धोखाधड़ी कर 73 लाख रुपये हड़पे महिला विश्वकप 2017 : क्या मिताली राज की शेरनियां ला पायेगी विश्व कप? फिल्मों की दुनिया में आने के लिए करीना की 'जब वी मेट' ने किया आकर्षित: अनुष्‍का 30 किलो गांजे के साथ दो तस्करो को किया गिरफ्तार राशिफल : 23 जुलाई : कैसा रहेगा आपके लिए रविवार का दिन, जानने के लिए क्लिक करें देश और दुनिया के इतिहास के 23 जुलाई की महत्वपूर्ण घटनाएं युवक ने की महिला से छेड़छाड़, मामला दर्ज छेड़छाड़ की रिपोर्ट न लिखने पर इंस्पेक्टर के विरुद्ध मुकदमा दर्ज सफेद हाथी साबित हो रहा है औद्योगिक सुरक्षा एवं स्वास्थ्य निदेशालय स्वास्थ्य विभाग की देखरेख में हो बच्चों का टीकाकरण रामचंद्र चंद्रवंशी ने कहा- झारखंड राज्य को स्वास्थ्य के क्षेत्र में नंबर वन बनाएंगे समाज में संकुचित सोच ही नारी की सबसे बड़ी दुश्मन: गीता सहारण नागरिकों को खुद को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होने की जरूरत स्वास्थ्य विभाग ने तीन निजी अस्पतालों पर छापा मारा शांति मानवता का मुख्य धर्म व युवा देश की रीढ़ की हड्डी हैं स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर के खिलाफ लगाए मुर्दाबाद के नारे स्वास्थ्य विभाग ने फूड प्वाइज¨नग की आशंका जताई पाक ने सीमा पर फिर किया सीजफायर का उल्लंघन, 2 जवान शहीद वीडियो: योग टीचर पर कहर बनकर टुटा नारियल का पेड़, हुई मौत महिला हाॅकी विश्व लीग के सेमीफाइनल में पराजित होने के बाद भारत रही आठवें स्थान पर
आज सुप्रीम कोर्ट करेगा तय, शहाबुद्दीन को मिलेगा बिहार या जायेंगे तिहाड़ जेल
sanjeevnitoday.com | Tuesday, November 29, 2016 | 11:53:33 AM
1 of 1

पटना। बिहार के आरजेडी के बाहुबली नेता मोहम्म्द शहाबुद्दीन पर सुप्रीम कोर्ट सख्त होता जा रहा है। कोर्ट ने साफ पूछा है कि शहाबुद्दीन को क्यों न सीवान जेल से सीधा तिहाड़ ट्रांसफर कर दिया जाए? उसके सभी मामले भी दिल्ली ट्रांसफर हो सकते हैं। इन मामलों में आज सुप्रीम कोर्ट में अहम सुनवाई होनी है जिसके बाद तय हो जाएगा कि शहाबुद्दीन तिहाड़ जाएंगे या नही?

उनके खिलाफ चल रहे मुकदमों को चंदा बाबू के बेटे की हत्या के मामले की जांच सीबीआई से कराने, उन्हें दिल्ली की जेल में ट्रांसफर करने की मांग और शहाबुद्दीन पर बिहार की अदालतों में चल रहे विभिन्न केसों के गवाहों की सुरक्षा से संबंधित मामलों पर सुप्रीम कोर्ट एक साथ सुनवाई कर रहा है।

सुप्रीम कोर्ट ने राजद के पूर्व सांसद शहाबुद्दीन मामले में सुनवाई के दौरान सोमवार को टिप्पणी की कि हमारा हमेशा प्रयास रहता है कि आपराधिक मामलों में निष्पक्ष सुनवाई हो। शहाबुद्दीन का मामला गवाहों की सुरक्षा निष्पक्ष सुनवाई के सिद्धांत पर विचार के लिए एक टेस्ट केस की तरह है। यह टिप्पणी जस्टिस दीपक मिश्रा ने शहाबुद्दीन को सीवान जेल से दिल्ली की तिहाड़ जेल में शिफ्ट करने और उसके खिलाफ 45 अन्य मामलों से संबंधित याचिकाओं पर सुनवाई के दौरान की।

शहाबुद्दीन के वकील ने दर्ज करवाई आपत्ति
इस दौरान कोर्ट ने कहा कि क्यों शहाबुद्दीन को सीवान जेल से दिल्ली की तिहाड़ जेल में स्थानांतरित करने के साथ-साथ उसके सभी केसों की सुनवाई भी दिल्ली में स्थानांतरित कर दी जाए? इस पर शहाबुद्दीन के वकील ने आपत्ति जताते हुए कहा कि उस पर दर्ज सभी मामले राजनीति से प्रभावित और झूठे हैं। मीडिया ने उन्हें आपराधिक पृष्ठभूमि का साबित कर दिया है। ज्यादातर केस तो तब दर्ज किए गए जब वे जेल में थे। केसों को दिल्ली ट्रांसफर नहीं किया जाना चाहिए।

चंदा बाबू के वकील ने कहा- जेल में रहते हुए ही किया सब
इस पर याचिकाकर्ता चंदा बाबू की ओर से पेश वकील ने कहा कि जेल में रहते हुए ही उन्होंने यह सब किया। ऐसे में जेल से बाहर रहने पर वह बहुत कुछ कर सकते हैं। शहाबुद्दीन से बिहार की पुलिस इस कदर खौफजदा है कि उसने चंदाबाबू के तीसरे बेटे की हत्या में शहाबुद्दीन को नामजद तक नहीं किया है।

शहाबुद्दीन के खिलाफ गवाही देने वाले की हत्या कर दी जाती है। ऐसे में शहाबुद्दीन को केवल दिल्ली की तिहाड़ जेल में ट्रांसफर किया जाना चाहिए, बल्कि चंदा बाबू के तीसरे बेटे की हत्या के मामले में बिहार पुलिस द्वारा की गई जांच को दरकिनार कर सीबीआई को मामले की दोबारा से जांच के आदेश दिए जाने चाहिए।

इससे पहले सीबीआई की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता पीके डे और पी नरसिम्हन ने पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड मामले में स्टेटस रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट के समक्ष एक सीलबंद लिफाफे में पेश की।

यह भी पढ़े: ये खूबसूरत लड़किया- सड़क किनारे मिनी स्कर्ट में अपना बिजनेस चला रही हैं।

यह भी पढ़े: यहां लॉटरी जीतने के बाद, पैसों के बजाए मिलती हैं लड़कियां।

यह भी पढ़े: ये खूबसूरत लड़की बिना अंडरवियर के शोरूम में शॉपिंग करने पहुंची

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.