संजीवनी टुडे

News

लंबी बीमारी के बाद स्वामी आत्मस्थानंद जी महाराज का निधन

Sanjeevni Today 19-06-2017 07:52:33

नई दिल्ली। लंबी बीमारी के बाद एक अस्पताल में रामकृष्ण मठ और मिशन के अध्यक्ष स्वामी आत्मस्थानंद जी महाराज का 98 वर्ष की आयु में निधन हो गया। आत्म आस्थानंद जी का फरवरी 2015 से ही आयु संबंधी बीमारियों का इलाज चल रहा था।

 

 उनके नेतृत्व में भारत, नेपाल और बांग्लादेश के विभिन्न हिस्सों में प्राकृतिक आपदा के दौरान बड़े राहत अभियान चलाए गए थे। रामकृष्ण मठ और रामकृष्ण मिशन, बेलूर मठ ने एक बयान में कहा कि बेहतर इलाज के बाद भी उनकी स्थिति पिछले कुछ सालों में गिरती गयी तथा उनका रामकृष्ण मिशन सेवा प्रतिष्ठान अस्पताल में शाम में साढे पांच बजे निधन हो गया। 

बयान के मुताबिक उनका अंतिम संस्कार कल रात साढ़े नौ बजे बेलूर मठ में किया जाएगा और बेलूर मठ के द्वार आज रात तथा कल उनके अंतिम संस्कार पूरा होने तक खुले रहेंगे। प्रधानमंत्री ने उनके निधन पर शोक जताते हुए इसे व्यक्तिगत नुकसान बताया। मोदी अपनी युवावस्था में संन्यासी बनने के लिए बेलूर मठ गए थे लेकिन उनके अनुरोध को मंजूर नहीं किया गया था और कहा गया था कि उनकी कहीं अन्य स्थान पर जरूरत है।


 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वामी आत्मस्थानंद महाराज के निधन पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने स्वामी के निधन को अपनी निजी क्षति बताया है। मोदी ने ट्विटर पर लिखा कि मैं अपनी जिंदगी के महत्वूपर्ण क्षण में उनके साथ रहा था। बाद में उन्हें राजकोट, गुजरात में स्वामी आत्म आस्थानंद का आध्यात्मिक मार्गदर्शन मिला। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी स्वामीजी के निधन पर शोक जताया है।

Watch Video

More From national

Recommended