संजीवनी टुडे

News

शहीद SHO फिरोज अहमद के इस फेसबुक पोस्ट को पढ़कर हो जाएंगे भावुक

Sanjeevni Today 18-06-2017 07:55:29

जम्मू-कश्मीर। अनंतनाग के अच्छेबल इलाके में लश्कर आतंकियों की हमले में शहीद SHO फिरोज़ अहमद दार (32) शुक्रवार की रात सुपर्ड-ए-खाक किया गया।  डार के परिवार और मित्र जब उनकी अंतिम यात्रा की तैयारी कर रहे थे, डार द्वारा 18 जनवरी 2013 को लिखे गए शब्द सभी को याद आ रहे थे।उन्होंने लिखा था, 'क्या आपने एक पल के लिए भी रुककर स्वयं से सवाल किया कि मेरी कब्र में मेरे साथ पहली रात को क्या होगा? उस पल के बारे में सोचना जब तुम्हारे शव को नहलाया जा रहा होगा और तुम्हारी कब्र तैयार की जा रही होगी।

 

 

डर ने लिखा, क्या तुमने कभी स्वयं से प्रश्न किया कि मेरी कब्र में मेरी पहली रात को क्या हो उस पल के बारे में सोचना जब तुम्हारी शव को नहलाया जा रहा था और आपकी कब्र तैयार हो रही है उस पल के बारे में सोचो जब आप कब्र में डाला जा रहा होगा। शहीद डार का पार्थिव शरीर जब उनके पैतृक गांव डोगरीपोरा पहुंचा उनकी बेटियों छह साल की अदाह और दो साल की सिमरन को समझ ही नहीं आ रहा था कि उनके घर के बाहर लोग क्यों जमा हैं।

Watch Video

More From national

Recommended