रेसिपी: इस प्रकार बनाएं स्वादिष्ट मैकरोनी कन्‍नौज में दूल्‍हा-दुल्‍हन ने थाने में रचाई शादी, खाईं सात जन्‍मों की कसमें, देखें वीडियो रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ता हैं पपीता, जानिए पद्मावती विरोध: किले में शव मिलने से बॉलीवुड में मचा हड़कंप, जानिए पूरा मामला मिस्र: हिंसक आतंकी हमले में 155 मरे, सैंकड़ों घायल ‘मॉनसून शूटआउट’ का नया गाना ‘अंधेरी रात’ में दिया हुआ रिलीज़ THE फैक्ट्री कार्नर ने मनाया बालदिवस कई खतरनाक बीमारियों को दूर भगाता है अमरूद, जानिए अभिनेत्री नमिता ने फिल्म निर्माता वीरेंद्र चौधरी संग रचाई शादी DSP ने शादी का झांसा देकर महिला कांस्टेबल से बनाए शारीरिक सम्बन्ध सुस्त मांग से सोने में गिरावट, चांदी स्थिर मिनटों में निखरी और बेदाग त्वचा पाने के लिए दही का करें इस्तेमाल JIO का ऐलान, कल से बंद हो जायेगी ये सर्विस मिस्र के उत्तरी प्रांत में चरमपंथियों का हमला, 85 लोगो की मौत, 80 घायल ईरान: 4.3 की तीव्रता से आया भूकंप, 35 घायल दिल्ली के न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में चलती बस में युवक की चाकू मारकर की हत्या अब इन दोनों कपल का हुआ ब्रेकअप, 4 सालों से कर रहे थे डेट ईरान के पश्चिमी प्रांत में भूकंप के झटके, 36 लोग घायल क्या नोटबंदी के समय किसी सूटवाले को लाइन में देखा था: राहुल गांधी RSS प्रमुख मोहन भागवत का बड़ा बयान, कहा- अयोध्या में राम मंदिर बनेगा इसके अलावा कुछ नहीं
सिंधी भाषा और संस्कृति से युवाओं को जोड़ने के लिए बनेगी वेबसाईट: वासुदेव देवनानी
sanjeevnitoday.com | Sunday, July 16, 2017 | 10:46:22 PM
1 of 1

जयपुर। शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा है कि सूचना और संचार प्रौद्योगिकी के जरिए देश में सिंधी भाषा और सिंधी संस्कृति से युवाओं को जोड़ने का कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ‘नेशनल कॉउन्सिल फॉर प्रमोशन ऑफ सिंधी लैंग्वेज’ द्वारा जल्द ही सिंधी संस्कृति से संबद्ध राष्ट्रीय स्तर पर एक वेबसाईट बनाई जाएगी। इसमें सिंधी भाषा के माधुर्य और सिंध के गौरव से जुड़े इतिहास से संबंधित महत्वपूर्ण सामग्री डाली जाएगी और निरंतर इसे अपडेट भी किया जाएगा।

देवनानी ने बैंग्लोर में मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार के अधीन कार्यरत ‘नेशनल कॉउन्सिल फॉर प्रमोशन ऑफ सिंधी लैंग्वेज’ द्वारा आयोजित ‘सिंधी संस्कृति के संवद्र्धन में युवाओं की भूमिका’ विषयक राष्ट्रीय सेमिनार के मुख्य अतिथि के रूप में यह बात कही। ज्ञात रहे, देवनानी ‘नेशनल कॉउन्सिल फॉर प्रमोशन ऑफ सिंधी लैंग्वेज’ के राष्ट्रीय सदस्य हैं। उन्हाेंने कहा कि सिंधी भाषा और संस्कृति से युवाओं को जोड़े जाने के लिए परिषद् देशभर में विभिन्न आयोजन करेगी। उन्होंने महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय, अजमेर स्थित सिंधी शोध पीठ के अंतर्गत किए जाने वाले महत्वपूर्ण शोध कार्यों को देशभर के युवाओं में प्रसारित करने के लिए भी कार्य करने की बात कही।

देवनानी ने कहा कि युवाओं को सिंधी भाषा और सिंध की संस्कृति के गौरवमयी इतिहास से अवगत कराने के लिए किए जाने वाले प्रयासों का मकसद यही है कि युवापीढ़ी को अपने अतीत पर गर्व हो। उन्होंने कहा कि सिंधी में प्रकाशित साहित्य और शोधपरक दूसरी सामग्री को हिंदी एवं अंग्रेजी में अनुवाद के जरिए व्यापक पाठक वर्ग तक पहुंचाने के लिए भी सभी स्तरों पर प्रयास किया जाएगा।

शिक्षा राज्य मंत्री ने कहा कि कोई भी समाज तभी समृद्ध और संपन्न हो सकता है जब वह अपनी जड़ों से जुड़ा रहे। उन्होंने कहा कि सिंधी भाषा नहीं बल्कि भारतीय संस्कृति है। नई पीढ़ी इसके महत्व को समझे तथा अपनी संस्कृति की जड़ों को सदा हरा रखे। ‘नेशनल कॉउन्सिल फॉर प्रमोशन ऑफ सिंधी लैंग्वेज’ के निदेशक डॉ. रवि टेकचन्दानी ने बताया कि सिंधी भाषा और संस्कृति से युवाओं को जोड़े जाने के लिए परिषद् देशभर में विभिन्न आयोजन करेगी।

हेमु कालानी के के चित्र का अनावरण : 

देवनानी ने संगोष्ठी में शहीद हेमू कालानी के चित्र का अनावरण भी किया। उन्होंने कहा कि हेमु कालानी सहित राजस्थान की पाठ्य पुस्तकों में 250 से अधिक शहीदों, वीर-वीरांगनाओं, महापुरूषों के पाठ जोड़े गए हैं। उद्देश्य यही है कि युवा पीढ़ी उनके जीवन से प्रेरणा ले सके।

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.