Railway crossing पर ट्रैक्टर से टकराई शताब्दी एक्सप्रेस, ट्रैक्टर चालक घायल VIDEO : सपना को टक्कर देने वाली हर्षिता दहिया की गोली मारकर की हत्या Salesgirls के मोबाइल फोन से चुराए फोटो-वीडियो, फिर करने लगा Blackmail विशेष लेख : हिन्दू संस्कृति, दीपावली और पटाखे वीडियो: इस लड़की के हॉट डांस को देख आप भी हो जाएंगे दीवाने एथलेटिक बिलबाओ का सान मेमेस है दुनिया का सबसे बेहतरीन स्टेडियम, देखें तस्वीरें पहली बार सौतेले बेटे सनी को लेकर हेमा मालिनी ने दिया ये बयान वीडियो: पुलिस थाने में ही दम्पत्ति के बीच हुआ झगड़ा 14 नवंबर को दाऊद इब्राहिम की प्रॉपर्टी नीलाम करेगी मोदी सरकार जावेद अख्तर ने सोम पर कसा तंज, कहा- क्या कोई उन्हें छठी कक्षा की इतिहास की किताब देगा? भाजपा सांसद कुंवर सर्वेश कुमार की कोठी से 22 लाख की हुई चोरी मैं जल्दी में नोटबंदी को सपोर्ट करने के लिए जनता से माफी मांगता हूं: कमल हासन B'day Special: ओम पुरी के जन्मदिन पर जानिए इनसे जुडी कुछ खास बातें 100 करोड़ से ज्यादा धनराशि से सजा मां महालक्ष्मी का ये दरबार पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने ममता बनर्जी को बताया 'जन्मजात विद्रोही' First Look: सलमान ने दिवाली के मौके पर फैंस को दिया ये खास तोहफा खेत में धान की बाली बीनने गई किशोरी हुई हैवानियत का शिकार J&K: पाक सेना ने फिर शुरू की गोलीबारी, आठ नागरिक घायल युवराज सिंह और उनके परिवार के खिलाफ घरेलू हिंसा का मुकदमा दर्ज 7वां वेतनमान लागू: कर्मचारियों के वेतन में 14% और बेसिक में 32% का इजाफा
सीरियल बम ब्लास्ट : 21 साल बाद पीड़ित को मिला न्याय,कल सुनाई जाएगी आरोपी को सजा
sanjeevnitoday.com | Monday, October 9, 2017 | 10:09:45 PM
1 of 1

नई दिल्ली।  आप को बता दे 21 साल पहले शहर में हुए सीरियल बम ब्लास्ट ने शहर को हिला कर रख दिया था। शहर में 28 दिसंबर 1996 को शहर में दो स्थानों पर बम ब्लास्ट हुए थे। इस मामले मे आतंकी अब्दुल करीम टुंडा को न्यायालय ने दोषी करार दिया है। मामले की सुनवाई अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश डॉ सुशील गर्ग की अदालत में चल रही है। उसे मंगलवार को सजा सुनाई जाएगी।

यह भी पढ़े: अनोखी मिसाल: किसान ने किया अपने भैंसे का श्राद्ध

ब्लास्ट में घायल हुए इंदिरा कॉलोनी निवासी सज्जन सिंह के बयान पर पुलिस ने मामला दर्ज किया था। पुलिस ने मामले में गाजियाबाद निवासी अब्दुल करीम टुंडा व उसके दो साथियों उत्तर प्रदेश के पिलखुवा निवासी शकील अहमद और दिल्ली के तेलीवाड़ा क्षेत्र निवासी मोहम्मद आमिर खान उर्फ कामरान को नामजद किया था। पुलिस ने शकील और कामरान को वर्ष 1998 में गिरफ्तार कर लिया था, लेकिन टुंडा घटना के बाद फरार हो गया था। सोनीपत अदालत ने आतंकी अब्दुल करीम उर्फ टुंडा के खिलाफ 307 (हत्या का प्रयास), 120बी (षड्यंत्र रचना) व 3,4 एक्सपलोजिव एक्ट (बम ब्लास्ट करना) के मामले में दोषी करार दिया है। इस मामले में सात साल से लेकर उम्रकैद की सजा हो सकती है।

यह भी पढ़े: जब 5 सालों तक मां की लाश के साथ सोती रही बेटी

फिलहाल टुंडा को सोनीपत के जिला कारागार में रखा गया है। इस मामले में दो आरोपियों को कोर्ट ने पूर्व में ही सुबूतों के अभाव में बरी कर दिया था। पुलिस ने मामले में पिलखुवा, गाजियाबाद निवासी अब्दुल करीम टुंडा व उसके साथी पिलखुवा के ही शकील अहमद और दिल्ली के तेलीवाड़ा क्षेत्र निवासी मोहम्मद आमिर खान उर्फ कामरान को नामजद किया था। दिल्ली पुलिस ने टुंडा को अगस्त 2013 में नेपाल की सीमा से गिरफ्तार किया था। टुंडा ने कोर्ट में खुद आंतकियों से कनेक्शन की बात कबूली है। पाकिस्तान में बैठे आतंकियों के संपर्क से हरियाणा के कई स्थानों पर ब्लास्ट की बात भी स्वीकार की है। आतंकी को दोषी करार दिया गया है। पीड़ितों ने भी मामले में संघर्ष किया है।

 

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188

 



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.