नागिन 2 की एक्ट्रेस आशका गोराडिया- ब्रेंट गोबले की शादी की डेट आउट हरमनप्रीत को सचिन की मदद से डायना ने दिलाई प. रेलवे में नौकरी अब रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर धारक बनेगे करोड़पति अनोखा गांव: यहां प्लास्टिक की बोतलों से बने हुए है घर! अनुष्का शर्मा ने कहा, मुझे बॉलीवुड में भाई-भतीजावाद जैसी किसी चीज का सामना नहीं करना पड़ा लालू-राबड़ी को नहीं मिलेगी अब पटना एयरपोर्ट पर वीवीआईपी सुरक्षा SLC प्रेसिडेंट इलेवन का प्रैक्टिस मैच ड्रॉ, कोहली-राहुल ने ठोके अर्धशतक अनोखा होटल: यहां मरे हुए लोगों को दी जाती है ये खास सुविधाएं भाभी संग मिलकर पति ने पत्नी को जिन्दा जलाया इस औरत के शौक के बारें में जानकर आप भी रह जाएंगे हैरान! BCCI का भारतीय महिला टीम को तोहफा, देंगे 50-50 लाख करीना कपूर के मस्तमौला किरदार ने अनुष्‍का को किया प्रेरित ग्राहकों को कैशबैक में सोना देगा Paytm आज राहुल संग मीटिंग और मोदी संग डिनर करेंगे नितीश चिकन मोमोज़ में मिलाया जा रहा है कुत्ते का मांस राजस्थान के भाजपा सांसद सांवरमल जाट की अमित शाह की मीटिंग के दौरान बिगड़ी तबीयत देखिए VIDEO OMG: इन जुड़वां बेटियों की मां तो एक ही है पर पिता... फॉर्च्‍यून 2017 की टॉप-500 ग्‍लोबल कंपनियों की लिस्‍ट जारी मिताली-वेदा ने हरमनप्रीत की पारी देखकर किया डांस, कैमरा देख शरमाई एक ऐसी जेल, जहां जाने से थर-थर कांपते थे कैदी!
सिंधी भाषा और संस्कृति से युवाओं को जोड़ने के लिए बनेगी वेबसाईट: वासुदेव देवनानी
sanjeevnitoday.com | Sunday, July 16, 2017 | 10:46:22 PM
1 of 1

जयपुर। शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा है कि सूचना और संचार प्रौद्योगिकी के जरिए देश में सिंधी भाषा और सिंधी संस्कृति से युवाओं को जोड़ने का कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ‘नेशनल कॉउन्सिल फॉर प्रमोशन ऑफ सिंधी लैंग्वेज’ द्वारा जल्द ही सिंधी संस्कृति से संबद्ध राष्ट्रीय स्तर पर एक वेबसाईट बनाई जाएगी। इसमें सिंधी भाषा के माधुर्य और सिंध के गौरव से जुड़े इतिहास से संबंधित महत्वपूर्ण सामग्री डाली जाएगी और निरंतर इसे अपडेट भी किया जाएगा।

देवनानी ने बैंग्लोर में मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार के अधीन कार्यरत ‘नेशनल कॉउन्सिल फॉर प्रमोशन ऑफ सिंधी लैंग्वेज’ द्वारा आयोजित ‘सिंधी संस्कृति के संवद्र्धन में युवाओं की भूमिका’ विषयक राष्ट्रीय सेमिनार के मुख्य अतिथि के रूप में यह बात कही। ज्ञात रहे, देवनानी ‘नेशनल कॉउन्सिल फॉर प्रमोशन ऑफ सिंधी लैंग्वेज’ के राष्ट्रीय सदस्य हैं। उन्हाेंने कहा कि सिंधी भाषा और संस्कृति से युवाओं को जोड़े जाने के लिए परिषद् देशभर में विभिन्न आयोजन करेगी। उन्होंने महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय, अजमेर स्थित सिंधी शोध पीठ के अंतर्गत किए जाने वाले महत्वपूर्ण शोध कार्यों को देशभर के युवाओं में प्रसारित करने के लिए भी कार्य करने की बात कही।

देवनानी ने कहा कि युवाओं को सिंधी भाषा और सिंध की संस्कृति के गौरवमयी इतिहास से अवगत कराने के लिए किए जाने वाले प्रयासों का मकसद यही है कि युवापीढ़ी को अपने अतीत पर गर्व हो। उन्होंने कहा कि सिंधी में प्रकाशित साहित्य और शोधपरक दूसरी सामग्री को हिंदी एवं अंग्रेजी में अनुवाद के जरिए व्यापक पाठक वर्ग तक पहुंचाने के लिए भी सभी स्तरों पर प्रयास किया जाएगा।

शिक्षा राज्य मंत्री ने कहा कि कोई भी समाज तभी समृद्ध और संपन्न हो सकता है जब वह अपनी जड़ों से जुड़ा रहे। उन्होंने कहा कि सिंधी भाषा नहीं बल्कि भारतीय संस्कृति है। नई पीढ़ी इसके महत्व को समझे तथा अपनी संस्कृति की जड़ों को सदा हरा रखे। ‘नेशनल कॉउन्सिल फॉर प्रमोशन ऑफ सिंधी लैंग्वेज’ के निदेशक डॉ. रवि टेकचन्दानी ने बताया कि सिंधी भाषा और संस्कृति से युवाओं को जोड़े जाने के लिए परिषद् देशभर में विभिन्न आयोजन करेगी।

हेमु कालानी के के चित्र का अनावरण : 

देवनानी ने संगोष्ठी में शहीद हेमू कालानी के चित्र का अनावरण भी किया। उन्होंने कहा कि हेमु कालानी सहित राजस्थान की पाठ्य पुस्तकों में 250 से अधिक शहीदों, वीर-वीरांगनाओं, महापुरूषों के पाठ जोड़े गए हैं। उद्देश्य यही है कि युवा पीढ़ी उनके जीवन से प्रेरणा ले सके।

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.