इस कुएं के अंदर से आती है रोशनी, जानिए रहस्य! लेवी की मांग को लेकर नक्सलियों का हंगामा, कई वाहनों को किया आग के हवाले सर्दियों में नाक बंद हो जाए, तो आजमाएं ये तरीके! पाकिस्तान: बलूचिस्तान में एक हमले में 4 मरे, 15 घायल LIVE: चेतेश्‍वर पुजारा ने जड़ा शतक, टीम का स्कोर पंहुचा 300 के करीब टीम इंडिया के बेहतरीन कप्तान बन सकते है ये 5 दिग्गज इस लड़की की खूबसूरती के लोग हो रहे दीवाने PoK पर दिए बयान पर पाक को गिलानी ने लिया आड़े हाथ, कहा-'तुम तो पानी भी हमारा पीते हो' इस्लामिक प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बलों के बीच झड़प, 100 से अधिक घायल शाहजहांपुर में वोट देने से इनकार करने पर जलाया महिला का घर, देखें वीडियो जीवन भर साथ निभाने वाले पति ने पत्नी को कर दिया दरिंदों के हवाले LIVE: मुरली विजय 128 रन पर आउट, भारत का स्कोर 250 के पार J&K : टेरिटोरियल आर्मी में तैनात जवान की अपहरण के बाद हत्या राजस्थान सरकार सामान्य वर्ग को दे सकती है बड़ी राहत, जानिए विवाद के चलते पत्नी की पीट-पीटकर कर दी हत्या पटना में बकरी के एक गिलास दूध की कीमत 100 से 150 रुपए, डेंगू से बचाता हैं ये देसी इलाज IND vs SL Live: मुरली विजय और चेतेश्‍वर पुजारा क्रीज पर, स्कोर-202/1 रानी मुखर्जी की इस जैकेट की प्राइस जानकर हैरान रह जाएंगे आप डंपर की टक्कर से बाइक चालक और 2 बच्चों की हुई मौत टीवी कपल गौतम -स्मृति की वेडिंग सेरेमनी में पत्नी के साथ पहुंचे शाहिद कपूर
बंगाल के रसगुल्ले को मिला भौगोलिक पहचान का टैग, ओडिशा पराजित
sanjeevnitoday.com | Tuesday, November 14, 2017 | 04:48:13 PM
1 of 1

नई दिल्ली। रसगुल्ले के नाम पर एकाधिकार को लेकर सालों से अदालती जंग लड़ रहे बंगाल को आखिरकार मुंह मीठा करने का मौका मिल गया है। काफी समय से 'रसगुल्ला' को लेकर ओडिशा और पश्चिम बंगाल के बीच विवाद चल रहा था, अब इस विवाद पर पूर्ण विराम लग गया है। मंगलवार को आए फैसले में रसगुल्ले की आधिकारिक पहचान पश्चिम बंगाल के नाम हो गई है, बंगाल को अब रसगुल्ले के लिए भौगोलिक पहचान (GI) टैग मिल गया है।

यह भी पढ़े:  वीडियो: सऊदी में फंसे इस युवक ने वीडियो जारी कर लगाई मदद की गुहार

आखिरकार अदालत ने बंगाल के पक्ष में फैसला सुनाते हुए कहा कि रसगुल्ले के नाम पर जीआई पंजीकरण पर बंगाल का हक है। यानी अब बंगाली सीना ठोक कर कह पाएंगे 'बंगाली रोसोगुल्ला'। इस बाबत पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी ट्वीट कर खुशी जताई, ममता ने ट्वीट किया कि सभी के लिए खुशी की खबर है। हम काफी खुश और गर्व महसूस कर रहे हैं कि बंगाल को रसगुल्ले की भौगोलिक पहचान का टैग मिल गया है। 

Lucknow, a rascal, marriage, dispute, procession लखनऊ, एक रसगुल्ले, शादी, विवाद, बारात


बता दे कि रसगुल्ले के अविष्कार को लेकर दोनों राज्य सालों से लड़ रहे थे, एक तरफ ओडिशा का कहना है कि सबसे पहले रसगुल्ला ओडिशा में बना जबकि पश्चिम बंगाल इसका अविष्कारक होने का दावा पेश कर रहा था। सालों तक चली जंग में अपना पक्ष पुख्ता करने के लिए दोनों राज्यों ने स्पेशल कमेटियां तक बिठा दी थी। दोनों ही पक्षों ने खुद को रसगुल्ले का पहला और निर्माता बताने के लिए काफी कोशिशें की और अंत में बंगाल की विजय हुई। 

यह भी पढ़े: गोरखपुर में अलगटपुर बांध टूटने से 4 जिलों में घुसा पानी देखिए VIDEO

ओडिशा में पहाल नामक स्थान के रसगुल्ले काफी फेमस है और यहां के रसगुल्लों पर जीआई पंजीकरण हासिल करने के लिए ओडिशा सरकार ने अनुमति मांगी थी। यहां के रसगुल्ले बंगाल भी जाते हैं। सांस्कृतिक इतिहासकार असित मोहंती के अनुसार, 'भगवान जगन्नाथ द्वारा मां लक्ष्मी को रथयात्रा के समापन के समय रसगुल्ला भेंट करने की परंपरा 300 साल पुरानी है, बंगाल तो खुद ही मान रहा है कि उसका रसगुल्ला 150 साल पुराना है।'

 

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.