वरुण धवन हुए निराश, नही मिला वोटर लिस्ट में नाम लौटना पड़ा बिना मतदान एक्ट्रैस श्रद्धा कपूर पहुंची वोट डालने, फोटो क्लिक करते फोटोग्राफर के साथ हुआ कुछ ऐसा... बन गए अल्ट्रामैन, 3 दिन में 517km दौड़ लगाकर रच डाला इतिहास मिलिंद सोमन ने ये खट्टी-मीठी बातें दिलाती है बड़ी बहन की याद..! यहां लुक नही है मायने, है एक-दूसरे से बिल्कुल अलग फिर भी है साथ, ऐसे है यह कपल..! 7वां वेतन आयोग: बढ़ेगा कर्मचारियों का महंगाई भत्ता और एचआरए..! यूपी चुनाव में सबसे खूबसूरत उम्मीदवार, जो है काफी चर्चा में, तस्वीरें वायरल यहां बीमारी से पीड़ित लोगों को किडनैप कर, उनकी बॉडी पार्ट्स से बनाई जाती हैं दवाइयां..! संभल मे दस वर्षीय मासूम के साथ दुष्कर्म, पुलिस मामला दबाने मे जुटी मुख्यमंत्री को जब स्कूली बच्चों ने ’शिक्षक’ बनकर पढ़ाया... ट्रेन से कटकर वृद्ध की मौत गोमती नदी में डूबा छात्र, हंगामा नोटबंदी राष्ट्रहित में एक बड़ा फैसला : मनोज सिन्हा संदिग्ध परिस्थितियों में विवाहिता की मौत, दहेज हत्या का आरोप शेयर बाजार में आई तेजी, सेंसेक्स में 100 अंकों का उछाल सपा-बसपा ने राजनीति में फैलाया कीचड़, अब खिलेगा कमल: राजनाथ मुख्यमंत्री के साथ दिव्यांग बच्चों ने साझा किए अपने बड़े सपने एक साल में 82000 धनाढ्यों ने छोड़ा देश पुलिस व सीआरपीएफ ने डकैत को दबोचा विजय माल्या को भारत लाने की मुहिम तेज
सीवर टैंक में गिरने से हुई मासूम बच्ची की मौत !
sanjeevnitoday.com | Wednesday, October 19, 2016 | 07:34:03 PM
1 of 1

दिल्ली। एक बड़े स्कूल के गंदे पानी के टैंक में गिर जाने से चार साल की मासूम बच्ची की दर्दनाक मौत हो गई। इस टैंक में पहले कई मवेशी भी गिर चुके हैं। हादसा उस वक्त हुआ जब किसी अन्य स्कूल में पढने वाली बच्ची अपने घर लौट रही थी। मामला दिल्ली के स्वरुप नगर इलाके का है। जहां सन्त सुजान सिंह इंटरनेशनल स्कूल और एक गुरुद्वारे से निकलने वाला गंदा पानी एक टैंक में जाता है। जो ऊपर से है अनकवर्ड है। स्कूल और गुरुद्वारे की चारदीवारी के बाहर बने इस गन्दे पानी के टैंक में एक स्कूल से लौट रही चार साल की मासूम बच्ची जा गिरी और उसकी मौत हो गई।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

बच्ची की पहचान नंदनी के तौर पर हुई है। उसके पिता ऑटो चलाते हैं। पीड़िता परिवार स्वरूप नगर थाना एरिया के कुशक गांव का रहने वाला है। जो कि सन्त सुजान सिंह इंटरनेशनल स्कूल के पास ही है। स्कूल की चारदीवारी में ही गुरुद्वारा बना हुआ है। स्कूल के बगल में खाली जमीन है। उसी में स्कूल और गुरुद्वारे के गन्दे पानी का टैंक बनाया गया है। जहां ये हादसा हुआ। गन्दे पानी का टैंक करीब बीस फ़ीट गहरा और पचास फ़ीट लम्बा है। टैंक की कोई चारदीवारी भी नहीं है और न ही वहां कोई तार की बाड़ है। यह ऊपर से भी पूरी तरह खुला हुआ है। हादसे के बाद गांव के लोग बड़े बांस लेकर आए तब इसकी गहराई पता चली।

नंदनी कुशक गांव के ही एक निजी स्कूल में नर्सरी की छात्रा थी। बच्ची को बचाने के लिए मां ने भी कोशिश की। वो टैंक में कूद गई लेकिन उसे तुरन्त बचा लिया गया। लेकिन बच्ची को निकालने में करीब पन्द्रह मिनट लग गए। तब तक बच्ची की मौत हो चुकी थी। स्थानीय लोगों का आरोप है कि स्कूल और गुरुद्वारे को इसके बारे में कई बार शिकायत की गई लेकिन कई साल से यह टैंक ऐसे ही खुला पड़ा है। आसपास बड़ी घास उग आने से टैंक दिखाई भी नहीं देता है। इसमें कई बार मवेशी भी गिर चुके हैं। पुलिस ने बच्ची के शव को कब्जे में लेकर पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया है। पूरे मामले की जांच की जा रही है।

यह भी पढ़े: खुद को वर्जिन बनाने के लिए महिलाएं अपना रही हैं ये तरीके...

यह भी पढ़े: यहां पर बुजुर्गो को चाहिए कम उम्र की कमसिन लड़कियाँ, जानिए वजह

यह भी पढ़े: जवान होने से पहले ही लड़कियों की जबरन शादी, और फिर..

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.