सीएम को अचानक देख गदगद हुआ योगी परिवार, शादी की बधाई, गांव को विकास के लिए 10 करोड़ बांग्लादेश अदालत ने नारायणगंज हत्याकांड मामले में 26 लोगों को दी सजा-ए-मौत जवानों को खराब खाना संबंधी याचिका पर सुनवाई करेगा हाईकोर्ट ऑस्ट्रेलियन ओपन: मरे, निशिकोरी, वीनस और मुगुरुजा दूसरे दौर में आपरेशन मुस्कान के तहत राजस्थान की छह लड़कियां बरामद आग लगने की घटनाओं के प्रति 'जीरो टॉलरेंस' की नीति चाहती है सरकारः नड्डा 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' अभियान के लिए जिला झुंझुनू को राष्ट्रीय पुरस्कार राजा ठाकुर हत्याकांड के आरोपी की जमानत हाईकोर्ट से खारिज विधानसभा सत्र उपराज्यपाल के पद की गरिमा का अपमान: विजेंद्र गुप्ता सिख विरोधी दंगों पर चार हफ्ते में स्टेटस रिपोर्ट दे केंद्रःसुप्रीम कोर्ट गोवाः भाजपा ने उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ करने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई : रघुवर दास 'खुल्लम खुल्ला' की सफलता की दुआ मांगने तिरूपति पहुंचे ऋषि कपूर उप्रः भाजपा उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, 149 के नाम पर मुहर मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे के विरुद्ध मामला दर्ज दिल्ली विस का दो दिवसीय सत्र मंगलवार से, हंगामा के आसार भाजपा ने उत्तराखंड के लिए 64 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की सरकार की तीसरी वर्षगांठ पर 'अच्छा काम, ठोस परिणाम' विकास प्रदर्शनी हलफनामा न सौंपने पर चीफ जस्टिस नाराज, दस राज्यों के सचिव तलब नेताजी का चेहरा ही सपा की पहचान: अखिलेश
अरुण जेटली होंगे सुषमा स्वराज की जगह हार्ट ऑफ एशिया में प्रतिनिधि
sanjeevnitoday.com | Thursday, December 1, 2016 | 08:39:11 AM
1 of 1

नई दिल्ली। छठेहार्ट ऑफ एशिया सम्मेलन में भारत का प्रतिनिधित्व वित्त मंत्री अरुण जेटली करेंगे। यह सम्मेलन 3-4 दिसंबर को अमृतसर में होने वाला है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज बीमार होने के कारण शामिल नहीं हो सकेंगी। सम्मेलन का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी संयुक्त रूप से करेंगे। पाकिस्तान के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज इसमें शामिल होंगे। 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने बुधवार को बताया कि सम्मेलन में 40 देशों के प्रतिनिधि शामिल होंगे जिनमें आठ देशों के विदेश मंत्री हैं। सुषमा स्वराज पिछले साल दिसंबर में हुए पांचवें सम्मेलन में शामिल हुई थीं। भारत और अफगानिस्तान के प्रवक्ताओं ने बताया कि सम्मेलन में पाकिस्तान द्वारा फैलाए जा रहे आतंकवाद पर चर्चा होगी। शनिवार से शुरू हो रहे सम्मेलन में पाकिस्तान के खिलाफ कदम उठाने पर भी बात होगी। जिन देशों के प्रतिनिधि आएंगे उनमें चीन, अमेरिका, रूस, पाकिस्तान और ईरान भी शामिल हैं। यह सम्मेलन नगरोटा में सेना के बेस कैंप पर आतंकी हमले की छाया में हो रहा है। 

यह भी पढ़े : INTERVIEW देने गया था ये कपल लेकिन हुआ वो जो कर देगा हैरान, VIDEO
यह भी पढ़े : रॉल्स रॉयस जैसी 378 कारों का मालिक होते हुए भी यह ब्यक्ति करता है बाल काटने का काम..!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

यह भी पढ़े: दुनिया के सबसे ठंडे महाद्वीप में पानी नहीं बल्कि बहता है खून, छिपे हैं कई राज



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.