इस कुएं के अंदर से आती है रोशनी, जानिए रहस्य! लेवी की मांग को लेकर नक्सलियों का हंगामा, कई वाहनों को किया आग के हवाले सर्दियों में नाक बंद हो जाए, तो आजमाएं ये तरीके! पाकिस्तान: बलूचिस्तान में एक हमले में 4 मरे, 15 घायल LIVE: चेतेश्‍वर पुजारा ने जड़ा शतक, टीम का स्कोर पंहुचा 300 के करीब टीम इंडिया के बेहतरीन कप्तान बन सकते है ये 5 दिग्गज इस लड़की की खूबसूरती के लोग हो रहे दीवाने PoK पर दिए बयान पर पाक को गिलानी ने लिया आड़े हाथ, कहा-'तुम तो पानी भी हमारा पीते हो' इस्लामिक प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बलों के बीच झड़प, 100 से अधिक घायल शाहजहांपुर में वोट देने से इनकार करने पर जलाया महिला का घर, देखें वीडियो जीवन भर साथ निभाने वाले पति ने पत्नी को कर दिया दरिंदों के हवाले LIVE: मुरली विजय 128 रन पर आउट, भारत का स्कोर 250 के पार J&K : टेरिटोरियल आर्मी में तैनात जवान की अपहरण के बाद हत्या राजस्थान सरकार सामान्य वर्ग को दे सकती है बड़ी राहत, जानिए विवाद के चलते पत्नी की पीट-पीटकर कर दी हत्या पटना में बकरी के एक गिलास दूध की कीमत 100 से 150 रुपए, डेंगू से बचाता हैं ये देसी इलाज IND vs SL Live: मुरली विजय और चेतेश्‍वर पुजारा क्रीज पर, स्कोर-202/1 रानी मुखर्जी की इस जैकेट की प्राइस जानकर हैरान रह जाएंगे आप डंपर की टक्कर से बाइक चालक और 2 बच्चों की हुई मौत टीवी कपल गौतम -स्मृति की वेडिंग सेरेमनी में पत्नी के साथ पहुंचे शाहिद कपूर
सुप्रीम कोर्ट ने आधार को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई करने से किया इनकार
sanjeevnitoday.com | Friday, November 10, 2017 | 11:58:37 PM
1 of 1

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने बैंक खातों को आधार से लिंक करने के खिलाफ दायर तृणमूल कांग्रेस की विधायक महुआ मोइत्रा की याचिका पर सुनवाई करने से मना कर दिया। शीर्ष अदालत ने कहा कि आधार को चुनौती देने वाली कई याचिकाएं उसके पास पहले से ही लंबित हैं। ऐसे में इसी तरह के मुद्दे पर हजारों याचिकाओं को स्वीकार नहीं किया जा सकता है।

जस्टिस एके सीकरी और जस्टिस अशोक भूषण की पीठ ने शुक्रवार को कहा, 'एक ही मुद्दे पर हम क्यों हजारों याचिकाओं पर विचार करें। दूसरी याचिकाओं में यही मुद्दा उठाया जा चुका है। हम आपको इस मुद्दे को संविधान पीठ के सामने उठाने की इजाजत देते हैं।'

यह भी पढ़े: वीडियो : VIDEO : कार सहित बहे आयुष का शव 7 दिन बाद नाले में हुआ बरामद

इस मुद्दे पर संविधान पीठ इस महीने के आखिरी सप्ताह में सुनवाई करेगी। भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआइडीएआइ) के वकील जेहेब हुसैन ने पीठ से कहा कि शीर्ष अदालत की संविधान पीठ के सामने आधार से संबंधित 27 याचिकाएं पहले से ही लंबित हैं।

शीर्ष अदालत का पूर्व आदेश तीन नवंबर को शीर्ष अदालत ने स्पष्ट किया था कि बैंक और टेलीकाम सेवा प्रदाता बैंक खाता और मोबाइल नंबरों को आधार से जोड़ने की अंतिम तिथि की सूचना ग्राहकों को देंगे।

यह भी पढ़े: वीडियो : दुष्कर्म पीडिता ने की न्याय की गुहार

आधार अधिनियम को चुनौती देने वाली याचिका पर शीर्ष अदालत ने अभी अंतरिम आदेश नहीं दिया है। वर्तमान में बैंक खातों को आधार से जोड़ने की अंतिम तिथि 31 दिसंबर है जबकि मोबाइल नंबरों के लिए छह फरवरी 2018 निर्धारित है।

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे ! 

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.