लाख 10 हजार 683 मकान बनाने का लक्ष्य रखा गया है। 

अधिकारियों ने बताया कि अनुसूचित क्षेत्रों में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत एक लाख 57 हजार रूपए और  सामान्य  क्षेत्रों में एक लाख 47 की लागत से मकान बनाएं  जाएंगे। बैठक में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव एम.के. राउत, आवास एवं पर्यावरण विभाग के प्रमुख सचिव अमन कुमार सिंह, सचिव जनसंपर्क  संतोष कुमार मिश्र, आवास एवं पर्यावरण विभाग के सचिव  संजय शुक्ला, नगरीय प्रशासन विभाग के विशेष सचिव डॉ. रोहित यादव, नया विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  रजत कुमार, रायपुर विकास प्राधीकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी महादेव कावरे सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...

यह भी पढ़े: दिलचस्प..! लड़कियां न्यूड होकर करती हैं तेज गाड़ियों की स्पीड को कंट्रोल…

यह भी पढ़े : खुशियां बाँट रही फीमेल डॉक्टर.. न्यूड होकर करती है इलाज, मरीजों की लगी रहती हैं लंबी कतार !

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.